Author Topic: Tourism and Hospitality Industry Development & Marketing in Kumaon & Garhwal (  (Read 25535 times)

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
स्पाज या जल स्रोत्र टूरिज्म  के प्रकार

Categories of Spas
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 59

 Medical Service Export Strategies - 59 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 242   

Medical Tourism development Strategies -242 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 363

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -363     

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

  इंटरनेशनल स्पा असोसिएसन (ISPA )  की    स्पा की परिभाषा अनुसार स्पा वह  पर्यटक स्थल है जहां व्यवसायिक सेवा देने के अतिरिक्त  यह सेवा मनुष्य के स्वास्थ्य , मानसिक शांति , मन व शरीर को सुख वर्धन करने में सहायक हो। 
 ISPA ने स्पा के निम्न मुख्य प्रकार निर्धारित किये हैं -
एक दिन का पर्यटन - एक दिन के   स्पा पर्यटन में कई जल चिकित्सा सेवाएं  व मुख धुलाई या शारीरिक चिकित्सा प्रदान की जाती हैं. इस तरह के स्पा सेवा एक दिन की ही होती है।  गाँव से शहर में ब्यूटी पार्लर या किसी सलून में आना एक उदाहरण है
रिजॉर्ट व होटल - होटल /रिजॉर्ट स्पा , जल चिकित्सा सेवा के अतिरिक्त फिटनेस व अन्य स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करते हैं व ठहरने का प्रबंध होता है
सपा डेस्टिनेशन या स्पा गंतव्य -  डेस्टिनेशन एक विस्तृत आयाम वाला प्रकार है जो होटल , रिजॉर्ट से अलग है।  स्पा देसिनेसँ में जल चिकित्सा , मन व शारीरिक चिकित्सा शांति, स्वास्थ्य शिक्षा , स्वास्थ्यवर्धक भोजन सेवा  के अतिरिक्त अन्य पर्यटन या मनोरंजन सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं
मेडिकल स्पा - मेडिकल स्पा में जल चिकित्सा के अतिरिक्त अन्य स्वास्थ्य सेवाएं भी डाक्टरों व अन्य परीक्षित व्यक्तियों की देखरेख में दी जाती हैं
स्पा क्लब - जब क्लब में अन्य सुविधाओं जैसे जिम , फिटनेस , के अतिरिक्त स्पा संबंधी सेवाएं प्रदान की जाती हैं तो स्पा क्लब नाम दिया जाता है।
खनिज जल झरने - जब जल चिकित्सा में प्राकृतिक जल स्रोत्र जैसे गर्म जल कुंवा , झरने , समुद्र , गंधक जल झरने या छ्वाया अंतर्हित किये जायँ तो उसे मिनरल स्प्रिंग स्पा या खनिज जल स्पा नाम दिया जाता है जैसे सहस्त्रधारा देहरादून में कोई स्पा

जल जहाज या पोत - जब जल पोत में जल चिकित्सा का विशेष प्रबंध हो तो उसे जल चिकित्सा जल पोत नाम दिया जा सकता है।
कॉस्मेटिक स्पा - मुख सफाई , वैक्सिंग , पैरों की धुलाई , यदि के त्वचा सफाई , नाख़ून कटाई आदि कॉस्मेटिक स्पा प्रकार के अंतर्गत आते हैं इसमें डाक्टर की आवश्यकता नहीं पड़ती।





Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Categories  of  Spas  , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  चमोली गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास  ; नैनीताल कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; अल्मोड़ा कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास  ; टिहरी   गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; चम्पावत कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  उत्तरकाशी गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; रानीखेत कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ; डीडीहाट  कुमाऊं  में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास ;   नैनीताल  कुमाऊं में जल चिकित्सा ,स्पा  मेडिकल टूरिज्म विकास :

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
  स्पा टूरिज्म का भविष्य उज्ज्वल व उत्साहवर्धक है

Future of Spa Tourism

चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 60

 Medical Service Export Strategies - 60 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 243   

Medical Tourism development Strategies -243 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 364

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -364     

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती [/size][/color]

-

             टूर से स्वस्थ टूर की ओर ट्रेंड



       अब टूरिज्म केवल टूर का विषय नहीं रह चूका है अपितु यात्री स्वस्थ टूर की अपेक्षा ही नहीं करते हैं अपितु स्वस्थ टूर की मांग करते हैं। अब यात्री होटल में रहने खाने की मांग नहीं करते अपितु स्वस्थ रहन शान की मांग करते हैं।  आधुनिक युग में यात्रा मनोरंजन तक सीमित न रहकर स्वस्थ यात्रा को ओर मुड़  चुकी है।  फिटनेस , मन शांति , स्वस्थ तन हेतु स्नान , ध्यान , भोजन की मांग बढ़ रही है तथा  पर्यटन स्थल में स्पा की भी मांग बढ़ चुकी है। अब टूर वेलनेस टूर की ओर झुक चूका है

