Author Topic: Tribute To Gopal Babu Goswami - गोपाल बाबू गोस्वामी(महान गायक) की यादे  (Read 39838 times)

राजेश जोशी/rajesh.joshee

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 406
  • Karma: +10/-0
मेह्ता जी,
आपने गोस्वामी जी के गीतो को लिपिबद्ध करके काफ़ी सराहनीय कार्य किया है।  इसके लिए आपको १ कर्मा

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

THIS IS ONE OF THE MOST POPULAR SONGS OF GOSWMAI JI.


घुघुती ना बासा, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा
घुघुती ना बासा ssss, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा।
तेर घुरु घुरू सुनी मै लागू उदासा
स्वामी मेरो परदेसा, बर्फीलो लदाखा, घुघुती ना बासा
घुघुती ना बासा ssss, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा।

रीतू आगी घनी घनी, गर्मी चैते की
याद मुकू भोत ऐगे अपुना पति की, घुघुती ना बासा
घुघुती ना बासा ssss, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा।

तेर जैस मै ले हुनो, उड़ी बेर ज्यूनो
स्वामी की मुखडी के मैं जी भरी देखुनो, घुघुती ना बासा
घुघुती ना बासा ssss, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा।

उड‌ी जा ओ घुघुती, नेह जा लदाखा
हल मेर बते दिये, मेरा स्वामी पासा, घुघुती ना बासा
घुघुती ना बासा ssss, आमे कि डाई मा घुघुती ना बासा।

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
गोस्वामी जी का यह गाना देखिये ! एक आदमी बड़े परिवार से कैसे परेशान है !

छोड़ दे मेरो हाथ मे ब्रह्मचारी छियो
अब नै जानू कैलाश मै ब्रह्मचारी छियो

एक हुना द्वि हुना जी ले हुना
यो सिवाओ की बरात मै अब का जा हां छू


छोड़ दे मेरो हाथ मे ब्रह्मचारी छियो
अब नै जानू कैलाश मै ब्रह्मचारी छियो ....

गिज ना तानो परुवा ईजा
बिराऊ खाप मुस का खेला
कहाँ बे लुनो खाना,  लुकुड कहाँ बे लुनो छो

अब नै जानू कैलाश मै ब्रह्मचारी छियो ....

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

गोस्वामी जी और रेखा धस्माना का यह गाना :-

रेखा धस्माना :

ना जाओ मेरा स्वामी
अकेली मीके छोड़ी
तुम बिना मै कैसी रुना

गोस्वामी जी :-

ना रूवो मेरी रुकमा
त्वीके छो मेरो कसमा
जानो छू जरुर र .

रेखा धस्माना :

ना जाओ मेरा स्वामी
अकेली मीके छोड़ी
तुम बिना मै कैसी रुना

गोस्वामी जी :-

अगिला बरस सुवा मै घर उना
देवी का मन्दिर हम
चदुना छतर र..

जानो छू जरुर र .

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
चाय की घूंट पीकर के अब जा रही है दुर्गा और उसका पति द्वाराहाट के स्याल्दे बिखौती के मेले में रास्ते में छेड़ छाड़ करते हुए मस्त होकर पग डंडियों पर दोनों पति और पत्नी और वहा जाकर के दुर्गा खो गयी है भीड़ में और बेचारा पति उसे ढूंढ़ रहा है और पूछ रहा है लोगो से:

अल्खते बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
अले म्यार दगाड छि यो म्याव में, अले जानी कॉ छटिक गे| येल म्यार गाव गाव गाड़ी है, मी कॉ ढूंढ़उ इके इदु खूबसूरत छो यो, क्वे छटके लही जालो| क्वे गेवारिया या द्वार्हटिया तो म्यार खवाड फोड़ है जाल दाज्यू देखो ढाई तुमिल कति देखि?

अल्खते बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
अल्खते बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे
अल्खते बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे

ओ दाज्यू तुमले देखि छो
यारो बते दियो भागी
तुमले देखि छो यारो बते दियो भागी
रंगीली पिछोदी उकी कुटली घागेरी
आन्गेडी मखमली दाज्यू मेरी दुर्गा हरे गे

सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
द्वारहाट कोतिक मेरी दुर्गा हरे गे
स्याल्दे कोतिक मेरी दुर्गा हरे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे

दुर्गा मीके खाली मै तो कलि
गुलाबी मुखडी उकी काई काई आंखि
गुलाबी मुखडी उकी काई काई आंखि
गालडी उगे जैसी ग्यु की जै फुलुकी
गालडी उगे जैसी ग्यु की जै फुलुकी
सुकिला चमकीला दांता मेरी दुर्गा हरे गे

सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
 

दाज्यू तैल बजार मैल बजार द्वाराह्ता कोतिक में
तैल बजार मैल बजार सार कोतिक में
सारी कोतिक ढूंढ़ई
हाय दुर्गा तू का मर गे छे पाई गे छे आंखी
हाय दुर्गा तू का मर गे छे पाई गे छे आंखी
मेरी दुर्गा हरे गे

सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
सार कोतिक चान चान मेरी कमरा पटे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे
दुर्गा चान चान मेरी कमरा पटे गे

अब मैं कसिक घर जानू दुर्गा का बिना
अब मैं कसिक घर जानू दुर्गा का बिना
कोतिका सब घर ल्हे गये
कोतिका सब घर ल्हे गये
धार लहे गो दिना
म्येर आंखी भरीं लेगे
दाज्यू किले हसन नै छ

सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
ओ हिरदा सार कोतिक चान मेरी कमरा पटे गे
सार कोतिक चान चान मेरी कमरा पटे गे
सार कोतिक चान चान मेरी कमरा पटे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
अल्बेर बिखौती मेरी दुर्गा हरे गे
हिरदा  दुर्गा हरे गे
बतै दे दुर्गा हरे गे
हिरदा  दुर्गा हरे गे
बतै दे दुर्गा हरे गे

(courtesy  Himanshu Pathak Ji).

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

गोस्वामी जी यह बहुत ही प्यारा गाना. :

सुन सुना मेरी मोहनी
दिन -२ यो तेरो जोभन
जान ला रो ..

अरे नी गेछो दिना
धार को माजा
मन मेरो उदास है गयो

सुन सुना मेरी मोहनी
दिन -२ यो तेरो जोभन
जान ला रो ..

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

Exclusive PHoto of Gopal Babu Goswami.


राजेश जोशी/rajesh.joshee

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 406
  • Karma: +10/-0
मेहता जी
मुझे कुछ शंका है यह गाना गोस्वामी जी ने अकेले ही गाया है, क्योंकि यह रामी बौराणी एलबम का गीत है और जहां तक मेरी जानकारी है, उसमे सारे गीत गोस्वामी जी ने पुरुष व महिला स्वरों अकेले ही गाये हैं। बहुत पुराना गीत है और रेखा जी नयी गायिका हैं।

गोस्वामी जी और रेखा धस्माना के आवाज मे यह गाना : इस गाने मे एक परदेशी अपने पत्नी को समझाता है की उसे देश की रक्षा के लिए जाना जरुरी है !

 रेखा : ना जावो मेरा स्वामी
      मैके अकेली छोड़ी
      तुम बिन मे कैसी रूना

गोस्वामी जी :   नो रो मेरी रुकुमा
             त्वीके छू मेरी कसमा
             जानो छू जरुर

रेखा : ना जावो मेरा स्वामी
      मैके अकेली छोड़ी
      तुम बिन मे कैसी रूना


गोस्वामी जी :   अगल बरस सुवा मे घर उना
             देवी का मन्दिर हम
             चदुना छतर

 
              

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
न रो चेलि न रो मेरि लाल, जा चेलि जा सौरास-2

दुनिया की रीत पौथा, तसि छ चलिया-2
पर घर धन हुनि चेलिया बेटिया.
चुपै जा नि मार बबा डाड-2

जा चेलि जा सौरास
न रो पौथा न रो मेरि लाल, जा चेलि जा सौरास

बार त्यौहार चेलि ऊनि जानु रयै-2
अपना बाबा के चेलि भेटन रेजये
तेरो है जो सारो संसार-2

जा चेलि जा सौरास
न रो चेलि न रो मेरि लाल, जा चेलि जा सौरास

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

गोपाल बाबु गोस्वामी जी यह गाना.

रंगीली चंगली पुत्यी कसी
फूल फटना ज्यूना कसी
ओह मेरी किसाना
उठ सुवा उजाओ हेगियो
चम् चम् का घाम

ले पीले चहा गिलास
गुड का कटक
उठ मेरी पुनियो की जियूना
उठ वे चमा चामा

रंगीली चंगली पुत्यी कसी
फूल फटना ज्यूना कसी

उठ भागी नखार ना
तेली खेडो खतरा
उठ मेरी पुनियो की जियूना
उठ वे चमा चामा

रंगीली चंगली पुत्यी कसी
फूल फटना ज्यूना कसी
ओह मेरी किसाना

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22