Recent Posts

Pages: [1] 2 3 4 5 ... 10
1
चार आखरों की माया


चार आखरों की माया च
वा बाटो हेरदा.... हेरदा थकि जालि
जिकुड़ी ते बुते ..... बुते ...वा
राति -बै-राति जगै-सुलै -रुवै सरि जालि

पैल भंडया विन धीर देन
वे बाद विन अधीर कैन
क्या क्या छिन-बिन- विन कैन
घर-बार दुनियादारी सबि क्षीण वैन
चार आखरों की माया च ....

बुद्धी बोनी बौल्या रे तू
विल अबि परति कि कबि नि ऐण
विं ते मिलगै औरी गैण
जिकोड़िळ तबै बि विंकी फिकर कैन
चार आखरों की माया च ....

हैरि जाळु अफि से ज्ब
यकूल रै जाळु जग्वाळ कनू
भैर से भीतर देखिले अफि
जंतर मंतर सबि देखि जाळू
चार आखरों की माया च ....

यन उन हताश होळू अफि से तू
अफि अफ मा तू बिरडी जाळू
सूद-बुध ख्वै जाली ते से अफि
चार आखरों की माया तू पै जालि
चार आखरों की माया च

© बालकृष्ण डी. ध्यानी
https://dhyani1971.blogspot.com/2023/01/blog-post_71.html
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
2
चार आखरों की माया


चार आखरों की माया च
वा बाटो हेरदा.... हेरदा थकि जालि
जिकुड़ी ते बुते ..... बुते ...वा
राति -बै-राति जगै-सुलै -रुवै सरि जालि

पैल भंडया विन धीर देन
वे बाद विन अधीर कैन
क्या क्या छिन-बिन- विन कैन
घर-बार दुनियादारी सबि क्षीण वैन
चार आखरों की माया च ....

बुद्धी बोनी बौल्या रे तू
विल अबि परति कि कबि नि ऐण
विं ते मिलगै औरी गैण
जिकोड़िळ तबै बि विंकी फिकर कैन
चार आखरों की माया च ....

हैरि जाळु अफि से ज्ब
यकूल रै जाळु जग्वाळ कनू
भैर से भीतर देखिले अफि
जंतर मंतर सबि देखि जाळू
चार आखरों की माया च ....

यन उन हताश होळू अफि से तू
अफि अफ मा तू बिरडी जाळू
सूद-बुध ख्वै जाली ते से अफि
चार आखरों की माया तू पै जालि
चार आखरों की माया च

© बालकृष्ण डी. ध्यानी
https://dhyani1971.blogspot.com/2023/01/blog-post_71.html
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
3
मायाजाळ

सब्यू  ते .....  ते यख
लाइक ,कमेन्ट...  शेयर चैन्दु
यूँ  रगरायाट अंख्यूं  ते
क न  यु सुख चैन  चैन्दु
सब्यू  ते .....  ते यख

स्वप्नयाळी आँखि थक गैनी
जग्वाळ  देख कैरी कैरी
क्वी त  होलो दगड़्या बिन पड़ी
लाइक ,कमेन्ट...  शेयर करलू ..... हरी हरी
सब्यू  ते .....  ते यख

बडू  टैम  ह्वैगे
कैल  बि वै  पोस्ट ते ख्वगेल ना
निराशा व्हाई क्वी बी ऐना
ऐना  दिख्या  ग्याई मि भिर-भिराट  कैरि
सब्यू  ते .....  ते यख

अप्डू  सुख  अफ दगडी हि  छा
मिल वै  ते  खोजी भैर  भैर
अब बी  नि  व्हाई  देर
झट स्वप्नियु  मा  ख्वै जै कैर अप्डी ..... केयर
सब्यू  ते .....  ते यख

बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
4
मायाजाळ

सब्यू  ते .....  ते यख
लाइक ,कमेन्ट...  शेयर चैन्दु
यूँ  रगरायाट अंख्यूं  ते
क न  यु सुख चैन  चैन्दु
सब्यू  ते .....  ते यख