      न्यू ग्लोबल  वेलनेस इंस्टीच्यूट की एक रिपोर्ट अनुसार 20 17  में  वैलनेस इंडस्ट्री का विश्व व्यापार $ 4. 2 ट्रिलियन का है जिसमे वेलनेस टूरिज्म की भागीदारी $ 639. 4 बिलियन्स का आकलन है ।

  स्पा  व्यापर ने भी छलांग लगाई।  स्पा व्यापर में यह छलांग  अचानक नहीं आया अपितु  इंफ्रास्ट्रक्चर वृद्धि से आया।  जहां  2015 में स्पा स्थल 121595 थे वहीँ सन 2017 में ये स्थल 149000 तक बढ़ गए व इनमे 2 करोड़ 60 लाख कर्मिक  कार्यरत हैं। 

 इसी तरह झरने या स्वास्थ्य खनिज जल सोत टूरिज्म में भी वृद्धि जल सोतों में फैसिलिटीज वृद्धि से व्यापार वृद्धि हुआ।  सन 2015 में 109 देशों में 27507 गर्म जल झरने या खनिज जल सोतों में पर्यटक आते थे वहीं सन 2017 में 127 देसों  में 34057 स्प्रिंग टूरिज्म में उत्तर आये और 2017 में झरने व जल सोत व्यापर में लगभग 1 करोड़ 80 लाख कर्मिक कार्यरत हो गए। 

        स्पा सपा टूरिज्म व गर्म पानी व अन्य झरने  टूरिज्म में भी अच्छी खासी बढ़ोत्तरी हो रही है।  नए स्पा सेंटर्स खुलने व स्टाफ आने से  स्पा व झरने (जल सोते जैसे सहस्त्रधारा ) पर्यटन में अप्रत्यासित विकास हो रहा है।

                     

                    विभिन्न वेलनेस टूरिज्म के बाजार आकर $ बिलियन्स में

सन   ------- -------------------------2015  -------------   2017--------------       2022 आकलन   

वेलनेस टूरिज्म -----------------------563 . 2 ---------   639. 4  ----------------919. 4

स्पा व्यापार      ----- ------------------98. 6-----------    118. 8  --------------------  127. 6

गर्म पानी व खनिज झरना टूरिज्म  51. 0  ---------------56. 2    ----------------- 77. 1

         उपरोक्त भविष्यवाणी से भारत व उत्तराखंड के कर्णाधारों को स्पा टूरिज्म व जल सोत (स्वास्थ्य हेतु ) उचित कदम उठना चाहिए। 





         



         



Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Future of Spa Tourism  in Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism  in Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism   in Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Future of Spa Tourism  in Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म   विकास  व स्पा टूरिज्म का उज्जवल भविष्य  :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
भारत के प्रसिद्ध स्वास्थ्यकारी तप्त कुंडों की जानकारी



Famous Hot Water Springs of India that having Medical Properties


चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 61

 Medical Service Export Strategies - 61 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 244   

Medical Tourism development Strategies -244 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 365

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -365     

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

  भारत धार्मिक ही नहीं प्राकृतिक स्वास्थ्य दायक संसधनों के लिए भी प्रसिद्ध ही जैसे उत्तरकाशी में गंगोत्री व यमनोत्री धर्मों के तप्त कुंड या बद्रीनाथ में तप्त कुंड केवल धार्मिक कारणों हेतु नहीं जाने जाते अपितु अपितु स्वस्थ्य दायी कुंडों के लिए भी जाने जाते हैं। 
     स्वास्थ्य पर्यटन (Wellness Tourism ) दृष्टि से भारत में निम्न तप्त कुंड प्रसिद्ध हैं -
         बकरेश्वर अग्निकुंड पश्चिम बंगाल
शक्तिपीठ निकट बकरेश्वर /बाकरेश्वर अग्नि  तापमान 80 डिग्री पंहुच जाता है।  अग्निकुंड के जल में सोडियम , पोटेसियम ,कैल्सियम सिलिकेट , क्लोराइड व सल्फेट पाए जाने से बकरेश्वर अग्नि कुंड पयटकों का आकर्षण केंद्र है।

