Author Topic: Poster by Mera Pahad / 'मेरा पहाड़ नेटवर्क' के सदस्यों द्वारा बनाये गए पोस्टर  (Read 15768 times)

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
Poster on Harela Festival
« Reply #40 on: July 10, 2013, 03:32:59 PM »
उत्तराखण्ड का लोक पर्व 'हरेला' आने ही वाला है, आपके लिए मैंने हरेला से सम्बन्धित बधाई सन्देश कार्ड बनाये हैं जिन्हें आप अपने मित्रों को शुभकामना देने के लिए भेज सकते हैं।






Raje Singh Karakoti

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 477
  • Karma: +5/-0
दाज्यू यो हरियाव कधिन छू ?[/size]

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
दाज्यू यो हरियाव कधिन छू ?[/size]

दाज्यू उत्तराखण्ड में हरेला त्यौहार इस वर्ष 16 जुलाई 2013 यानि आने वाले मंगलवार को मनाया जायेगा।


Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
Independence Day Cover Photo
« Reply #45 on: August 14, 2013, 01:04:39 PM »
त्रिशूल पर्वत, उत्तराखण्ड में बरसात में छाने वाला कुहरा (हौल) और हरे-भरे यहाँ के सीढ़ीदार धान के खेतों से बना स्वतन्त्रता दिवस का शुभकामना पोस्टर।





Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0



विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
[justify]उत्तराखण्ड का रिंगाल उद्योग आज के युग में निरन्तर पीछे होते जा रहा है। आज हमारे घरों में रोटी रखने के लिए बनी रिंगाल की छापरी की जगह आज के ज़माने के अन्य नए बर्तनों ने ली है। खेत खलिहानों में काम आने वाला राव्यो/डोका की जगह बड़े-बड़े प्लास्टिक के बोरियों ने ले ली है। कई ऐसे उदाहरण हैं जो हमारा परम्परागत रिंगाल उद्योग को प्रभावित कर रहा है और इस उद्योग से जुड़े लोगों के सामने रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई है। बहुत से लोग इस उद्योग को बंद कर वे रोजी-रोटी हेतु पलायन कर चुके हैं। आज जरुरत है तो इस उद्योग से जुड़े लोगों को प्रोत्साहन देने की और हमारे बीच से ही नए कारीगरों को प्रशिक्षित कर नए-नए वस्तुओं को निर्मित कर उन्हें बाजार तक लाने की ताकि हमारा यह उद्योग पुनर्जीवित हो सके।
आज हमारे सामने उत्तराखण्ड के 'रिंगाल उद्योग' को बचाने की एक चुनौती है इसी को ध्यान में रखते हुए हम आपके सामने रिंगाल से निर्मित वस्तुओं की एक पोस्टर श्रृंखला प्रस्तुत कर रहे हैं, आशा है हम अपने इस मुहिम में सफल होंगे और आप भी हमारे इस मुहिम में अपना योगदान करेंगे।


[/justify]

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22