Author Topic: नाटककार दिनेश बिजल्वाण का उत्तराखण्ड की पॄष्टभूमि पर आधारित नाटक "पंडेरा"  (Read 24797 times)

Dinesh Bijalwan

  • Moderator
  • Sr. Member
  • *****
  • Posts: 305
  • Karma: +13/-0
सुरेश नौटियाल इसके पहले निदेशक थे और १९८५ मे बलवन्त सिंह , फिर १९८६-१९८९ तक सुरेश नौटियाल,  १९९०-१९९५ तक खुशहाल सिंह  बिष्ट ,  १९९६ मे  सुशीला रावत , १९९९८ मे मन्जु बहुगुणा और १९९ मे फिर सुशीला रावत  निदेशक बनीं और तब से वही ग्रुप की निदेशक हैं।


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0


Nice to know this.

We are fortunate that Bijalwan ji with us and we are knowing a lot about him and his acting skill. 

उत्तराखण्ड की पॄष्टभूमि पर आधारित नाटक "पंडेरा"

      दिल्ली में समय-समय पर उत्तराखण्ड की पॄष्टभूमि पर आधारित अनेक कार्यक्रम होते रहते हैं। मैं यहां पर एक नाटक के कुछ चित्रों को प्रस्तुत कर रहा हूं।  यह नाटक दिल्ली के  LTG Auditorium  में खेला गया था।  इस नाटक का Screen play ’मेरा पहाड़’ के सदस्य, श्री दिनेश बिजल्वाण ने लिखा।  नाटक काफ़ी सफ़ल रहा और रंग मंच की दुनिया में काफ़ी प्रसंसा भी हुई।  यह नाटक श्री राजेश्वर उनियाल के उपन्यास "पंडेरा" पर आधारित है।
  नाटक के कथानक की अधिक जानकारी देने हेतु मैं अपने मित्र श्री दिनेश बिजल्वाण जी से ब्यक्तिगर रूप से मिल कर निवेदन करुंगा और ये चित्र जो मैने उनकी एल्बम से चुरा के यहां डाल दिये हैं उसकी भी जानकारी उनको दे दुंगा।  आपसे बिनती है कि नाटक के कथानक के आने का इंतजार धैर्य से करें।
धन्यबाद।


Dinesh Bijalwan

  • Moderator
  • Sr. Member
  • *****
  • Posts: 305
  • Karma: +13/-0
I had posted  a detailed para graph but same could not be  displayed  due to disturbance in connectivity. I shall try to do it tommarrow.

खीमसिंह रावत

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 801
  • Karma: +11/-0
मेरी रंगमंच यात्रा "दि हाईहिलर्स ग्रुप" के साथ आरम्भ हुई , इस ग्रुप की स्थापना १९८१ मे सुरेस नौटियाल (पत्रकार) ने की थी , वह पर्वतीय कलाकेन्द्र  की  ट्क्कर की संस्था  बनाना चाहते थे जिसमे कोइ भी  पहाडी शामिल हो सके  जो पहाडी  कल्चर को  बढावा देना चाह्ता हो /
 ग्रुप का औपचारिक गठन १८-३-८४ को हुआ / इसके पहले सद्स्यओं मे सुरेश , मोहन राणा ( कवि) , हरपाल ने़गी,  बलवन्त सिंह रावत , कैलाश सेम्वाल , देवेन्दर खन्डुरी , चन्द्रशेखर कोट्नाला, सज्जन सिन्ह रावत, उमाकान्त बलूनी, खीम सिंह रावत, रेबत राम डोभाल. यशपाल रावत, मुकेश शर्मा,  हरीश उनियाल,  शामिल थे/
जारी/-

दिनेश जी मै ही खीमसिंह रावत हूँ

Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0
मुबारक हो खीम सिंह जी, आपको एक पुराना साथी मिल गया। इस फ़ोरम की यही खूबसूरती है।  आप भी कला और रंगमंच के पुजारी हैं।  अपने पुराने साथी को पाकर अवश्य ही प्रसन्नता हुई होगी।

मेरी रंगमंच यात्रा "दि हाईहिलर्स ग्रुप" के साथ आरम्भ हुई , इस ग्रुप की स्थापना १९८१ मे सुरेस नौटियाल (पत्रकार) ने की थी , वह पर्वतीय कलाकेन्द्र  की  ट्क्कर की संस्था  बनाना चाहते थे जिसमे कोइ भी  पहाडी शामिल हो सके  जो पहाडी  कल्चर को  बढावा देना चाह्ता हो /
 ग्रुप का औपचारिक गठन १८-३-८४ को हुआ / इसके पहले सद्स्यओं मे सुरेश , मोहन राणा ( कवि) , हरपाल ने़गी,  बलवन्त सिंह रावत , कैलाश सेम्वाल , देवेन्दर खन्डुरी , चन्द्रशेखर कोट्नाला, सज्जन सिन्ह रावत, उमाकान्त बलूनी, खीम सिंह रावत, रेबत राम डोभाल. यशपाल रावत, मुकेश शर्मा,  हरीश उनियाल,  शामिल थे/
जारी/-

दिनेश जी मै ही खीमसिंह रावत हूँ

Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0
A scene from "JAI BHARAT JAI UTTARAKHAND" Workshop-Play  :
on the stage:  Kanta Panwar, Kamala Rawat, Sanjay Bisht, Sanyukta Dhyani, Rakesh Gaur and Shushil Bhadri.


 

Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0
A scene from"JAI BHARAT JAI UTTARAKHAND"
on stage: Shri Rakesh Gaur and sh. Mahinder Rawat (in the middle) and Sanjay Bisht, Nitin Pradhan:


Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0
 Another scene "JAI BHARAT JAI UTTARAKHAND"
on stage:  Sushila Rawat, Kanta Panwar, Manju Bahuguna, Chandra Singh Rahi (famous Uttarakhandi Singer), and Late sh. dinesh Kothiyal:



 

हेम पन्त

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 4,326
  • Karma: +44/-1
राजेन दा... इन फोटोज का दीदार हम लोगों को कराने के लिये आपका धन्यवाद...

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22