        मनिकरण तप्त कुंड कुल्लू ,हिमाचल
कुल्लू स्तिथित मणिकर्ण तप्त कुंड भी हिन्दू व सिख धार्मिक स्थल भी है।
          पनामिक तप्त झरना जम्मू कश्मीर
सियाचिन ग्लेसियर के नीचे गर्म पानी का सोत  हैं जो गंधक जल के लिए प्रसिद्ध है व गठिया आदि रोगों के उपचार लिए प्रसिद्ध है।
        राजगीर तप्त तालाब बिहार
नालंदा जिले में राजगीर के पास कई तप्त जल तालाब हैं जो च रोग उपचार  हेतु प्रसिद्ध हैं
  रेशी ,रावंगल गर्म जल सोत सिक्किम
गंधक जल हेतु प्रसिद्ध हैअतः त्वचा रोग निवारण की छवि बनी है  ।  धार्मिक स्थल भी है।
 तप्त कुंड बद्रीनाथ
त्तप्त कुंड बद्रीनाथ अग्नि देव स्थान छवि के कारण तप्त कुंड स्वास्थ्य लाभ से अधिक धार्मिक मान्य छवि के लिए प्रसिद्ध हो चला है।
 तप्त पानी ओडीसा
पूर्वी घाट में गर्म जल सोत फूटते हैं और तालाब बनाते हैं।  कई रोग निवारण हेतु प्रसिद्ध है।
 ताता पानी नालडेरा हिमाचल
शिमला के निकट ताता पानी गर्म जल छ्वाया कई रोगो निवारण हेतु माना जाता है।
ब्रजेश्वरी महाराष्ट्र
मुंबई निकट ब्रजेश्वरी के गर्म छोया त्वचा रोग, गठिया  व रक्त चाप निवारण के लिए प्रसिद्ध हैं
 अत्रि कुंड ओडीसा
खुदरा के निकट अत्रि तप्त कुंड में गंधक होने से कई रोग निवारण हेतु प्रसिद्ध है
आश्चर्य है कि पर्यटक लेखक टिहरी गढ़वाल , रुद्रप्रयाग , चमोली व उत्तरकाशी के कई लाभदायी तप्त कुंड /छवायों के बारे में नहीं लिखते हैं।  जबकि ये सोत /छवाया बद्रीनाथ के तप्त कुंड से अधिक लाभदायी हैं। 
 








-         
Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hot Water Springs India , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत के प्रसिद्ध तप्त कुंडों/सोतों  की जानकारी :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
गर्म जल झरनों या सामान्य  छ्वाया / झरना पर्यटन का आर्थिक प्रभाव



Economical Impact of Hot Water or water Spring Tourism

चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 62

 Medical Service Export Strategies - 62 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 245   

Medical Tourism development Strategies -245 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 366

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -366     

 

आलेख -    विपणन आचार्य   भीष्म कुकरेती

-

झरना पर्यटन जिसमे तातो पानी के छिंछ्वड़ (गर्म जल झरने ) व सामन्य छिंछवड़ शामिल होते है पुरातन काल से पर्यटन गामी रहे हैं।  गर्म जल सोत (छ्वाये ) व गंधक या अन्य खनिज जल युक्त सोत (छ्वाये ) स्वास्थ्य पर्यटन वृद्धि कारक होते हैं।  भारत के मुख्य गर्म जल सोत धार्मिक स्थल भी बन गए हैं। 

 गर्म जल या खनिक जल सोत (छ्वाये ) पर्यटक स्थल पर निम्न आर्थिक प्रभाव डालते हैं -

       परोक्ष आर्थिक प्रभाव

पर्यटक स्थल में पर्यटकों द्वारा किया गया व्यय जो वे वहां व्यय करते हैं और पर्यटक सुविधा दाताओं को लाभ होता है

अपरोक्ष आर्थिक प्रभाव

परिहवन , पयर्टक स्थल में कपड़ों , सौगात वस्तु दूकान , भोजनालय , आश्रालय , बच्चों के लायक वस्तुएं , पुस्तकें मनोरंजन व्यापारियों को लाभ

  उपरोक्त व्यवापार से रोजगार प्राप्ति से लाभ

 झरना पर्यटन अन्य पर्यटन कारकों को भी प्रभावित करते हैं उदाहरणार्थ देहरादून में सहस्त्रधारा भ्रमण अन्य भ्रमणों जैसे मसूरी , टपकेश्वर भ्रमण को प्रेरित करता है। 

सरकार को मिलने वाले कर



 



Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Economic Impacts of  Water Springs , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
 


