Author Topic: Breaking News - तेज़ ख़बर  (Read 48331 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
12 Died, 36 Critical After Consuming Wild Boar In Uttarakhand
« Reply #20 on: October 20, 2011, 06:12:52 AM »
12 Died, 36 Critical After Consuming Wild Boar In Uttarakhand

Kotdwara, Uttarakhand, Oct 20 : Twelve people died and 36 others are serious after consuming a wild boar in Uttarakhand's Pauri Garhwal district, prompting the state government to initiate a magisterial inquiry into the incident, officials said here.

The feast took place in Pinani village, the ancestral village of  former chief minister Ramesh Pokhriyal Nishank. A wild boar which was found dead at a field was brought for the feast.

Nearly 300 persons fell ill after consuming the meat, of them 12 died within a few hours, local residents said.

Chief Minister B C Khanduri who visited the victims at the Pauri district hospital ordered payment of Rs one lakh ex-gratia to the next of kin of those who died.

Khanduri also ordered shifting of critically ill people to Dehradun or Delhi for further treatment.

Khanduri said, the sort of virus which lead to the deaths has not been seen in Uttarakhand earlier

http://www.indiatvnews.com/news/India/_Died_Critical_After_Consuming_Wild_Boar_In_Uttarakhand-11531.html

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
कैंसर इंस्टीट्यूट में जल्द शुरू हो जाएगी ब्रेकीथेरेपी


, हल्द्वानी: स्वामी राम कैंसर इंस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर में कैंसर के उपचार की नई थेरेपी भी जल्द अस्तित्व में आ जाएगी। इसके लिए राजकीय मेडिकल कालेज प्रशासन की ओर से तेजी से प्रयास हो रहे हैं। रेडियोथेरेपी की दूसरी विधि ब्रेकीथेरेपी से भी रेडिएशन दिया जाएगा। कैंसर इंस्टीट्यूट में वर्तमान में रेडियोथेरेपी में केवल टेलीथेरेपी की सुविधा उपलब्ध है। इस थेरेपी के माध्यम से मरीज के कैंसर वाले अंग को दूर से रेडियशन दिया जाता है। इंस्टीट्यूट के कैंसर रोग विशेषज्ञ व विभागाध्यक्ष डा. केसी पाण्डे का कहना है कि ब्रेकीथेरेपी से कैंसर मरीजों को कैंसर के सेल खत्म करने के लिए उसी अंग पर रेडिएशन दिया जाएगा, जो अंग कैंसर से प्रभावित हो रहा है। कैंसर रोग विशेषज्ञ डा. निर्दोष पंत व डा. अभिषेक ने बताया कि यहां पर प्रतिदिन 25 कैंसर रोगियों की टेलीथेरेपी की जाती है। प्रतिवर्ष 1100 मरीजों का उपचार किया जाता है। नई थेरेपी आने से मरीजों को और अधिक सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।
किन मरीजों को होगा फायदा
आंतों का कैंसर
स्तन कैंसर
फेफड़े का कैंसर
स्वरयंत्र का कैंसर
गर्भाशय का कैंसर
रक्तपेशी का कैंसर
लिंग का कैंसर
भगद्वार का कैंसर
पित्त की थैली का कैंसर
गुर्दे का कैंसर


http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttranchal/4_5_8418006.html

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
नौकरी का झांसा दे दो करोड़ ठगे

दून में कबूतरबाजों ने एक बार फिर बेरोजगारों को जाल में फंसाकर उनके सपने तोड़ डाले। जापान, कनाडा, फिनलैंड, इस्टोनिया और स्वीडन में नौकरी का झांसा दे कबूतरबाजों ने 50 से ज्यादा बेरोजगारों से दो करोड़ रुपये ठग लिए। इसके बाद वे आफिस पर ताला लगा फरार हो गए।