स्वप्नयाळी आँखि थक गैनी
जग्वाळ  देख कैरी कैरी
क्वी त  होलो दगड़्या बिन पड़ी
लाइक ,कमेन्ट...  शेयर करलू ..... हरी हरी
सब्यू  ते .....  ते यख

बडू  टैम  ह्वैगे
कैल  बि वै  पोस्ट ते ख्वगेल ना
निराशा व्हाई क्वी बी ऐना
ऐना  दिख्या  ग्याई मि भिर-भिराट  कैरि
सब्यू  ते .....  ते यख

अप्डू  सुख  अफ दगडी हि  छा
मिल वै  ते  खोजी भैर  भैर
अब बी  नि  व्हाई  देर
झट स्वप्नियु  मा  ख्वै जै कैर अप्डी ..... केयर
सब्यू  ते .....  ते यख

बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
5
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

ना ऐ पिछने तू इन पाठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

जैल ऐ बि बुरू टैम थोडु टैम लगे दि
अपडो परयों कि बल खुद लगे कि
ध्यान धैर ध्यानी ऐ आखेर नि छ
डैरी डैरी कि हि  सै ते थे बाट देखेलि

ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

पता छे ते वै समण तू ठैर निसकदु
कुच निछ ते पास वै दगड़ लड़णा कुन
फिर बि वैते चित्कारी ललकार देणु रे
बिच बिच मां तू वै ते हुंकार देणु रे

ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

ध्यान धरि ऐ समै क्या शिक्षा देणु
हरेक बेल ऊ तुमरी परीक्षा लेणु
उपयोग मा ले अफ ते सक्षम कना कुन
कु छु मि ? अर क्या ह्वै सक्दु ऐ जण ना कुन

ना हात-खुथी गालि वै कु रूप देखिकि 
स्वार हवैजा वै पर लड़णु छ ऐ ठरैकि
ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
6
[/img]

ना ऐ पिछने तू इन पाठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

जैल ऐ बि बुरू टैम थोडु टैम लगे दि
अपडो परयों कि बल खुद लगे कि
ध्यान धैर ध्यानी ऐ आखेर नि छ
डैरी डैरी कि हि  सै ते थे बाट देखेलि

ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

पता छे ते वै समण तू ठैर निसकदु
कुच निछ ते पास वै दगड़ लड़णा कुन
फिर बि वैते चित्कारी ललकार देणु रे
बिच बिच मां तू वै ते हुंकार देणु रे

ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि

ध्यान धरि ऐ समै क्या शिक्षा देणु
हरेक बेल ऊ तुमरी परीक्षा लेणु
उपयोग मा ले अफ ते सक्षम कना कुन
कु छु मि ? अर क्या ह्वै सक्दु ऐ जण ना कुन

ना हात-खुथी गालि वै कु रूप देखिकि 
स्वार हवैजा वै पर लड़णु छ ऐ ठरैकि
ना ऐ पिछने तू इन पिठ फिरैकि
लड़ी ले जिकोडि तू हिमत भोरिकि


बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
7
जय गोलू देबता

हमरी पीड़ा अफि मा जा तू समै
क्या पाई तिल यखमा रैकि यख रुपै
गोलू देबता लगे हमुन फिर ते थे  धे
दौडी ऐजा हमते लिजा ते दगडी सरे

दुई हात जोड़ि कि हम छा बैथयां
अपडा से एकमत ह्वैकि हम छा बैथयां
तेरु ही धास तेर सार अब हमते लग्युं छा
चिट्ठी मा स्वाल लिखी सब्बि छा बैथयां

मनोकामना सबै कि पूरी व्है जाली
न्याय देबता जबै तू सबते न्याय देलि
घांट चिट्ठी मिल बि गेड़ी च मंदिर मा
तू मिते ना  कै ते ना अब ना तू बिसरे