उत्तराखंड में गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं आवश्यक


Continuity  Problem for Hot Water Spring Tourism Development in Uttarakhand

चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 63

 Medical Service Export Strategies - 63 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 246   

Medical Tourism development Strategies -246 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 367

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -367     

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

 गर्म जल व खनिज जल झरना (छ्वाया , कुंड ) पर्यटन एक तेजी से बढ़ता पर्यटन व्यवसाय है सन 2013 में ग्लोबल हॉट वाटर स्प्रिंग टूरिज्म का व्यापर $50 बिलियन्स का था और 5 % प्रति वार्षिक दर से बढ़ रहा है।  चीन और जापान का तप्त जल झरना /तप्त कुंड पर्यटन व्यापार में 51 % हिस्सा है।  भारत में तप्त जल झरने या छ्वाया पर्यटन वास्तव में धार्मिक पर्यटन के साथ जुड़ गया है। 

          उत्तराखंड गर्म जल झरना /छ्वाया पर्यटन विकास में लापरवाही

सदियों से उत्तराखंड पर्यटन भगवान भरोसे ही चलता आता रहा है।  उत्तराखंड अलग राज्य बनने के पश्चात उम्मीद थी कि धार्मिक रयतन क अन्य कई नए वैकल्पिक पर्यटन वषय विकसित होंगे किन्तु हर पांच वर्ष में राजनेरिक उठापटक ने पर्यटन विकास पर सबसे अधिक दुष्प्रभाव डाला है।  सबसे बड़ी कमी विकास योजनाओं में क्रमिकता  समस्या है।  उदाहरणार्थ तिवारी सरकार में समग्र पर्यटन नीति /योजना बनी थी किन्तु फिर भाजपा सरकार बनने के पश्चात  उन योजनाओं को या तो लाल बस्तों में डाल दिया गया या उन नीतियों में गॉल /मंथर गति अपनायी गयी।  भाजपा सरकार ने जो योजनाएं बनाई होंगी उन्हें कॉंग्रेस सरकार ने आगे  बढ़ाया। 

      पर्यटन योजनाओं को भूमि पर उतारने हेतु क्रमगता टूटने का एक दुखद उदाहरण है गर्म जल सोतों का वैकल्पिक पर्यटन विकास।  भारत में 320 गर्म जलसोत / छोयों का पता चला है जिसमे 62 तो केवल उत्तराखंड में हैं।  सन 2016 की एक रिपोर्ट अनुसार उत्तराखंड में इन गर्म जल झरनों /कुंडों को  वैकल्पिक (गैर धार्मिक ) हेतु निम्न पर्यटन स्थलों का चयन किया गया 

गौरीकुंड रुद्रप्रयाग

मदकोट पिथौरागढ़

ऋषिकुंड गंगोत्री

सूर्यकुंड चमोली

प्रत्येक गर्म जल सोत पर्यटक स्थल विकास हेतु 400 करोड़ रुपयों की योजना बनी थी और प्रत्येक तप्त जल छ्वाया स्थल में निम्न आकर्षण भी विकसित किये जायेंगे -

स्पा कम्प्लेक्श

मेडिटेसन सेंटर

योग केंद्र

गोल्फ कोर्स

नृत्य केंद्र

उत्तराखंड टूरिज्म बोर्ड व न्यूजीलैंड जियो थर्मल असोसिएसन साथ साथ इन योजनाओं को को कार्योनित करने वाले थे।

इस लेखक को किसी सत्र से यह पता नहीं चला कि 2016 में बनी इन योजनाओं का क्या हश्र हुआ।

  योजना बनाना व उन्हें धरातल पर न लाना वास्तव में किसी भी राज्य हेतु भला नहीं है। 

   राजनैतिक दलों को दलीय स्वार्थ व व्यक्तिगत स्वार्थ से ऊपर उठकर कार्य संचालित करना चाहिए। 





Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Continuity Problems for Developing Water Springs Tourism , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरना पर्यटन की दीर्घ कालीन योजनाएं :

 






Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
 गर्म जल झरना टूरिज्म विकास हेतु अतिरिक्त आकर्षण आवश्यकतायें 

Other Additional Attractions for Hot Water Spring Tourism Development
 Medical Service Export Strategies - 64 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 247   

Medical Tourism development Strategies -247 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 368

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -368     

 