 पुलिस अफसरों की मानें तो ये घटना देहरादून में हुई अब तक की सबसे बड़ी कबूतरबाजी है। ठगों ने हर देश का अलग रेट तय किया हुआ था। कनाडा के लिए सर्वाधिक साढ़े तीन लाख रुपये, जापान का रेट तीन लाख और फिनलैंड, इस्टोनिया व स्वीडन डेढ़ लाख रुपये में भेजा जा रहा था। उधर, गुस्साए युवाओं ने ठगों के दफ्तर में तोड़फोड़ कर दी। पुलिस ठगों की तलाश कर रही है। ताजा मामला दून के डालनवाला क्षेत्र की क्रास रोड क्षेत्र में सामने आया। पुलिस के मुताबिक, अमित खुराना नामक के शख्स ने ओवरसीज कंपनीज के नाम से करीब तीन माह पहले एक कंसलटेंसी आफिस खोला। उसने यहां किराये पर आफिस लिया और विज्ञापन के जरिए उसने विदेश में नौकरी लगाने का प्रचार करने लगा।


 इस तरह करीब 50 बेरोजगार उसके जाल में फंस गए। अमित ने उन्हें कनाडा, जापान, फिनलैंड, इस्टोनिया व स्वीडन में प्रतिष्ठित कंपनियों में आकर्षक सैलरी पैकेज में नौकरी का झांसा दिया। अमित ने झांसा दिया कि उसका विदेशी कंपनियों के साथ करार है। इन कंपनियों को करीब सौ शिक्षित बेरोजगारों की जरूरत है। पासपोर्ट व वीजा भी उसी ने बनाने की बात कही। उसने सभी 50 युवाओं से देश के हिसाब से तय रेट के मुताबिक रुपये जमा करवा लिए।


 पूरा खेल तीन महीने चला। अमित ने उन्हें बताया कि छह नवंबर को कनाडा के लिए युवाओं का पहला बैच भेजा जाएगा। फिर अन्य देशों के युवाओं की फ्लाइट है। जब कनाडा जाने वाले युवक 29 अक्टूबर को पासपोर्ट व वीजा लेने आफिस आए तो वहां पर ताला लगा मिला। उन्होंने मोबाइल और उसके बाद आफिस के लैंडलाइन पर कॉल किया तो सभी स्विच ऑफ मिले।



सोमवार को भी यही स्थिति रही। दोपहर 30-35 युवक वहां एकत्र हो गए। उन्होंने आसपास पूछताछ की, पर किसी को अमित खुराना के बारे में सूचना नहीं थी। अलबत्ता यह जरूर पता चला कि आफिस एक सप्ताह पहले बंद हो गया है। ठगी का होने का पता चलने पर युवकों के होश उड़ गए। उन्होंने वहां तोड़फोड़ कर डाली और फिर आराघर पुलिस चौकी पहुंचे। इस दौरान आरोपी अमित खुराना के खिलाफ तहरीर दी गई।

http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttranchal/4_5_8426913.html

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
Breaking News - तेज़ ख़बर-Haridwar stampede – 16 dead
« Reply #23 on: November 08, 2011, 08:42:42 AM »

Haridwar stampede – 16 dead                  

Haridwar (Uttarakhand): At least 16 people were killed in a horrific stampede at a religious event here Tuesday when tens of thousands had packed the banks of the Ganges, organisers said.
Witnesses said the tragedy occurred when an elderly woman slipped while walking through a barricaded route close to where 1,551 ‘yagyas’ – or fire rituals – were on.
“Once the woman fell, there was commotion. The crowds, however, kept pushing ahead. In no time, people began to fall over one another, crushing many,” an activist for Gayatri Parivar, the organiser said.
The activist as well as local officials said the dead included 14 women and two men. Most were aged and were suffocated to death. Around 40 others were injured in varying degrees.
Ambulances with waling sirens rushed the dead, the dying and the injured to a 10-bed hospital that the organisers had set up to deal with emergency situations.
Some were taken to other hospitals in the Hindu holy town.
Some of the injured — men and women — limped as they tried to walk. Others were taken away on stretchers. Many others looked frightened after surviving the trauma.
Tuesday was the third day of a five-day event that began Sunday.
Local officials claimed that the organisers had not told them that lakhs would throng Haridwar during the event but the Gayatri Parvar denied this.
“This is not at all true. A senior minister of Uttarakhand was at our inaugural function, so was a former chief minister and a central minister. And they all knew what a mammoth function we were organising,” the activist said.
Gayatri Parivar spokespersons  last week had said that they expected some 50 lakh people to attend the event over five days.
On Tuesday itself, an estimated four to five lakh people had thronged Haridwar. “We knew about the crowds and we had told everyone including the media,” the spokesperson said.
He added that Gayatri Parivar, which commands millions of members mostly in northern and western India, had urged the elderly not to visit Haridwar but many chose to do so.
He also said that despite the tragedy, the organisers continued with their rituals because cancelling the event would have led to more panic.
“We did not want that to happen,” he said. “In any case, the situation is now under control.”
Gayatri Parivar organised the event aimed at propagating Gayatri Mantra — one of the foremost chants in Hinduism.
It also marked the centenary celebrations of the group’s founder, Pandit Sitaram Sharma.
Among those expected to attend the event are the chief ministers of Uttarakhand, Gujarat, Rajasthan and Chhattisgarh, anti-corruption activist Anna Hazare and the Tibetan spiritual leader the Dalai Lama.
It is not known if the VIPs will still make it to Haridwar, one of the holiest sites in Hinduism.

