Author Topic: Kumaoni-Garwali Words Getting Extinct-कुमाउनी एव गढ़वाली के विलुप्त होते शब्द  (Read 34870 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

अगास - आसमान

भीचाल  - भूकंप

पैर   -     भोस्ख्लन

चाल चमकन   - बिजली गिरना

     

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

१)  कलाट -  चिल्लाना
२)  घन्तर मारना - दूर पत्थर मारना

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

-  खाफ -  मुह

-  खफकट - बहुत ज्यादे बोलनेवाला आदमी


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

  -     चड़  -   पक्षी
  -    थोव  -  मुह.

 

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

 - मज्यून   - बीच का - यानी तीन भाई है जो भाई सबसे बड़ा और छोटे के बीच का उसे मज्यून कहते थे पहले !

 -  धडी  -  गाव में दो पार्टियों के गुट को धड या धडी कहते थे !


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

ठौर  -    अब यह शब्द जगह के लिए प्रयुक्त होता है ! लेकिन आजकल के आम बोलचाल में अब कम इस्तेमाल होता है !

कुठौर -  galat जगह 


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

मतारी - यह शब्द इजा यानी माता के लिए इस्तेमाल होता था! अब यह शब्द इंग्लिश के शब्दों में बदल गया है ! मम्मी .. इजा हो बहुत कम लोग कहते है अपनी माँ ता को पुराकारने के लिए !


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

भसी गियो -  यह शब्द . अगर कोई अच्छा आदमी बुरी आदत में फस गया तो वहां पर यह शब्द इस्तेमाल होता था!

यो मोहन तो आजकल भसी गियो !

यानी मोहन आजकल बिगड़ gya !


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

इजोली =  माँ के लिए

बजोली =  पिता के लिए..

ये दर्द में माँ बाप को पुकारने के शब्द..


खीमसिंह रावत

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 801
  • Karma: +11/-0
सयाणी= समझदार
क्रिरसाण= काम करने में तेज

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22