हमरु उत्तराखंड को चितई गोलू देवता
तेरू जय जयकरा रै  हमरा मुखम सदै
हम सबु ते तू सत बुद्धि सत मार्ग बते
छोड़ि  कि गयां सबु ते पाड़ों मा परते

हमरी पीड़ा अफि मा जा तू समै  ....
जय गोलू देबता
बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
8
जय गोलू देबता

हमरी पीड़ा अफि मा जा तू समै
क्या पाई तिल यखमा रैकि यख रुपै
गोलू देबता लगे हमुन फिर ते थे  धे
दौडी ऐजा हमते लिजा ते दगडी सरे

दुई हात जोड़ि कि हम छा बैथयां
अपडा से एकमत ह्वैकि हम छा बैथयां
तेरु ही धास तेर सार अब हमते लग्युं छा
चिट्ठी मा स्वाल लिखी सब्बि छा बैथयां 

मनोकामना सबै कि पूरी व्है जाली
न्याय देबता जबै तू सबते न्याय देलि
घांट चिट्ठी मिल बि गेड़ी च मंदिर मा
तू मिते ना  कै ते ना अब ना तू बिसरे

हमरु उत्तराखंड को चितई गोलू देवता
तेरू जय जयकरा रै  हमरा मुखम सदै
हम सबु ते तू सत बुद्धि सत मार्ग बते
छोड़ि  कि गयां सबु ते पाड़ों मा परते

हमरी पीड़ा अफि मा जा तू समै  ....
जय गोलू देबता
बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
9

बाट  ते थे दिस  जाली

खोजी ले खोजी ले... बाट  ते थे दिस  जाली

फक्त  तेथे  हिटणा  को सज्ज  हो यार

ना अबि ना अबि क्वी ना हो टाळ  मटोल

फक्त  तेथे खुद दगडी लढणा को सज्ज  हो यार

खोजी ले खोजी ले...



हिटदरी बाट तेथे  बोलि ल

चल छोड़ि  क जोंला  परति  कि

छाती मा  वो मारला  कितेक  घौ जिकोड़ि बोलि ल   

चल छोड़ि क  जोंला  परति  कि

फक्त  तेथे निरभै होण्या  को सज्ज  हो यार

खोजी ले खोजी ले...



बरखा बरख़िल  सर सरि

फक्त  तेथे भिजणा को सज्ज  हो यार

सूरज  तपिलो ते परि प्रचण्ड

फक्त  तेथे घामांघूम  होण्या  को सज्ज  हो यार

खोजी ले खोजी ले...



कबि  सच  भेंट लो ते  कबि झूठ

कबि  मान  भेंट लो ते  कबि अपमान

आकाश  मां  उड़ दा वो पंख  तेरा

कबि त वों ते ले  तू भुमि मां त  ऐलु

फक्त  तैमा वैमा लय भिटाण्या को सज्ज  हो यार

खोजी ले खोजी ले...



हरेक  उकाल उकालता   ना

फक्त नै जोश लेकि सज्ज  हो यार

जबैर  लगलू  कुच नि  व्है सकदु

फक्त  नै सोच दगडी  सज्ज  हो यार



खोजी ले खोजी ले... बाट  ते थे दिस  जाली

बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
https://dhyani1971.blogspot.com/
http://balkrishna-dhyani.blogspot.in/search/
http://www.merapahadforum.com/
में पूर्व प्रकाशित -सर्वाधिकार सुरक्षित
10
महोदय,                                                                                                                                                                                               
                                                                                                                                                                                                         