http://hillpost.in/2011/11/08/haridwar-stampede-16-dead/34462/latest-news/hpnn

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #24 on: November 08, 2011, 09:58:01 PM »
हरिद्वार में भगदड़, 20 की मौत
=====================

अव्यवस्था के कारण फिर बिछीं लाशें और चीख-पुकार। 19 माह के अंतराल पर हरिद्वार का गंगा तट मंगलवार को दूसरी बार भयावह हादसे का गवाह बना। हरकी पैड़ी के पार नीलधारा के निकट मची भगदड़ में 20 लोगों की जान चली गई। इनमें 14 महिलाएं हैं। 50 से अधिक घायल हैं। मौका था शांतिकुंज आश्रम के संस्थापक पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य का जन्मशती समारोह। भगदड़ की वजह बताई जा रही है यज्ञकुंडों से उठता धुआं। पिछले साल अप्रैल में भी महाकुंभ के दौरान भगदड़ मची थी और 8 लोगों ने दम तोड़ दिया था।

नीलधारा से लगे लालजीवाला में बने 1551 यज्ञकुंडों में आहुति देने के लिए मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे तक बड़ी संख्या में गायत्री साधक एकत्र हो गए थे। भीड़ अधिक होने के कारण बाकी साधकों को बाहर ही रोक दिया गया। इसी बीच यज्ञ से उठते धुएं के कारण कुछ लोग बेचैनी महसूस करने लगे और यज्ञ मंडप से बाहर निकलने लगे। मंडप से बाहर निकलने और भीतर जाने की अफरातफरी में साधकों के बीच धक्का-मुक्की होने लगी। नतीजतन वहां भगदड़ मच गई। कुछ लोग जान बचाने के लिए सड़क की ओर भागने लगे।

यह देख सुरक्षा में तैनात स्वयंसेवकों के होश फाख्ता होने लगे। भगदड़ के बीच लोग एक-दूसरे पर गिरने लगे। इनमें महिलाएं भी शामिल थीं। गिर-पड़े लोग जब तक खुद को संभालते भीड़ का रेला उनके ऊपर से गुजरता चला गया। इसके साथ ही वहां कोहराम मच गया। घायलों की चीख-पुकार और बचाने की गुहार। अपने नातेदार-साथियों की तलाश में बदहवास भागते लोग।

हालात जैसे ही कुछ संभला शुरू हुआ लाशों को उठाने और घायलों को अस्पताल पहुंचाने का सिलसिला। काबिलेगौर गौर यह था कि इतने बड़े आयोजन स्थल पर न तो कोई पुलिस कर्मी नजर आ रहा था और न ही प्रशासन का कोई अधिकारी। घायलों को शताब्दी महोत्सव नगर में बने अस्थायी बेस अस्पताल में ले जाया गया, जहां समुचित इलाज की व्यवस्था ही नहीं थी। इसके बावजूद घायलों को जिला अस्पताल तक ले जाने की जहमत नहीं उठाई गई।

http://in.jagran.yahoo.com/news/national/mishap/stampede-haridwar-9-dead_5_23_8458277.html

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
Congress president Sonia Gandhi's much-anticipated public rally in Uttarakhand, the first after she underwent surgery abroad, was cancelled on Wednesday owing to her indisposition. "The Congress president is suffering from fever. Her visit to Uttarakhand has been cancelled," AICC general           secretary Janardan Dwivedi said. Besides addressing the rally, Gandhi was also expected to lay the foundation stone for the much-delayed Rishikesh-Karanprayag rail project at Gauchar in Chamoli district.


