Author Topic: Idioms Of Uttarakhand - उत्तराखण्डी (कुमाऊँनी एवं गढ़वाली) मुहावरे  (Read 159762 times)

Dinesh Bijalwan

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 305
  • Karma: +13/-0
इस्का एक पर्यायवाची  मैने भी बना डाला राजन भाई

अफ्वी फौजी अफ्वी कमानडर

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
" पितरो करी नातर कै लागो "

मतलब :  पितरो का किया पुण्य, उनके आने वाली कई पीड़ीयो के फलदायक होती है ![/size][/b]

हेम पन्त

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 4,326
  • Karma: +44/-1
अनाला कि चोट कनाला पङनु
(अनुवाद-यहां की चोट वहां पङना)

मतलब - किसी काम का अप्रत्याशित परिणाम निकलना

हलिया

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 717
  • Karma: +12/-0
चेली थैं कूनो, ब्वारी थैं सुणौनो | 

d c Bhatt

  • Newbie
  • *
  • Posts: 16
  • Karma: +1/-0
कुछ मुहावरे याद आ रहे है!
"जैकी जो न उक को न"
"की शोकेली खया की रोगेली खया"
"खोदा पाहार निकला चूहा"
धीरेन्द्र भट्ट

MR. M.S. NEGI

  • Newbie
  • *
  • Posts: 14
  • Karma: +1/-0
Mehta Ji namaskaar, and namaskaar to all the mambers of MERA PAHAR FORUM. I  am verry happy to see this forum about our uttarakhand and want be part of this forum.

M.S. NEGI

Lalit Mohan Pandey

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 254
  • Karma: +7/-0
जैको को नै, उको भगवान. (जिसका कोए नही होता उसका भगवान होता है)

एकली परानी जा टोपिरयो  (अकेला आदमी कही भी चल पड़े)

Dinesh Bijalwan

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 305
  • Karma: +13/-0
ग्वैर छोरा की पान्त दूर दूर गै, ग्वैर छोरा रोन्दू रोन्दू गै- जब काम आसन हो तब न करना और जब मुस्किल हो जाए तब रो पीट कर मज बूरी मे करना

Dinesh Bijalwan

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 305
  • Karma: +13/-0
मेड्खा चन्दन लाणो-  मेढ्क को चन्दन लगाना- मुस्किल किन्तु महत्वहीन कार्य करना

हेम पन्त

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 4,326
  • Karma: +44/-1
तलि पेट को पानि हलकनु

(किसी काम को लेकर व्यर्थ की चिन्ता करना)

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22