Author Topic: UTTARAKHANDI LANGUAGE TERMINOLOGY WITH DEFINITION- हमरी बोली  (Read 11915 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
[size=120pt]
UTTARAKHANDI LANGUAGE TERMINOLOGY WITH DEFINITION- हमरी बोली

Dosto,

There are various typical words in our languages where are cultural, geographical, music etc specific. We would define these words with in details so that people come to know the back-ground stories of these words.

Hope would also like to contribute in sharing this information here.

Regards,

M S Mehta
[/size]

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

पधानचारी 
======

यह शब्द एक पुरानी प्रथा से संबधिंत है ! अंग्रेजो के शाशन काल में गाव के मुखिया को पधान कहते थे जो कि प्रधान के नाम जाना जाता है! पधान का काम होता है जब भी कोई अंग्रेज अधिकारी गाव में आता था वो उसकी सेवा के लिए गाव में आवाज लोगो को बताता था !

प्रधान को गाव वाले कुछ जमीन पधान चारी में भी देते थे !

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

बुग्याल
=====

उत्तराखंड के ५००० - ८००० फीट की ऊँचाई के इलाकों में कुछ लोग जानवरों को चराने के लिए जाते है उन्हें बुग्याल कहते है !   

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

घात डालना
=======

जैसे की उत्तराखंड की धरती को देवी भूमि के नाम से भी जाना जाता है लोगो की देवी देवताओ में अटूट धार्मिक आस्था है! लोग पहले न्याय ने मिलने पर अपने ईष्ट देवता के पास जाकर न्याय की गुहार लगाते थे जिसे धात डालना भी कहते है!


न्याय मिलने पर लोग भगवान् के मंदिर पर पूजा अर्चना भी करते है


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

हुन्किया बौल
=========

यह शब्द संगीत से सम्भंदित है ! उत्तराखंड के कुमोँन में लोग जब रोपाई और मडुआ गोदने के समय में हुन्किया बौल पहले लगाते थे! इसमें एक आदमी हुनका (बाद्य यन्त्र) को बजाते हुए कुछ धार्मिक गानों को गाता है और पीछे लोग गाना गाने के साथ साथ काम करते है!

लोगो का तब मानना था की हुन्किया बौल में लोग संगीत के साथ काम को जल्दी कर पाते थे !

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

Raimad
=====

This word relates to cuisine of Uttarakhand. There is a tree called Timul. The fruit of this tree are used in making Raimad. To make the “Ramaid”, timul fruits are crashed in Okhli and after missing salt etc, it called “Raimad”.

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

पच्पयी
====

यह शब्द धार्मिक पूजा से सम्भंदित है ! लोग अपने मन्नत पूजा होने पर नवरात्रियों में माता भगवती को प्रसन्न करने के लिए पच्पयी को पूजा करते है ! जैसे की शब्द से ही प्रतीत होता है पच पांच (यानी पांच बलि) ! इस पूजा में पाच बलि (अलग-२ ) पशुवो की दी जाती है

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

Uprao / Tarao
=========

This words are related to agriculture. Fields there is less water for irrigation is called Uprao and fields where enough water is available for agriculture is called Tarao.


एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

उचैण
====

यह शब्द भी धार्मिक आस्था से संभंधित है ! जैसे की हमने पहले भी लिखा है देवभूमि उत्तराखंड जहाँ पर लोगो का देवी देवताओ में अटूट विश्वास है ! अगर पहले कोई दुःख वीमार हो और मन्नत मागने की बात है लोग चावल में सिक्के दाल कर उसे अपने घर में भगवान् के मंदिर के पास या अन्य जगह पर रखते थे और भगवान् से प्रण करते थे कि यदि उनकी उलझन सही वो जाय और मनचाहा वरदान मिला गया तो वे भगवान् के पास पूजा करेंगे !

इस उचैण रखना कहते है ! आधुनिकता कि इस दौर में यह अब कम ही देखने को मिलता है !

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0


Bajani
====

The forest surrounded by Baaj tree is called Bajani.

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22