Author Topic: Heroes Of Wars From Uttarakhand - देश की रक्षा में शहीद उत्तराखंड रणबाकुरे  (Read 45402 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
देहरादून 24 जून 2017

 (हि. डिस्कवर) सैनिकों के कारण उत्तराखण्ड पूरे देश में जाना-पहचाना जाता है। जब सैनिक सम्मान की बात आती है, तब सबसे पहला नाम उत्तराखण्ड का आता है। सैनिकों ने उत्तराखण्ड का नाम पूरे दुनिया में रोशन किया है। यह बात नगर विकास मंत्री मदन कौशिक ने कही। उन्होंने कहा कि कहा कि सरकार बनते ही जीरो टालरेंस की नीति को भ्रष्टाचार पर अपनाया गया है। निर्णय करके निर्णय का पालन करना कठिन होता है परन्तु सरकार ने इसका पालन किया है। गौरव सैनानी एसोसियेशन के प्रथम स्थापना दिवस के अवसर पर शिमला बाईपास रोड स्थित भट्ट वेडिंग प्वांइट में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगर विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि पूर्व सैनिकों के हितों की रक्षा की जायेगी। उन्होंने कहा कि सरकार पूर्व सैनिक, अर्द्धसैनिक के कल्याण हेतु तत्पर है। इस दिशा में समय पर बैठकें भी आयोजित कर जनपद स्तर पर समस्या दूर करने का निर्देश दिया जायेगा। मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि गौरव सैनानी एसोसियेशन के प्रयास सराहनीय है। इसके माध्यम से पूर्व सैनिक, अर्द्धसैनिकों को अपनी बात कहने का मंच मिला है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रदेश सैनिक बाहुल्य जनसंख्या है। यहां सैनिकों के सम्मान हेतु हर स्तर पर प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार पूर्व सैनिकों के कल्याण हेतु अनेक योजना बनाने पर विचार कर रही है। इस अवसर पर विधायक गणेश जोशी, सहदेव पुण्डीर, गौरव सैनानी एसोसियेशन के अध्यक्ष महावरी राणा, उपाध्यक्ष मनवर सिंह, कोषाध्यक्ष गिरीश जोशी, महासचिव राजेन्द्र कण्डारी, सचिव जयपाल सिंह, महामंत्री ललित मोहन खण्डूरी सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।
http://himalayandiscover.com/

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
जम्मू एंड कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में उत्तराखंड का लाल शहीद
जम्मू एंड कश्मीर में शोफिया क्षेत्र में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान उत्तराखंड का लाल शहीद हो गया। अल्मोड़ा निवासी मेजर कमलेश अपने पीछे दो साल की बेटी और पत्नी को छोड़ गए।
आर्मी हेडक्वार्टर ने खबर की पुष्टि की है कि हल्द्वानी-ऊंचापुल निवासी मेजर कमलेश पांडे सहित दो सैनिक शहीद हो गए। जबकि एक अन्य सैनिक घायल हुआ है।
मेजर कमलेश पाण्डेय 62 राष्ट्रीय रायफल में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। शहीद मेजर कमलेश की पत्नी रचना पांडे और दो साल की बेटी भूमिका गाजियाबाद में रहती है। स्‍थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कमलेश का पुश्तैनी घर अल्मोड़ा में है।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
शहीद की अंत्येष्टि में सीएम त्रिवेंद्र ने किया ऐसा काम, न होकर भी सबके बीच रहेगा उत्तराखंड का लाल

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए फलोटा गांव के वीर सैनिक सूरज सिंह तोपाल की अंत्येष्टि के बाद सीएम त्रिवेंद्र ने ऐसा काम किया जिसके बाद हर पल सूरज वहीं सबके बीच रहेगा। शहीद सूरज सिंह तोपाल की स्मृति में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने संगम घाट के समीप शिवालय के पास आंवले का एक पौधा भी लगाया। सीएम को पौधा पर्यावरण मित्र जयकृत नेगी ने उपलब्ध कराया था। इस दौरान सीएम ने कहा कि प्रदेश और देश सूरज के बलिदान को नहीं भुला सकता। शनिवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का गैरसैंण दौरा प्रस्तावित था। ऐसे में कर्णप्रयाग ब्लॉक के फलोटा गांव के सूरज सिंह तोपाल के शहीद होने की सूचना पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। शहीद के अंतिम संस्कार में 9 माउंटेन के बिग्रेडियर रोहित चौधरी, आर्टिलरी से कर्नल मनु शुक्ला, 10 जैक्लाई के मेजर सुहैल प्रह्लाद माडू, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, थराली के विधायक मगन लाल, कर्णप्रयाग के एसएस नेगी, पूर्व विधानसबा उपाध्यक्ष डॉ. एपी मैखुरी, 50 आरआर से नायब सूबेदार महेंद्र सिंह, सिपाही सुमन रावत, जिला सैनिक बोर्ड के अधिकारी कर्नल नवीन डबराल समेत कई अधिकारी शामिल रहे।

http://www.amarujala.com/photo-gallery/dehradun/cm-trivendra-singh-rawat-planted-a-plant-in-memory-of-martyr-suraj?pageId=5

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22