 ग्राम कनरा (लमगड़ा) 1980 तक सड़क विहीन था ! अब जाकर कनरा तक सड़क पहुँची है ! जो आज भी कच्ची है l  किसी भी विभाग ने इसकी सुधि नहीं ली है ! यह ग्राम मुख्य धारा से कटा रहा l इस कारण यह विकास विहीन ग्राम बन गया !  सुरेश बडोला कहते हैं - ‘हमारे बुजुर्ग बताते हैं बद्रीविशाल के प्रति अटूट श्रद्धा के कारण बद्रीनाथ मंदिर की पूजा सभा में बडोला ब्राह्मणों का भी स्थान नियत है, जब कि कनरा (लमगड़ा) के बड़ोला ब्राह्मण भगवान् शिव के उपासक हैं ! इसलिए निवेदन है कि  मानस खंड मंदिर माला मिशन का लाभ उन मंदिरों को भी मिलना  चाहिए  जो लम्बे समय से उपेक्षित एवं पिछड़े हैं l  ऊँटेश्वर महादेव मंदिर जो गाँव कनरा में अवतरित हुए हैं, यह गाँव 1,000 वर्ष प्राचीन दुर्लभ ऊँटेश्वर महादेव मंदिर सालम पट्टी क्षेत्र में प्रसिद्द है l कनरा स्थित इस मंदिर हेतु अल्मोड़ा से लमगड़ा से चायखान से कनरा-तोक से कनरा तक अब मोटर रोड बन चुकी है l अल्मोड़ा से इसकी कुल दूरी 43 किमी है !                                                                         इस मंदिर की निम्न विशेषताएं हैं l                                                                                                                                                                   
 1)एक हज़ार वर्ष से भी अधिक प्राचीन है ! इसमें 12 देवालय स्थित है !                                                                                                                       
 2)यह स्वयंभू पृथ्वी/भूमि से स्वयं निकला हुआ अर्थात प्राकृतिक है l                                                                                                                             
 3)यह  शिवलिंग महादेव की जिव्हा के रूप में प्रकट हुआ है l                                                                                                                               
 4)भंडारे आदि आयोजनों में सैकड़ों भक्तजनों द्वारा अर्पित जल विलुप्त हो जाता है !                                                                                                           
 5)इस शिव लिंग की लम्बाई जमीन से ऊपर 7  फीट है और बांकी शिवलिंग प्रथ्वी के अन्दर है l इस शिवजिव्हा का उद्‌गम जानने हेतु हफ़्तों खुदाई की गई परन्तु इस शिवलिंग की लम्बाई का कोई पारावार नहीं मिला l                                                                                                                                                                       
 6)यह मंदिर पर्यावरण विभाग द्वारा संरक्षित है !                                                                                                                                                 
 7)शिव लिंग (शिव जिव्हा) दुर्लभ श्रेणी में आता है ! मेरी जानकारी में शिव जिव्हा के रूप में अन्य स्थानों में शिव जिव्हा के रूप प्रकट शिव लिंग नहीं है !                                                                          8) ऊँन्टेश्वर महादेव मंदिर के विषय में मंदिर के पुजारी पंडित खीमा नन्द बड़ोला का यह वीडियो चन्द्र शेखर बड़ोला के सौजन्य से प्राप्त हुवा है - https://www.youtube.com/watch?v=X_GfqH8ZUQg&t=1710s                                                                                                                           
 9)इसलिए अनुरोध है कि इस मंदिर को मानस माला मंदिर मिशन में शामिल करने की कृपा करें !                                                                                             
 10)  श्री कल्याणिका हिमालयन देवस्थानम न्यास कनरा-डोल (डोल आश्रम) कनरा की  ही भूमि पर स्थित है  और ऊँटेश्वर महादेव  मंदिर इसी  गाँव कनरा  में 6 किलोमीटर की दूरी पर है !                                                                                                                                                                                             
 11)लोकार्पण द्वारा पुजारी लीलाधर बड़ोला का इंटरव्यू :                                                                                                                 https://fb.watch/eZBipsYoug/
धन्यवाद !                                                                                                                                                                                           
भवदीय
                                                                                                                                                                                               
डीएन बड़ोला,  निवासी ग्राम कनरा                                                                                                                                                                                                                                                                                            अध्यक्ष, प्रेस क्लब, रानीखेत l Mobile 9412909980                                                                                             




Pages: [1] 2 3 4 5 ... 10