आलेख -    विपणन आचार्य    भीष्म कुकरेती

-
   गर्म जल झरना /सोत /छ्वाया पर्यटन हेतु केवल गर्म जल छ्वाया /सोत  ही आवश्यक नहीं अपितु अतिरिक्त सुविधाएँ व आकर्षण आवश्यक होती हैं। निम्न आकर्षण गर्म जल झरना पर्यटन के सहयोगी आकर्षण है
  अ - अन्य पर्यटन  कार्यकलाप
 ट्रैकिंग , वन भ्रमण , साइकल भ्रमण , पहाड़ चढ़ाई , अन्य स्वास्थ्य महत्व के स्थल भ्रमण
ब -सांस्कृतिक पर्यटन
स्थानीय नृत्य , संगीत , नाटक , खेल
स - खरीददारी सुविधाएं
पर्यटक संबंधी वस्तुयें , दुकानें 
स्थानीय सौगात , कला , तांत्रिक मांत्रिक आदि
द - संचार व्यवस्था
नेटवर्क , मोबाइल नेटवर्क , टेलीफोन आदि
ई -होटल्स व कैम्प्स सुविधा
एफ - परिहवन
सड़के , मोटर , कर , टैक्सी
जी - कुली आदि
एच - वैद्य - ऐलोपैथी डॉटर , अतिरिक्त प्राकृतिक चिकित्सा वैद्य
जे - सार्वजनिक शुचालय व स्नान घर
के - सूचना पट्टिकाएं , मार्ग दर्शक सूचनाएं , आकस्मिक दुर्घटना रोक थाम आदि सुविधा
एल - पुस्तक , स्थानीय इतिहास , भूगोल , सांस्कृति , पर्यटन सूचना सूचना साहित्य के अतिरिक्त प्राकृतिक स्वास्थ्य संबंधी साहित्य
एम - सुरक्षा
एन -मार्ग दर्शक


 Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com
 

Additional Attractions for Thermo spring Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Additional Attractions for  Thermo Spring Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु गर्म जल झरनो हेतु अन्य पर्यटक आकर्षण  :

   

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
इकर पाणी जसपुर जैसे खनिज , स्वास्थ्यकारी झरनों , छिंछवड़ों, ढंढियों की खोज आवश्यक

Need f Researches for Finding New mineral Springs and General Springs
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति -65

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 248   

Medical Tourism development Strategies -248 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 369

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -369     

 

आलेख -      विपणन आचार्य   भीष्म कुकरेती



-

  जैसे जैसे समृद्धि वृद्धि हो रही है मनुष्य स्वास्थ्य के प्रति अति संवेदनशील होता जा रहा है।  याने समृद्ध नागरिक आम मिनरल वाटर बोतल के स्थान पर विशेष स्थान के खनिज जल बोतल की मांग की और बढ़ेगा।  समृद्धि आने के बाद भविष्य में  नागरिक विशेष नहीं अति विशेष खनिज झरना पर्यटन अपनाएगा।  इस प्रकार के अति विशेष पर्यटक अति विशेष स्वास्थ्य पर्यटन को जन्म देगा।  उत्तराखंड कई प्रकार के  विशेष खनिज युक्त झरनों व ढंढियों   का भंडार है।

    एक उदाहरण देना श्रेयकर होगा।  पौड़ी गढ़वाल में ऋषिकेश -गुमखाल मोटर मार्ग के मध्य मल्ला ढांगू में जसपुर है।  जसपुर में एक जल ढंढी /गड्ढा युक्त जल सोता प्रसिद्ध ढंढी है, जिसे इकर पाणी कहा जाता है ।  इकर पाणी ढंढी गुडगुड़्यार -नाथ गदन के मध्य स्थित है।  शुरू में मैं जब गोर चराने अपने ताऊ जी स्व बलदेव प्रसाद जी के साथ इकर ढंढी निकट पंहुचता था तो ताऊ जी उस ढंढी का पानी पीने को अवश्य कहते थे।  ताऊ जी ने बतलाया कि इस ढंढी के पानी पीने से पेट के कई रोग नहीं होते अथवा रोग ठीक हो जाते हैं।  फिर युवावस्था में मैं जब भी इकर पाणी निकट जाता था तो इकर पाणी ढंढी का पानी पीना नहीं भूलता था।  यह कुछ आदत सी बन गयी थी।  ताऊ जी का कहना था कि सन पचास से पहले  दूसरे गाँव के लोग भी पेट बीमारी रोकथाम हेतु इकर पाणी पीने आते थे जिसकी पुष्टि ठंठोली गाँव के हमारे कुल पुरोहित व वैद्य स्व किसन  दत्त कंडवाल जी ने भी की।  स्व किशन दत्त कंडवाल जी वैद्य थे तो कई क्षेत्रों में घूमते थे और जब एक बैठक में इकर पाणी का जिक्र आया था तो उन्होंने कई अन्य गाँवों के विशेष झरने व ढंढियों का जिक्र भी किया था जिन झरनों व ढंढियों का विशेष स्वास्थ्य से संबंध था जैसे -खुजली राहत , दमळ  (एलर्जी ) राहत , पाचन शक्ति वर्धक , पेट पीड़ा राहत आदि।  दुःख है कि मैं  उन गाँवों का नाम बिसर गया  हूं। धीरे धीरे गढ़वाल में प्राकृतिक चिकित्सा का नाम अंध विश्वास नाम पड़ने लगा तो इकर पानी जैसे जल  स्रोत्र नेपथ्य में चल गए और आज जसपुर की नई पीढ़ी जानती भी नहीं इकर पानी विशेष जल सोत था।

