Author Topic: Tantra and Mantra of Garhwal, Tantra and Mantra of Kumaun, Tantra and Mantra of  (Read 80454 times)

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,022
  • Karma: +22/-1
कत्यूरी उखेल /उषेल मंत्र -१

इंटरनेट प्रस्तुति - भीष्म कुकरेती

( रणवीर सिंह चौहान , चौरस की धुंयाल से साभार जिन्होंने करोड़ जी , ग्राम कटोली पावो घुड़दौड़ स्यूं  से यह मंत्र  प्राप्त किया )

आसंती राय को पाट -वासंती राय को पाट -गोरख राय को पाट
सावंलो को पाट -इनदेव को पाट तिन देव को पाट
प्रतापी मानदेव को पाट -दूला धामदेव को पाट
काया कत्यूर दूधवंशी राजा को कार से उषेलू
छमुना पातर की कार से उषेलू -हमेरू नाइक का कार से उषेलू
नकुवा ंकुवा -बिछुवा मसाण की कार से उषेलू -जिया बासुदेव की कार
से उषेलू -दुधि गुरु की कार से उषेलू
 
Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Pauri Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Chamoli Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Rudraprayag Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Tehri Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Uttarkashi Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Dehradun Garhwal;Mantra/Tantra/Jagar Folk Songs from Haridwar Garhwal;

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,899
  • Karma: +76/-0

Very informative sir... thanx

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,022
  • Karma: +22/-1
Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Garhwal;


 गढ़वाल से एक उखेल मंत्र

प्रस्तुति - भीष्म कुकरेती


(साभार , डा रणवीर सिंह चौहान , चौरास की धुंयाल। जिन्हे दिवाकर दत्त बौठियाल, ग्राम बौंठ, अपुडी गढ़वाल ने यह मंत्र प्रेषित किया )

सती जग मधे रे स्वामी श्री मसूर आदिनाथ अन्यार जगें -अरदंगे -गोरिजा देवी -पीर वृष -गजा कटार आसण वैसण -सांगिसण डंडा :डबोरु सतीजुग मधे कितने वर्ष की मणस्वात  ओष्यां बोली जै रे स्वामी -
बर्मा की मुंडी हंकार पोलु भूत प्रेत की बाण उखेलूं
डोम अघोरनाथ भैरों उखेलूं सन्यासी को कछिया उखेलूं
हाक टेक लगे तो सकती पातळ जावे
हीर्र हीर्र - ५ फ़टे - सुवाहा फुर्र मंत्र ईश्वरोवाच:
सेलो हाथ ऐलो गात -सेली खान सेली बुद्ध मुंड को
मुण्डारो पेट को तलारो खावो कोडयाळी गले को जा
पूरी कर देइ खेती मा सारो भंडार मा फारो करी
गाय इत तैं अछि पूर्ति करी म्यालू सैणी डालू
कि सचाय सु तू उसू मिल बैठाली देई
अजाण की पूजा सजाण कैरी देई परमेश्वर
महाराज दोष को निर्दोष करी दे

Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Pauri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Chamoli Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Rudraprayag Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Tehri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Uttarkashi Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar/Folk Songs from Dehradun Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Haridwar Garhwal;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,022
  • Karma: +22/-1
Ukhel/ushel Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Garhwal

   गढ़वाल से कैंतुरा  उखेल मंत्र व वार्ता - १२२


प्रस्तुति - भीष्म कुकरेती

(साभार , डा रणवीर सिंह चौहान , चौरास की धुंयाल। जिन्हे श्री सुरेशानंद भगत जी पावो पौड़ी  गढ़वाल ने यह मंत्र प्रेषित किया )


कुछ मंत्र विशेष समय जै से भूत  भगाते  समय उखेल मंत्र, नाचते हुए या रोट काटते समय जागर के रूप में प्रयोग किये जाते हैं।  उनमे से एक उखेल मंत्र इस प्रकार है -

पहले उपजे सुन सुन से उपजे सुनकर से उपजे ऊंकारसे उपजे फुंकार -से उपजे धों धों कार हरा निर्जल से उपजे चंदन की डाली - से उपजे चन्द्रदेव -से उपजे अमरदेव -से उपजे धर्मदेव - से उपजे सूजन देव से - उपजे प्रिथिम देवसे -उपजे धामदेव -धामदेव को छ भाई हुए -छनि कुंवर मानी -कुंवर -सालू -संग्राम -वसु कुंवर -हंसा कुंवर के दूणी और मूर्ति के संतो और संतोगो हुए

Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Pauri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Chamoli Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Rudraprayag Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Tehri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Uttarkashi Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar/Folk Songs from Dehradun Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Haridwar Garhwal;



Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,022
  • Karma: +22/-1
      कैंतुरा पूजा वार्ता (उषेल )

     इंटरनेट  प्रस्तुति - भीष्म कुकरेती


(साभार , डा रणवीर सिंह चौहान , चौरास की धुंयाल। जिन्हे करोड़ चंद , कोटली , पावो ,घडदौड़स्यूं  पौड़ी गढ़वाल ने यह जागर /पूजा वार्ता /उखेल मंत्र प्रेषित किया )

झाली माली देवी -ब्वै का खाडू - वे ताल मुखी छुरी
स्वर्ग ले खांचड़ी -पाताल निवासणी -
जै राजा न आम सौड़  का आम साधो धाम सौड़ का धाम
तपोवन को धाम साधो -गंगोली घात को केएम काटो
चौण्डलीया घाट को नकुवा मसाण साधो
जा जा रे राजा सत का राजा -नीम का राजा -धर्म का राजा
बड़ा राजा -छोटू छोटे के निरघोर कन्या कुँवारी का पाट
गज पृथ्वी का पाट कास मा धोलो -कंसराया की पाट
फैण में धोल्यो फैणराय को पाट -बगड़ मा धोल्यो बगड़राय को पाट
राजा मर्मदेव को पाट - राजा बिरमदेव को पाट
नीलीचौंरी उस्मान को पाट
आसंतिराय को पाट -वासंती राय को पाट
गोरा राय को पाट -सांवला का पाट
राजा आत्मदेव का नातिण -पृथ्वीदेव का नातिण
गंगा हापणी सूरज तापणी -सूरजबंशी राजा दुलाराजा धामदेव
तेरो ऊंकारो बाबा -मार झण को राजा
प्रथम चले रे बाबा सूर्यवंशी राजा
बोल बोल खली का देवता कौन ?
असलदेव मसलदेव लूणा लाड़लो शाही भिंगबान
बावरो मालूशाही -
प्रथम चले रे बाबा ऐ दाषणी को नाती वैदासणी को नाती
चलदा वाणी -
सेखर कारीगर म भौत विछुवा साणी
राजा सत जी को पुरखो मंगल हाथी -चौदंतो बाग़
सिंगणी की बिच्छी कल्यालो को लेखो
प्रथम जल भूमि -जल माँ तुम्बीतुम्बी जलम्यो
जल को जलम्यो सता -संत की जन्मी डाळि
जलंधर देस म लगे रे बाबा बिरमोटिया मसाण
घसेरी को घास तोड़ो -पनेरी को पाणी तोड़ी
चल रे बेटे कादो वाच वार बैठ्यो
तब ढेला आसंडी पवांर
माथो नवाणो कैला खुर का खाणो
दूध भात का खाणो -नित पान को खाणो
बड़े राजा ओमराणा को पाट -धूमराणा को पाट
गोकर्ण को पाट -
बाइस गज की झगुली -गजाभर का तणा
बाइस खली का माल - बूढ़ा अमरदेव का पाट
तब चल रे बाबा अन्तोकरगी संतोकारंगी -बाज कारंगी
मुस्त कारंगी -धोगिया कारंगी -उबला साणी -माता नागणी को जाया
पिता सेवाज को जाओ -सैनार को विछुवा साही
जहां मैं बुलाऊँ तहाँ नि आई -जहां मै पठाउं नी तू आई
तो राजा धामदेव को राव और ठाँव कु पूड़ा नी पाई
बड़ी जिया का गावेण हकलाई
राजा दुलाशाही की दुआई






Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Pauri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Chamoli Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Rudraprayag Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Tehri Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Uttarkashi Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar/Folk Songs from Dehradun Garhwal; Mantra/Tantra/Jagar /Folk Songs from Haridwar Garhwal;

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22