Author Topic: Breaking News - तेज़ ख़बर  (Read 48329 times)

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #40 on: April 03, 2012, 02:17:36 AM »
कपकोट में ओलावृष्टि, फसल चौपट

उत्तराखंड के बागेश्वर जिले के कपकोट क्षेत्र में आज करीब 1.30 बजे जबरदस्त ओलावृष्टि हुई, जिसमें किसानों को भारी हानि की आशंका है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कपकोट, पोथिंग, ऐठान आदि गावों में लगभग 15 मिनट तक ओलावृष्टि हुई जिसमें  किसानों की फसल जैसे जौ, मसूर, गेहूं इत्यादि चौपट हुई है। सर्वाधिक हानि फलों के पेड़ों को हुई है क्योंकि इसी समय आम के बौर, आडू, खुमानी, नारंगी, माल्टा इत्यादि के पेड़ों में फूल आते हैं। बताया जा रहा है कि ओलावृष्टि से ज्यादा नुकसान पोथिंग गाँव में हुआ है।


सरयू घाटी में ओलों से फल-सब्जियां नष्ट

चार मवेशियों की मौत, नाचनी-बेरीनाग में अंधड़

सरयू घाटी के कई गांवों में सोमवार को आफत बनकर बरसे ओलों ने रबी की फसल के साथ ही फल और सब्जियों को बरबाद कर दिया। ओलों की मार से गांसी गांव में तीन गाय और एक बछडे़ की मौत हो गई। उधर बागेश्वर, बेरीनाग, नाचनी में बारिश और कहीं-कहीं बूंदाबांदी हुई। अंधड़ से कई जगह पेड़ धराशायी हो गए।
सोमवार को दोपहर बाद मौसम ने अचानक करवट बदली। एक से दो बजे तक गांसी, लाहुर, मुनार, सुडिंग, सूपी, मिकिला खलपट्टा, झूनी गांवों में जबरदस्त ओलावृष्टि हुई। ओलों की मार से गांसी गांव में भवान सिंह, भगवत सिंह, महिमन सिंह की एक-एक गाय तथा रमन सिंह के बछड़े की मौत हो गई। लगातार एक घंटे तक ओले गिरने से रबी की फसल चौपट हो गई। फलदार पेड़ों में आए फूल तथा बौर भी नष्ट हो गए। बुजुर्गों का कहना है कि उन्होंने इतने वजन के ओले पड़ते पहले कभी नहीं देखे थे। एडवोकेट गोविंद सिंह गस्याल, ग्राम प्रधान नंदी गस्याल, चंपा गस्याल, शेर सिंह, पंकज, दामू सिंह पंडा, चंदन सिंह ने प्रशासन से काश्तकारों को मुआवजा देने की मांग की है। एसडीएम फींचा राम के अनुसार पटवारी को नुकसान का आकलन करने के निर्देश दे दिए हैं।
बागेश्वर, रीमा, पचार, धरमघर क्षेत्र में हल्की बूंदाबांदी हुई। पिथौरागढ़ में हल्की बूंदाबांदी तो बेरीनाग और नाचनी क्षेत्र में शाम के वक्त गरज के साथ बारिश हुई। अंधड़ चलने और अंधेरा छाने से मौसम इतना डरावना हो गया था कि लोगों को जहां का तहां रुक जाना पड़ा।

स्रोत : अमर उजाला

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #41 on: May 31, 2012, 08:47:38 AM »
जौनपुर के पास पटरी से उतरी दून एक्सप्रेस, चार मरे


जौनपुर: उत्तर प्रदेश के जौनपुर से लगभग 35 किलोमीटर की दूरी पर कोरीडिया गांव और महरवा स्टेशन के पास हावड़ा से देहरादून आ रही दून एक्सप्रेस के कई डिब्बे पटरी से उतर गए, जिसमें पीटीआई के मुताबिक कम से कम चार लोगों की मौत हो गई है, और 10 अन्य के घायल होने का समाचार है।
 
 जौनपुर स्टेशन से रवाना होने के 12 मिनट बाद दोपहर लगभग 1:15 बजे हुए इस हादसे में पांच स्लीपर कोच पूरी तरह पटरी से उतरकर पलट गए, जबकि तीन अन्य कोच पटरी से उतरने के बाद पलटे नहीं, जिनमें से दो एसी कोच हैं। हादसे के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है।
 

 हादसे में अनेक लोगों के मलबे के नीचे दबे होने की आशंका है, तथा वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी तथा राहत टीमें मौके पर पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा बचाव उपकरणों के साथ एक राहत ट्रेन भी घटनास्थल की ओर जा चुकी है। पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने भी इसकी पुष्टि की है।
 
 मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये और घायलों को 1-1 लाख रुपये देने की घोषणा की गई है। मृतकों के परिवार को नौकरी भी मिलेगी।               

http://khabar.ndtv.com/news/show/doon-express-derails-near-jaunpur-in-uttar-pradesh-21721

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #42 on: June 06, 2012, 05:35:08 PM »
बीरोंखाल में चोरों के निशाने पर मंदिर
=====================

ब रोंखाल प्रखंड में इन दिनों चोरों का आतंक है। चोर मंदिरों को निशाना बना वहां से घंटे/छत्र उड़ा रहे हैं। चोरों ने छंगा तल्ला व मासी के मंदिरों से पीतल के घंटे, चांदी के छतर सहित नकदी उड़ा ली। ग्रामीणों ने राजस्व पुलिस ने चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने व बाहरी लोगों के सत्यापन की मांग की है।

बीरोंखाल प्रखंड स्थित मंदिरों में इन दिनों लगातार चोरी की घटनाएं हो रही हैं। घटनाओं का सिलसिला विगत शनिवार रात से शुरू हुआ, जब चोरों ने नंदाखेत स्थित नंदा देवी मंदिर से करीब 35 किलो पीतल की घंटे, चांदी के छत्र व नकदी पर हाथ साफ कर दिया। इसी रात उन्होंने पास स्थित खलदार के भगवती मंदिर से घंटे व नगदी चुरा ली। रविवार रात चोरों ने गेहूंलाड व बड़ियाना के मंदिरों से करीब 70 किलो पीतल के घंटे व चढ़ावे की धनराशि उड़ा दी। वहीं, बीती रात छंगा तल्ला, मासी के मंदिरों से करीब 90 किलो पीतल के घंटे व चांदी के छतर उड़ा लिए।

ग्राम मासी की प्रधान कीर्ति निधि पाल की ओर से राजस्व पुलिस में चोरी की शिकायत दर्ज कराई गई है। उधर, क्षेत्र में लगातार हो रही चोरी की घटनाओं से ग्रामीणों में दहशत है। रमेश बौड़ाई आदि ग्रामीणों ने राजस्व पुलिस पर बाहरी क्षेत्रों के संदिग्धों की गतिविधियों पर ध्यान न देने व सत्यापन न करने का आरोप लगाया है। उन्होंने राजस्व पुलिस ने क्षेत्र में आने वाले बाहरी लोगों का सत्यापन कार्य तत्काल शुरू कराने की मांग की है।


http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttranchal/4_5_9340175.html

विनोद सिंह गढ़िया

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,676
  • Karma: +21/-0
कपकोट के पोथिंग गाँव में बादल फटने से भारी तबाही

बागेश्वर जिले में कपकोट के पोथिंग गाँव में बादल फटने से भारी तबाही की आशंका है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पोथिंग में कई घर ध्वस्त हुए हैं, जिनमें कई मवेशियों के दबे होने की आशंका है साथ ही अभी तक 1 व्यक्ति की दबकर मरने की पुष्टि हुई है। 





एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0

उत्तराखंड के CM विजय बहुगुणा के खिलाफ वारंट
 
   Oct 2, 2012, 08.44PM IST
 देहरादून।। एक स्थानीय अदालत ने दो मामलों में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, मंत्रिमंडल में शामिल 3 कैबिनेट मंत्रियों और एक कांग्रेसी विधायक के खिलाफ वारंट जारी किया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि जुडिशल मजिस्ट्रेट,ज्योति बाला ने दो अलग-अलग मामलों की सुनवाई करते हुए इस बात का भी संज्ञान लिया कि पुलिस पिछले सवा साल के दौरान जारी वारंट की तामील करा पाने में विफल क्यों रही।
 
 जुडिशल मजिस्ट्रेट ने दोनों मामलों में अगली सुनवाई के लिए 23 अक्टूबर की तारीख निश्चित की है। इस बाबत पूछे जाने पर देहरादून की सीनियर पुलिस अधीक्षक नीरु गर्ग ने कहा कि अगर अदालत ने वारंट जारी किए हैं तो पुलिस उनकी तामील कराएगी।
 
 http://navbharattimes.indiatimes.com/warrant-against-uttarakhand-cm-vijay-bahuguna/articleshow/16643526.cms

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
अजमल कसाब को फांसी पर लटकाया गया

नई दिल्ली।। 26/11 मुंबई अटैक के गुनहगार पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब को फांसी दे दी गई है। कसाब को मुंबई की ऑर्थर रोड जेल से पुणे की यरवदा जेल में शिफ्ट कर बुधवार सुबह 7.30 बजे फांसी पर लटकाया गया। फांसी के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कसाब को फांसी दिए जाने की पुष्टि की है।
 