      उपरोक्त जसपुर का इकर पाणी उदाहरण व स्व किसन दत्त जी द्वारा विभिन्न जल सोतों के गुण  बताना सिद्ध करता है उत्तराखंड में स्वास्थ्यवर्धक खनिज जल सोतों का भंडार है।  प्राकृतिक चिकित्सा विकास व प्राकृतिक चिकित्सा पर्यटन विकास हेतु इन विशेष जल सोतों (ढंढी , छ्वाया ) व छिंछवड़ों (झरनों ) की जानकारी उपलब्ध होना आवश्यक है।

   इन सोतों के जल में रसायनिक अवयवों ही नहीं अपितु जल का स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ता है। 

जल सोतों की खोज में कई लोगों /संस्थाओं की भागीदारी आवश्यक है

खनिज जल सोटो की अन्वेषक संतानों जैसे विश्वविद्यालय , जिओलॉजिकल सर्वे ऑफ इण्डिया आदि को सूचना देना व इन संस्थानों द्वारा खोज

आयुर्वेद व चिकित्सा संबंधी संस्थानों द्वारा अन्वेषण याने क्लिनिकल रिसर्चेज

  विशेष खनिज जल सोतों का प्रचार प्रसार

   वैसे श्रीनगर विश्वविद्यालय व अन्य संस्थान अन्वेषण करते रहते हैं किन्तु अब गति में तेजी आवश्यक है। 

 

    -

Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Requirements for  Finding New Mineral Springs for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज ;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज ; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु नए खनिज झरनों की खोज  :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
मृदा चिकित्सा के  प्रकार व  लाभ

Types and Benefits of Mud Therapy
मृदा चिकित्सा /मड थिरैपी  द्वारा मेडिकल पर्यटन विकास  -1 Scopes for  Mud Therapy Tourism in Uttarakhand -2
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति -66

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 249   

Medical Tourism development Strategies -249 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 370

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -370   

 

आलेख -      विपणन आचार्य   भीष्म कुकरेती



-

वैकल्पिक पर्यटन अथवा प्राकृतिक चिकित्सा पर्यटन विकास में मृदा अथवा मड चिकित्सा सुविधा आवश्यक है। 

मृदा चिकित्सा में मिट्टी मुख्य माध्यम होता है। 

             मृदा चिकित्सा से  निम्न लाभ मिलते हैं -

मिट्टी सूर्य की किरणों से रंग चुस्ती है और शरीर को प्रदान करती है।

गठिया व त्वचा सुधर हेतु मृदा चिकित्सा लाभकारी है

मृदा स्नान से त्वचा में बसे सूक्ष्म जीवाणु निकल जाते हैं

मृदा स्नान या मृदा लेप से त्वचा रंध्र खुल जाते हैं

मृदा चिकित्सा में निम्न तरीके  अपनाये जाते हैं

१- मृदा लेप -जिसमे मुंह या विशेष  अंग पर औषधि मिश्रित या केवल मिट्टी  लेप किया जाता है जैसे घाव भरने में घाव पर चिपुड़ माटु लेप जाता है।

२- मृदा स्नान -मृदा स्नान या मड बाथ में शरीर के वृहद भाग में मिट्टी लेप किया जाता है या मनुष्य मिट्टी में लगभग नहाता है

३- मृदा मालिश -मृदा मालिश में गीली अथवा सूखी मिट्टी से मालिश की जाती है

४- मृदा में निद्रा - गीली अथवा सूखी मिट्टी में सो जाना।  तनाव समाप्ति , नदी शक्ति वृद्धि  आदि हेतु मिट्टी  आराम या लेटना की सलाह दी जाती है।

