Author Topic: MeraPahad.com Supports Anna Hajare - मेरा पहाड का अन्ना हजारे को समर्थन  (Read 20522 times)

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
यदि हम अपने देश, अपने प्रदेश का विकास चाहते हैं तो हमें हमारे समाज में भ्रष्टाचार फैला रहे भ्रष्टाचारियों के खात्मे के लिए जन लोकपाल विधेयक लाना ही होगा।

मैं पहले ही अन्ना हजारे जी को अपना समर्थन दे चुका हूँ और मेरा पहाड़ फोरम के माध्यम से भी मैं उनको अपना समर्थन देता हूँ। हम सब उनके साथ हैं।


Anil Arya / अनिल आर्य

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 1,547
  • Karma: +26/-0

Dear Friends, Please send email to the following mentioned mail Id's. These mail ids are of PM Manmohan Singh, Law Minister Veerapa Moily and others.
manmohan@sansad.nic.in
pmosb@nic.in
vmoily@kar.nic.in
kapilsibal@hotmail.com
presidentofindia@rb.nic.in
vpindia@sansad.nic.in
supremecourt@nic.in
secy-coordpg@nic.in
secy-mha@nic.in
secy-legislative@nic.in

We can mention that we are from merapahadforum after our salutation & name/address.

Himalayan Warrior /पहाड़ी योद्धा

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 353
  • Karma: +2/-0

We support Anna..... whole nation is with u..


Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
सबसे पहले उत्तराखंड में हो रहे  भ्रष्टाचार  को खत्म करो उसके बाद अन्ना हजारे के बारे में सोचो

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
See MoreMeraPahad.com Supports Anna Hajare - मेरा पहाड का अन्ना हजारे को समर्थन www.merapahadforum.comMeraPahad.com Supports Anna Hajare - मेरा पहाड का अन्ना हजारे को समर्थन11 hours ago · Like ·  · Share

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0
  अन्ना हजारे के समर्थन में उतरे लोग       Apr 07, 07:38 pm    बताएं              गढ़वाल, जागरण टीम: अन्ना हजारे की ओर से जन्तर-मन्तर पर किए जा रहे आमरण अनशन को पूरे राष्ट्र से समर्थन मिल रहा है। इस क्रम में विभिन्न संगठनों की ओर से धरना प्रदर्शन किया गया।
छाम : भ्रष्टाचार पर लोकपाल विधेयक लागू करवाने को लेकर अन्ना हजारे के आमरण अनशन को समर्थन देते हुए थौलधार विकासखंड मुख्यालय छाम कंडीसौड़ बाजार में प्रात: नौ बजे से सांय पांच बजे तक उपवास रखकर धरना दिया।
उपवास एवं धरने में काफी संख्या में स्वत: रूप से लोग शामिल हुए, जिनमें लाखीराम उनियाल, रामचंद्र खंडूड़ी, अतोल सिंह गुसांई, चमन सिंह गुसांई, गंभीर सिंह गुसांई, अनिल बधानी, हरी सिंह बिष्ट, स्वरूप सिंह बिष्ट, रविंद्र सिंह भंडारी, सुमन गुसांई, रणजीत थलवाल, राजपाल सिंह गुसांई, पुलम सिंह, बुद्धि सिंह, भूपेंद्र, सुरेश नौटियाल, रमेश गुनसोला सहित काफी संख्या में लोग शामिल थे।
नैनबाग: जौनपुर की जनता ने अन्ना हजारे के आंदोलन का सर्मथन किया। जौनपुर क्षेत्र की जनता ने गांधीवादी नेता अन्ना की ओर से भष्ट्रचार को मुक्त करने को छेड़ी गई मुहीम का सर्मथन करते हुए इसे देश हित में बताया है। भाजपा के युवा मोर्चो के विभाग संयोजक राजेश नौटियाल ने कहा कि भष्ट्राचार चरम सीमा तक पहुंच गया है, जिसमें इस अभियान में देश की जनता को पुरजोर सर्मथन व लोकपाल विधेयक की मांग करनी चाहिए।
   

Anil Arya / अनिल आर्य

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 1,547
  • Karma: +26/-0
Jara gur karai http://www.avaaz.org/en/stand_with_anna_hazare_fb/?fbad4


77817 logo ne site se support kiya hai. every second one person is joining .. Yesterday at 10.30 PM I was around 44000.