 तस्वीरों में: शिकंजे से फांसी के फंदे तक कसाब
 
 केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने बताया कि गृह मंत्रालय ने 23 अक्टूबर को ही राष्ट्रपति से सिफारिश की थी कि कसाब की दया याचिका को खारिज कर दिया जाए। इसके बाद 5 नवंबर को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने कसाब की दया याचिका को खारिज कर दिया। शिंदे ने बताया कि 8 नवंबर को ही यह तय हो गया था कि कसाब को 12 तारीख को फांसी दे दी जाए। इस बारे में महाराष्ट्र सरकार को उसी दिन जानकारी दे दी गई थी।
 
[color=14px][ जारी है ][/color][/size]
मंगलवार को कसाब को मुंबई की ऑर्थर रोड जेल से पुणे की यरवदा जेल में गुपचुप तरीके से शिफ्ट कर दिया गया था। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यरवदा जेल में फांसी देने का इंतजाम है। उसकी फांसी बुधवार सुबह साढ़े सात बजे तय की गई थी, जिसे तय समय पर अंजाम दे दिया गया। 25 वर्षीय कसाब को जनवरी 2008 से ऑर्थर रोड जेल में था।
 
 इससे पहले महाराष्ट्र के गृह मंत्री आर.आर. पाटिल ने भी कसाब को फांसी दिए जाने की पुष्टि की। प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि पूरी प्रक्रिया के बाद आज सुबह 7.30 मिनट पर यरवदा जेल में कसाब को फांसी दे दी गई। उन्होंने कहा, 'पूरी दुनिया के सामने कसाब का अपराध साबित हुआ और आखिरकार उसे फांसी दे दी गई। यह 26/11 के हमले में मारे गए निर्दोष लोगों और शदीह ऑफिसर्स के लिए श्रद्धांजलि है।'
 
 अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि कसाब की डेड बॉडी का क्या किया जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्री के मुताबिक इस बारे में पहले ही पाकिस्तान को लेटर भेजा गया था, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं आया है। कसाब को फांसी देने के बाद पाकिस्तान को दोबारा एक फैक्स भेजकर कसाब को फांसी दिए जाने की जानकारी दी गई है। शिंदे के मुताबिक अगर पाकिस्तान सरकार की तरफ से कसाब का शरीर लिए जाने का अनुरोध आता है, तब इस पर विचार किया जाएगा।
 
 कसाब उन 10 पाकिस्तानी आतंकियों में से एक था, जिन्होंने समंदर के रास्ते मुंबई में दाखिल होकर 26/11 हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में 166 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि कई लोग घायल हो गए थे। हमला करने से पहले इन आतंकियों ने गुजरात कोस्ट से एक भारतीय बोट को हाइजैक करके उसके कैप्टन को भी मार दिया था।
 
 कसाब ने सितंबर में राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजी थी। इससे पहले 29 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने भी मामले को बेहद 'रेयर' बताकर कसाब की फांसी की सजा पर मुहर लगा दी थी। जस्टिस आफताब आलम और सी. के. प्रसाद ने मुंबई हमले में पकड़े गए एक मात्र जिंदा आतंकी कसाब के बारे में कहा था कि जेल में उसने पश्चाताप या सुधार के कोई संकेत नहीं दिखाए। वह खुद को हीरो और देशभक्त पाकिस्तानी बताता था। ऐसे में कोर्ट ने माना था कि कसाब के लिए फांसी ही एकमात्र सजा है।


http://navbharattimes.indiatimes.com

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,904
  • Karma: +76/-0
उत्तराखंड के पहले सीएम स्वामी नहीं रहे