५- मिट्टी में चलना - मनुष्य को गीली मिटटी अथवा सूखी या घास सहित मिटटी में नंगे पाँव चलाया जाता है जो किडनी , गुरुत्वाकषण शक्ति वृद्धि , नेत्रों की दृश्य याने बॉडी बैलेंस व कई इलाज हेतु प्रयोग होता है
  मिट्टी या मृदा चिकित्सा से निम्न लाभ होते हैं (Benefits of Mud Therapy )-
१ - त्वचा से फोड़े , पिम्पल्स समाप्तीकरण
२- त्वचा कांती वृद्धि
३- पेट पर गीली मिटटी लेप से आँतों की कई बीमारी जैसे कब्ज , उल्टी , उबकाई  , पेचिस की बीमारियों में सुधार
४- मिट्टी अथवा मृदा चिकित्सा से नेत्र मांसपेशियों का खिचाव कम किया जाता है व दृश्य शक्ति वर्धन भी होता है बल
५- मृदा अथवा मिट्टी चिकित्सा त्वचा संबंधी जैसे त्वचा फटना , फंगल या बैक्ट्रियल रोग (कादैं, यदि फटना , चरम रोग ) आदि में लाभकारी होता है।  त्वचा कांति वृद्धि 

६-  वृद्ध अवस्था कम करना या युवा पण लौटाने हेतु
७- घाव भरान

८-  बुखार , सिरदर्द रोकथाम आदि हेतु ,
 मृदा चिकित्सा अथवा मड थिरेपी के उपरोक्त लाभ सिद्ध करते हैं कि मृदा चिकित्सा विकास  मेडिकल टूरिज्म विकास में सहायक भूमिका निभाएगा।


-Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

 Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;    Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;   Mud Therapy Benefits for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा /मिट्टी चिकित्सा के लाभ:

 

 



 

 



 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
मृदा चिकित्सा में क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन व चर्चा

Positive Results of Clinical Tests on Mud Therapy: A Discussion
मृदा चिकित्सा /मड थिरैपी  द्वारा मेडिकल पर्यटन विकास  -2
Scopes for  Mud Therapy Tourism in Uttarakhand -2
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति -67

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 250   

Medical Tourism development Strategies -250

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 371

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -371   

 

आलेख -      विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

    भारत  अंग्रेजों से सीखने के कारण बहुत से लाभकारी पारम्परिक चिकित्साओं को अंध विश्वास नाम दे दिया जाता है।  मड थिरैपी अथवा  चिकित्सा के बारे में भी कई भ्रांतियां हैं।  जबकि क्लिनिकल  टेस्ट से सिद्ध हुए  हैं कि मृदा चिकित्सा से  मिलता है। 

Rhueumatol International जॉर्नल (2011 ) में ए फ्राइयलि आदि के रिसर्च पेपर का निर्णय है कि मड बाथ या मृदा स्नान  घुटनों  दर्द  में सुधार है व  रोगी को लाभ पंहुचता है। इन अन्वेषकों ने अन्य खोजपूर्ण लेखों में भी मड थिरैपी की वकालात की है।

 Rheumotology Volume 52 (अप्रैल 2013 ) में एल ई अंतुनेज आदि की खोज  अनुसार मृदा चिकित्सा (मालिस , लेप आदि ) से घुटने के जोड़ों के दर्द को मिटाने में सहायता मिलती है।

 अमेरिकी सरकारी नेटवर्क  छपी फोंडा मॉगेरी व बाल्डी की खोज अनुसार मृदा चिकित्सा  COPD (क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज )  रोगी को लाभ मिलता है।

द इजरायल मेडिकल असोसिएसन जॉर्नल की अप्रैल 2016 में निकोला ए पास्कारेली आदि की खोज सिद्ध करती है कि मृदा चिकित्सा (स्नान , लेप आदि ) से घुटनों के जोड़ दर्द कम होने में सहायता मिलती है

इंडियन जॉर्नल ऑफ ट्रेडीसनल नॉलेज (जुलाई 2012 ) में राजीव रस्तोगी ने कई अन्य खोजों के अध्ययन से निर्णय दिया कि मड थेरैपी ( लेप व स्नान ) से आधुनिक समय में भी न्यूरोपैथी संबंधी रोग निदान में अवश्य ही लाभ मिलता है

न्यू जर्सी के डा हैरी शिक डी सी ने भी मड थिरैपी की वकालात की है और लिखा कि विशेषतः जोड़ों के दर्द निवारण हेतु गर्म मृदा (कीचड़  ) लेप जोड़ों के दर्द निवारण में लाभकारी होते हैं