Anil Arya / अनिल आर्य

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 1,547
  • Karma: +26/-0

किसन बाबूराव हजारे
15 जून 1938
अहमद नगर, महाराष्ट्र
फूल बेचते थे अन्ना
अन्ना का बचपन बहुत गरीबी में बीता। पिता मजदूर थे और दादा फौजी। अन्ना के छह भाई हैं। दादा की मौत के बाद परिवार में तंगी का आलम देखकर अन्ना की बुआ उन्हें मुम्बई ले गईं। वहां उन्होंने सातवीं तक पढ़ाई की। परिवार पर कष्टों का बोझ देखकर वह दादर स्टेशन के बाहर एक फूल बेचनेवाले की दुकान में 40 रुपए महीने पर काम करने लगे। इसके बाद उन्होंने फूलों की अपनी दुकान खोल ली और अपने दो भाइयों को भी अपने पास बुला लिया।
साठ के दशक में अन्ना फौज में शामिल हो गए। उनकी पहली पोस्टिंग बतौर ड्राइवर पंजाब में हुई। एक बार नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से उन्होंने विवेकानंद की एक किताब ‘कॉल टू दि यूथ फॉर नेशन’ खरीदी और उसको पढ़ने के बाद उन्होंने अपनी जिंदगी समाज को समर्पित कर दी। उन्होंने गांधी और विनोबा को भी पढ़ा। 1970 में उन्होंने आजीवन अविवाहित रहने का संकल्प किया।
पेंशन का सारा पैसा गांव विकास में खर्च
जम्मू पोस्टिंग के दौरान 15 साल फौज में पूरे होने पर 1975 में उन्होंने वीआरएस ले लिया और गांव में आकर डट गए। उन्होंने गांव की तस्वीर ही बदल दी। उन्होंने अपनी जमीन बच्चों के हॉस्टल के लिए दान कर दी। आज उनकी पेंशन का सारा पैसा गांव के विकास में खर्च होता है। वह गांव के मंदिर में रहते हैं और हॉस्टल में रहने वाले बच्चों के लिए बनने वाला खाना ही खाते हैं। आस-पड़ोस के गांवों के लिए भी यहां से चारा, दूध आदि जाता है।
amarujala

Anil Arya / अनिल आर्य

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 1,547
  • Karma: +26/-0
  अन्ना हजारे के समर्थन में उतरे लोग       Apr 07, 07:38 pm    बताएं              गढ़वाल, जागरण टीम: अन्ना हजारे की ओर से जन्तर-मन्तर पर किए जा रहे आमरण अनशन को पूरे राष्ट्र से समर्थन मिल रहा है। इस क्रम में विभिन्न संगठनों की ओर से धरना प्रदर्शन किया गया।
छाम : भ्रष्टाचार पर लोकपाल विधेयक लागू करवाने को लेकर अन्ना हजारे के आमरण अनशन को समर्थन देते हुए थौलधार विकासखंड मुख्यालय छाम कंडीसौड़ बाजार में प्रात: नौ बजे से सांय पांच बजे तक उपवास रखकर धरना दिया।
उपवास एवं धरने में काफी संख्या में स्वत: रूप से लोग शामिल हुए, जिनमें लाखीराम उनियाल, रामचंद्र खंडूड़ी, अतोल सिंह गुसांई, चमन सिंह गुसांई, गंभीर सिंह गुसांई, अनिल बधानी, हरी सिंह बिष्ट, स्वरूप सिंह बिष्ट, रविंद्र सिंह भंडारी, सुमन गुसांई, रणजीत थलवाल, राजपाल सिंह गुसांई, पुलम सिंह, बुद्धि सिंह, भूपेंद्र, सुरेश नौटियाल, रमेश गुनसोला सहित काफी संख्या में लोग शामिल थे।
नैनबाग: जौनपुर की जनता ने अन्ना हजारे के आंदोलन का सर्मथन किया। जौनपुर क्षेत्र की जनता ने गांधीवादी नेता अन्ना की ओर से भष्ट्रचार को मुक्त करने को छेड़ी गई मुहीम का सर्मथन करते हुए इसे देश हित में बताया है। भाजपा के युवा मोर्चो के विभाग संयोजक राजेश नौटियाल ने कहा कि भष्ट्राचार चरम सीमा तक पहुंच गया है, जिसमें इस अभियान में देश की जनता को पुरजोर सर्मथन व लोकपाल विधेयक की मांग करनी चाहिए।
   
फोरम के जो लोग दिल्ली मै है और जा सकते है .. अवश्य जाना चाहिए . जिन लोगो ले नाम इस खबर मई है उन सब को बधाई !

dramanainital

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 171
  • Karma: +2/-0
 मेरापहाड़  फोरम   पर अन्ना को देख कार हार्दिक प्रसन्नता हुई.मैं कल दिन भर जंतर मंतर पर ही था.देश सचमुच आंदोलनरत है. जनलोकपाल बिल पास होकर ही रहेगा.

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22