Author Topic: Exclusive photos of Panwali Kantha Uttarakhand-पंवाली कांठा उत्तराखंड  (Read 35981 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
       photo                                                        Welcome to the heaven at panwali kantha (Photo Dinesh Pundhir)
       

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
       photo                                              Pawali Kantha (Photo Dinesh pundhir)
         

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
       photo                                              Pawali Katha (Dinesh Pundhir Photography)
         

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
       photo                                              
          Evening at Panwali       

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
       photo                                                        Chaukhamba as seen from Panwali during the dying moment of the day.
(Photo by Dinesh Pundhir)
       

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,048
  • Karma: +59/-1
पंवाली-कांठा में विंटर गेम्स की संभावनाएं
=====================================


 

  नई टिहरी, जागरण कार्यालय: टिहरी जनपद के पंवाली कांठा में ओली की तरह विंटर गेम की अपार संभावनाएं हैं। हिमाच्छादित पहाड़ियों के मध्य मखमली बुग्यागी (स्पंज घास) में करीब 4 किमी फैला स्लोप रोमांच कर देने वाला है। देश का प्रमुख खतलिंग ग्लेशियर भी इसके समीप स्थित है। ट्रेकरों के लिए तो यह स्थान आज भी पहली पंसद बना हुआ है। यह पर्यटक स्थल सरकार की नजरों से ओझल है। यदि इसको विकसित किया जाता है तो शीत क्रीड़ा के क्षेत्र में यह नया आयाम स्थापित कर सकता है। हाल ही में इसको रोपवे से भी जोड़ा गया है।
टिहरी जनपद में यूं तो पर्यटक स्थलों का खजाना है, लेकिन कुछ पर्यटक स्थल ऐसे हैं जहां पर विंटर गेम व पर्वतारोहण की अपार संभावनाएं मौजूद हैं। टिहरी जनपद के भिलंगना प्रखंड में पड़ने वाला पंवाली कांठा भी ऐसा ही पर्यटक स्थल है। इसकी आसपास की पहाड़ियां अधिकांश समय बर्फ से ढकी रहती है। कई लोग तो इसे दयारा से भी बेहतर स्थल मानते हैं।


इस क्षेत्र में साहसिक खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने व पर्यटन के रूप में इसे विकसित करने को लेकर स्थानीय खेल प्रेमियों को दल हर साल यहां की यात्रा पर निकलता है। यही नहीं बाहर से बर्षभर कई ट्रेकर व जवान यहां पहुंचकर साहसिक क्षेत्र में अपने करतब दिखाते हैं। इस स्थल तक पहुंचते के लिए जिला मुख्यालय से करीब सौ किमी की दूरी तय कर घुत्तू पहुंचना पड़ता है।

घुत्तू तक बस सेवा के बाद करीब 15 किमी की पैदल दूरी तय कर यहां तक पहुंचा जा सकता है। यदि इस क्षेत्र को खेल के रूप में विकसित किया जाता है, तो यह विंटर गेम के रूप में नया आयाम स्थापित कर सकता है। अभी कुछ दिनों पूर्व कृषि एवं जिले के प्रभारी मंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रोपवे का शिलान्यास किया। इससे इस क्षेत्र के विकसित होने की उम्मीदें जगी हैं।
इनसेट=
पर्यटन की दृष्टि से भी है महत्वपूर्ण
नई टिहरी: पंवाली कांठा शीत क्रीड़ा के रूप में ही नहीं पर्यटन की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है। इसके आस-पास के क्षेत्र में पत्थरों की सिला पर सफेद रंग का ब्रह््म कमल भी पैदा होता।
प्रकृति प्रेमियों का तर्क
नई टिहरी: हिमालयन ट्रेकर एंड माउंटेन से जुड़े शिव सिंह नेगी ने कहना है कि स्कीइंग व पर्वतारोहण के लिए यह स्थान बेहतर है। उन्होंने बताया कि स्विटजरलैंड की तरह यहां पर टेम्पररी हट बनने चाहिए जो सर्किट से जुड़े हों। वहीं सुंदर सिंह व शिवदयाल जोशी का कहना है कि यह क्षेत्र पयर्टन सर्किट से जुड़ना चाहिए। यहां पर्यटन उद्योग की भी संभावनाएं हैं।
विभाग का तर्क
 नई टिहरी: साहसिक पर्यटन अधिकारी सुशील नौटियाल का कहना था कि उनके इस क्षेत्र का निरीक्षण किया गया था। स्कीइंग के लिए यहां पर संभावनाएं हैं। इसके लिए प्रयास किए जाएंगे

Surce Dainik jagran

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
    photo  Nanda Khat and pawali dwar peak Nanda khat and Pawali dwar peal as seen from Phurkia on way to Pindari Glacier
Photo -Manan Upadhayay
 

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22