Author Topic: National & International Player From Uttarakhand - उत्तराखंड के प्रसिद्ध खिलाडी  (Read 27053 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
जबड़ा फटा पर जज्बे ने दिलाई जीत- हरिदत्त कापड़ी - पिथौरागढ़ थाईलैंड के खिलाफ मैच में जख्मी होने के बावजूद खेलकर टीम को जीत दिलाने वाले अर्जुन अवार्डी हरिदत्त कापड़ी खेल के प्रति समर्पित हैं।

अपने अनुभव की साझा किए
सेना के इस जांबाज में जज्बा, जोश और जनून की झलक आज भी दिखाई देती है। रिटायर होकर कापड़ी ने पहाड़ में बास्केटबॉल जैसे अंजान खेल को अलग पहचान दिलाई।

‘अमर उजाला’ से विशेष बातचीत में 73 वर्षीय हरिदत्त कापड़ी ने लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड मिलने पर खुशी जताई और अपने अनुभव की साझा किए।

पिथौरागढ़ के भाटकोट रोड से फोन पर बातचीत में कापड़ी ने बताया कि 14 साल की उम्र में ब्वॉयज कंपनी में भर्ती होकर खेलना शुरू किया। 1969 एशियन गेम्स की याद ताजा करते हुए बताया कि बैंकाक में तब गेम्स हुए। भारतीय टीम चौथे स्थान पर रही। एक मैच हमेशा याद रहेगा। थाईलैंड के खिलाफ एक मैच में हम बढ़त बनाए हुए थे।

गेंद को छीनने की कोशिश में विपक्षी खिलाड़ी ने कोहनी से मुंह पर वार किया, उनका पूरा जबड़ा हिल गया। जमीन पर गिर ए। स्ट्रेचर पर बाहर लाकर डॉक्टरों ने इलाज दिया। स्थिति बहुत बुरी थी, इसलिए टीम मैनेजर और कोच ने खेलने से मना कर दिया।

बकौल कापड़ी, मैं अपनी जिद से मैदान में गया और आखिर में छह अंक के अंतर से हम जीते। मैच के बाद मेरे जबड़े में सात टांके लगे। यही जज्बा था कि 1969 में भारत सरकार ने उन्हें अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया।

खेल विभाग में संविदा कोच भी रहे
हरिदत्त कापड़ी 1965 में भारतीय सर्विसेज बास्केटबॉल टीम के कप्तान रहे। बंगाल इंजीनियरिंग से रिटायर होने के बाद उन्होंने 1985 से 2003 तक बिड़ला विद्या मंदिर नैनीताल में कोच के तौर पर काम किया। चार साल तक कापड़ी खेल विभाग पिथौरागढ़ में संविदा कोच के रूप में भी जुड़े रहे।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
महेंद्र सिंह धोनी : टीम इंडिया के सबसे कामयाब कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी का भी उत्तराखंड से गहरा नाता है। धोनी मूल रूप से अल्मोड़ा जिले में लावली गांव के रहने वाले हैं। धोनी की बल्लेबाजी और खासकर कप्तानी के दुनियाभर के क्रिकेट प्रशंसक और जानकार कायल हैं। अपने शांत स्वभाव के लिए उन्हें कैप्टन कूल भी कहा जाता है।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
मनीष पांडे : मूल रूप से बागेश्वर जिले के रहने वाले मनीष पांडे को श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए चुना गया है। इससे पहले मनीष आईपीएल में भी शानदार प्रदर्शन से अपना लोहा मनवा चुके हैं। 2009 में मनीष पहले भारतीय खिलाड़ी बने जिन्होंने आईपीएल में शतक जड़ा। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे मुकाबले में पांडे ने नाबाद शतक लगाकर भारत को जीत दिलाई थी।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
उन्मुक्त चंद : कुमाऊं के लाल उन्मुक्त चंद ने अपनी बल्लेबाजी से थोड़े ही समय में काफी फैन जुटा लिए थे। उन्मुक्त चंद ने अंडर-19 विश्वकप 2012 में भारतीय टीम की कप्तानी की थी और भारत को शानदार जीत दिलाई थी। साथ ही उंमुक्त आईपीएल में मुंबई इंडियन्स के लिए भी खेल चुके हैं।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
ऋषभ पंत : हाल ही में हरिद्वार जिले के रुड़की के रहने वाले ऋषभ पंत ने अंडर-19 विश्व कप में नेपाल के खिलाफ सिर्फ 24 गेंदों में 78 रन बनाकर भारत को जीत दिलाई। इसी मैच में ऋषभ ने अंडर-19 में सबसे तेज 18 गेंदों में 50 रन बनाकर रिकॉर्ड अपने नाम किया। अच्छी बात ये है कि ऋषभ भी उत्तराखंड मूल के ही टीम इंडिया कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तरह ही विकेटकीपर हैं और उन्हीं की तरह विस्फोटक बल्लेबाजी करते हैं।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
पवन नेगी : भारतीय टीम में पवन नेगी को ऑलराउंडर के तौर पर देखा जाता है, जिसका फायदा उनको मिला और उनका श्रीलंका के खिलाफ खेले जाने वाले टी20 मैचों के लिए चयन हुआ है। पवन नेगी अल्मोड़ा जिले के रानीखेत के रहने वाले हैं।

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22