जागरण संवाददाता, देहरादून: उत्ताराखंड के पहले मुख्यमंत्री नित्यानंद स्वामी नहीं रहे। बुधवार सुबह राजधानी के सीएमआइ अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। वह 84 वर्ष के थे। स्वामी अपने पीछे चार पुत्रियों का भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं। स्वामी मंगलवार की रात ही दिल्ली से दून लौटे थे। बुधवार शाम को यहां लक्खीबाग स्थित श्मशान घाट में पूरे राजकीय सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई। राज्यपाल व मुख्यमंत्री समेत राजनीति जगत की तमाम हस्तियों ने उनके निधन पर गहरा शोक जताया है। सरकार ने राज्य में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। राज्यभर में सरकारी कार्यालयों पर राष्ट्रीय ध्वज आधे झुका दिए गए। देहरादून जिले के सभी सरकारी कार्यालयों, विधानसभा, सचिवालय उनके सम्मान में बंद कर दिए गए। इस बीच, विधानसभा में दिवंगत स्वामी को श्रद्धांजलि देने के बाद सत्र पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया।
 मंगलवार देर रात दिल्ली से अपने नाती की शादी में शिरकत कर राजधानी लौटे पूर्व मुख्यमंत्री स्वामी को अचानक स्वास्थ्य बिगड़ने पर सीएमआइ अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। स्वामी के निधन की खबर मिलते ही राजनीतिक गलियारों में शोक छा गया और उनके पार्क रोड स्थित निवास पर श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों की भीड़ उमड़ने लगी। मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट समेत मंत्री-विधायक, राजनीतिक दलों के नेताओं और सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों ने उनके निवास पर पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की। राज्यपाल के दिल्ली प्रवास पर होने के कारण उनके प्रतिनिधि के रूप में प्रमुख सचिव अशोक ने पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित किया।




 शाम चार बजे स्वामी की अंतिम यात्रा शुरू हुई और उनकी पार्थिव देह को लक्खीबाग स्थित श्मशान घाट ले जाया गया। जहां पूरे राजकीय सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई। चिता को मुखाग्नि उनके नाती विनायक शर्मा ने दी। इस मौके स्व.स्वामी के परिजनों समेत राजनीतिक दलों व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।
 27 दिसंबर 1928 को नारनौल  में जन्मे नित्यानंद स्वामी के जीवन का अधिकांश हिस्सा देहरादून में ही बीता। उनके पिता वन अनुसंधान संस्थान  में तैनात थे। उनका विवाह चंद्रकांता से हुआ। उनकी चार पुत्रियां हैं।
 स्वामी के राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1950 में डीएवी कालेज के अध्यक्ष चुने जाने के साथ हुई। 50-60 के दशक में वह जनसंघ के सक्रिय कार्यकर्ता रहे। शुरुआत में वह कांग्रेस से जुड़े रहे और बाद में भाजपा से जुड़ गए। 9 नवंबर 2000 को उत्ताराखंड के अस्तित्व में आने पर स्वामी यहां के पहले मुख्यमंत्री बने। उनका कार्यकाल 11 महीने 20 दिन रहा। यूपी में वह विधान परिषद सभापति भी रहे।
 राज्यपाल डा.अजीज कुरैशी व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने ने पूर्व मुख्यमंत्री नित्यानंद स्वामी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। अपने शोक संदेश में उन्होंने कहा स्वामी का निधन से राज्य ने एक कुशल राजनीतिक खो दिया है।



(source dainik jagran)

Devbhoomi,Uttarakhand

  • MeraPahad Team
  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 13,047
  • Karma: +59/-1
Re: Breaking News - तेज़ ख़बर
« Reply #47 on: January 13, 2013, 08:49:11 PM »

बस खाई में गिरी, 26 घायल

चम्बा: चम्बा, उत्तरकाशी मोटर मार्ग पर बस के खाई में गिरने से उसमें सवार 26 लोग घायल हो गए। चार घायलों की गंभीर स्थिति को देखते उन्हें देहरादून रेफर किया गया।

शुक्रवार सुबह नौ बजे चम्बा से उत्तरकाशी जा रही बस संख्या यूए-104757 अनियंत्रित हो कर चम्बा से कुछ आगे हडमतल्ला गांव के समीप सौ मीटर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में बस में सवार 26 लोग घायल हो गए। उन्हें पीएचसी चम्बा में भर्ती कराया गया।

घायलों में बस चालक 30 वर्षीय बलवीर लाल पुत्र सोहन लाल निवासी ग्राम हडोली पुरोला, अनुराधा सकलानी पत्‍ि‌न रामस्वरूप सकलानी निवासी सुमन कालोनी चम्बा, बचन दास पुत्र कमल दास निवासी ग्राम धनारी उत्तरकाशी व प्रमोद कुमार पुत्र काशीराम ग्राम कटखेत निवासी की हालत गंभीर देखते उन्हें देहरादून रेफर किया गया है।


] ग्राम हडम व गुल्डी के ग्रामीणों के साथ चम्बा पुलिस के जवान, तहसीलदार मीनाक्षी पटवाल मौके पर पहुंचे और घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। वही टिहरी के विधायक दिनेश धनै ने अस्पताल में पहुंचकर घायलों के हालचाल पूछे। दुर्घटना का कारण सड़क पर पड़ा पाला माना जा रहा है है। बस में 30 से अधिक लोग सवार थे।




 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22