http://www.hindustantimes.com 

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
उत्तराखंड में 4 नए जिलों का रास्ता साफ

देहरादून :
उत्तराखंड कैबिनेट ने शनिवार को नए आधारभूत ढांचे संबंधी कोई प्रावधान किए बिना चार नए जिलों की स्थापना को मंजूरी दे दी। 
मुख्य सचिव सुभाष कुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा कि मुख्यमंत्री बीसी खंडूड़ी की अध्यक्षता में राज्य कैबिनेट की बैठक में नए जिलों की स्थापना का फैसला किया गया।
 
पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में चार नए जिलों रानीखेत, दीदीहाट, कोटद्वार और यमुनोत्री की स्थापना की घोषणा की थी। (एजेंसी)
http://zeenews.india.com/

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
उत्तराखंड के स्वास्थ्य विभाग का घूसखोर रंगे हाथों पकड़ा गया

करीब 50 हजार की पगार पाने वाला ड्रग कंट्रोलर पिछले दिनों रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया. जब और जांच आगे बढ़ी तो सामने आया 2 करोड़ का खजाना. देहरादून में ड्रग कंट्रोलर के लॉकर में मिले 2 करोड़ रुपये नकद, विजिलेंस टीम को पैसे गिनने में लग ढाई घंटे


http://www.youtube.com/watch?v=ReS2hWGYQio

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
जंगल से सड़क पर पहुंचा 18 फीट लंबा अजगर



   ऋषिकेश, : हाइवे पर अठारह फीट लंबे अजगर को देख कर कोई भी चौंक जाए। फिर यदि अजगर दो हों तो हालत क्या होगी समझा जा सकता है। सात मोड़ के समीप पहुंचे दो अजगर लोगों के लिए कौतूहल बन गए। अठारह फीट लंबा एक अजगर डेढ़ घंटे तक सड़क के किनारे ही पड़ा रहा।
ऋषिकेश-देहरादून मार्ग पर सात मोड़ के समीप बुधवार सुबह दो अजगर राजमार्ग पर आ पहुंचे। इस वक्त मार्ग पर वाहनों की खासी आवाजाही थी। लोगों की नजर सड़क पार कर रहे अजगर पर पड़ी तो दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।


 एक अजगर धीरे-धीरे सड़क को पार करने लगा। अजगर की चाल इतनी धीमी थी कि उसे सड़क पार करने में पंद्रह मिनट का समय लग गया। इस बीच अजगर देखने के लिए मौके पर लोगों की भारी भीट जुट गई। एक अजगर लौट कर घने जंगल में चला गया, मगर सड़क पार करने वाला दूसरा अजगर यहां हाथी की रोकथाम के लिए खोदी गई खाई में जा गिरा। सूचना पाकर वन विभाग के कर्मचारी और पुलिस मौके पर पहुंची।



उन्होंने लोगों को यहां से हटाकर अजगर को खाई से आगे की ओर निकाला। करीब पंद्रह से अठारह फीट लंबे इन अजगरों को मोबाइल कैमरे में कैद करने के लिए लोगों में होड़ लगी रही। करीब डेढ़ घंटे तक कौतूहल बना अजगर बाद में जंगल की ओर चला गया। वन क्षेत्राधिकारी गंगा सागर नौटियाल ने बताया कि अजगर पूरी तरह से स्वस्थ हैं और वह जंगल की ओर चले गए हैं। वन विभाग की टीम उन पर नजर बनाए हुए है।
   

http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttranchal/4_5_8534240.html

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #29 on: December 08, 2011, 09:46:24 PM »
 





 
  आगजनी
गंगा में खनन बंदी पर उत्तराखंड सरकार के रोल बैक से नाराज खनन समर्थकों का धैर्य जवाब दे गया। बृहस्पतिवार, 8 दिसंबर को उन्होंने हरिद्वार की सड़कों पर उतर कर खूब हंगामा काटा। एक ट्रैक्टर को आग के हवाले कर दिया गया। आगजनी में पीएसी का एक दारोगा भी झुलस गया, जबकि एसडीएम बाल-बाल बचे।

Source Dainik Jagran




 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22