Author Topic: Who, Where, Why In Uttarakhand? - उत्तराखंड मे कौन, कहाँ, क्यो?  (Read 114232 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0
दोस्तो,

यहाँ पर हम उत्तराखंड के बारे में  General  Knowledge की चर्चा करेंगे और प्रश्न भी पूछ सकते है कि उत्तराखंड मे कौन, कहाँ, कब आदि।

Members who are not aware of any particular place, persaonlity, song etc relate d to Uk, they can ask their questions here and we would try to give the answer of the queries.

एम् एस मेहता

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0

जयंती मंगला काली भद्र काली कपालिनी - आपने यह मंत्र सुना होगा.

भद्र काली जगह उत्तराखंड मे है, किसी को पता है भद्र काली जगह उत्तराखंड मे कहाँ पर है ?

पंकज सिंह महर

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 7,401
  • Karma: +83/-0

जयंती मंगला काली भद्र काली कपालिनी - आपने यह मंत्र सुना होगा.

भद्र काली जगह उत्तराखंड मे है, किसी को पता है भद्र काली जगह उत्तराखंड मे कहाँ पर है ?


बागेश्वर जनपद में विजयपुर नामक स्थान से लगभग ८ कि०मी० की दूरी पर भद्रकाली मंदिर है। यह भी एक सिद्ध पीठ है कहा जाता है कि जब विष्णु जी ने मा सती के शव के ५२ टुकडे किये और वे टुकड़े जहां पर भी पड़े वह स्थान सिद्ध पीठ बन गया। इस स्थान पर स्ती जी के पांव पड़े थे। यहां शक्ति के तीनों रुप महाकाली, महा लक्ष्मी एवं महासरस्वती आद्यशक्ति के रुप में विराजित है।
       चैत्र माह की अष्टमी को यहां पर मेला लगता है। मंदिर के पीछे भद्रा नामक नदी बहती है, जो मंदिर के ठीक नीचे भूमिगत होकर गुफा में चली जाती है, यह गुफा मंदिर के प्रवेश द्वार के सामने से करीब ३०० मीटर आगे जाकर खुलती है और जहां पर यह गुफा खुलती है, ठीक उसके ऊपर झरने के रुप में पानी भी गिरता है।
       झरने और गुफा का जल एक साथ मिलकर सुलूर नामक बड़ी नदी में जाकर सरयू में मिल जाता है। इस गुफा में प्रवेश के लिये स्थानीय लोग छिलुक जलाकर जाते हैं,गुफा में कुछ आगे बढ़्ने पर एक बड़ा सा तालाब आता है, जिस कारण पूरी गुफा के दर्शन नहीं हो पाते हैं। गुफा के भीतरी भाग में ऊपर की ओर कई आकृतियां उभरी हुईं हैं।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0


Which mythological story is connected with "Nandkot" in Uttarkahand ???

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0


Which mythological story is connected with "Nandkot" in Uttarkahand ???

Answer. :-  Nandkot is the place devotees of Uttarakhand Rajjaat from kumoan and garwal assemble at this point which is called Nandkot.

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0

Question : What is Pichhori / Diyodi in Uttarakhandi Cultural Dress ?

Anubhav / अनुभव उपाध्याय

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 2,865
  • Karma: +27/-0
Picchori or Pichhoda is a traditional Kumauni shawl which is worn on all Maanglik functions in Kumaun by women.


Question : What is Pichhori / Diyodi in Uttarakhandi Cultural Dress ?

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0


Question : NANDA RAJ JAAT COMES AFTER HOW MANY YRS ?

Anubhav / अनुभव उपाध्याय

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 2,865
  • Karma: +27/-0
After every 12 years a 4 horn goat is born and it leads the Raaj Jaat.



Question : NANDA RAJ JAAT COMES AFTER HOW MANY YRS ?

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,893
  • Karma: +76/-0
प्रशन : बदरीनाथ धाम मे पुजारी कहाँ का होता है ?

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22