जॉर्नल ऑफ कंप्लीमेंट्री ऐंड इंटीग्रेटिव मेडिसिन्स  (जुलाई 2018 ) में रेशमा जोगड़ांड  आदि के पयोग से सिद्ध होता है कि मड थिरैपी आँख हेतु लाभकारी हो सकते हैं विशेषतः माइंडफुल अटेन्सन स्केल।  आँखों में मड थेरैपी से प्रजर्वेटिव थिंकिंग क्वेसनरी में भी लाभकारी हो सकता है (मनोवैज्ञानिक खोज )

डा ज्ञानदीप अदि की खोज (जॉर्नल ऑफ डेंटल ऐंड मेडिकल साइंस ,सितंबर 2016 ) से भी सिद्ध हुआ कि मड बात /मड थिरैपी कार्डिक टोन को मेंटेन तो करता ही है कई अन्य कार्डिक दुःख भी कम करने में सफल है।

आजकल छात्रों में नेत्र दृष्टि क्षीणता रोग बहुत फ़ैल रहा है डा अम्ल इस चंद्रन   आदि की खोज (इंटरनेसाँ जॉर्नल ऑफ़ रिसर्चेज  इन आयुर्वेद फार्मा , मार्च 2018 ) से पता चलता है कि मृदा लेप ऐस्थेनोपिया रोग हेतु सस्ता व हानिरहित चिकित्सा सिद्ध हो सकतीअ है।

अंतोनेला फिओरावंती आदि की खोज ( इंटरनेशनल जॉर्नल ऑफ बायोमैटिरोल , स्वीकृत दिसंबर 2012 , 2013 ) भी बताती है कि मृदा चिकित्सा हाथ जोड़ों के दर्द निवारण हेतु लाभदायी चिकित्सा है।

लुइस अंतुनेज आदि की खोज (Reumatologia Clinica मई जून 2013 ) ने भी मड थिरैपी घुटने के जोड़ दर्द हेतु लाभदायी पाया।

ओरीना क्लान आदि की खोज ( अमेरिकन कॉलेज ऑफ रहिमेटोलॉजी व अमेरिकी सरकार नेटवर्क , अक्टूबर 2016 ) सिद्ध करती है कि जोड़ों के दर्द निवारण हेतु मड थिरैपी सस्ती चिकित्सा भी है

उपरोक्त संदर्भों के अतिरिक्त अन्य खोजों के अध्ययन से पता चलता है कि मृदा चिकित्सा जोड़ों के दर्द निवारण हेतु (विशेषतः पुराण दर्द ) कामगर चिकित्सा है। मृदा चिकित्सा सस्ती चिकित्सा भी है।   



-

Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Clinical Tests in  Mud Therapy,  Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु मृदा चिकित्सा का क्लिनिकल टेस्ट अध्ययन :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,383
  • Karma: +22/-1
संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा स्नान स्थल

Top Ten Mud Bath  Destination in the world
मृदा चिकित्सा /मड थिरैपी  द्वारा मेडिकल पर्यटन विकास  -3 
Scopes for  Mud Therapy Tourism in Uttarakhand -3
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति -68

Medical Service Export Strategy - 68

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 251   

Medical Tourism development Strategies -251

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 372

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -372   

 

आलेख -      विपणन आचार्य   भीष्म कुकरेती

-
संसार में 10 प्रसिद्ध मृदा स्नान स्थल निम्न प्रकार हैं -
१- बोरियोंग दक्षिण कोरिया - जुलाई  बहुत  भीड़ जुटती है। जरमोनाइट व बेन्टोनाइट मिलता है
२- नापा  घाटी कैलिफोर्निया -ज्वालामुखी मिट्टी व राख के कारण गर्म जल सोत व राख
३-हेल्स गेट , जिओथर्मल , न्यूजीलैंड
४- वॉल्कन टुटुमो कोलंबिया
५- डेड सी जॉर्डन
६-हिवरजीरोई आइसलैंड -
७- वाडन समुद्र तट -जर्मनी , डच व डेनिस का समुद्र तट
७- युलो क्वींसलैंड ऑस्ट्रेलिया
८-सेंटोरिनी यूनान
९- मिल्की वे लगून पलाउ
१०- सुल्तानिये गर्म जल सोत टर्की
११- टेकरगहिओल झील रोमानिया
१२- वल्केनो आइलैंड , सिसली , इटली

-
Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Studying Top Ten Mud Therapy Destinations for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु संसार के 10 प्रसिद्ध मृदा चिकित्सा केंद्रों  की जानकारी :

 

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22