Author Topic: Tourism and Hospitality Industry Development & Marketing in Kumaon & Garhwal (  (Read 26691 times)

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
 आयुर्वेद औषधि तंत्र में नैदानिक परीक्षण की मुख्य समस्यायें



Problems with  Clinical Trials in folk or Ayurvedic  Medicine
s

चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 51

 Medical Service Export Strategies - 51

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 234

Medical Tourism development Strategies -234

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 355

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -355   

 

आलेख - विपणन आचार्य भीष्म कुकरेती

-

  साधारण तया आयुर्वेद , सिद्ध व यूनानी औषधियां विदेशों में भोजन परिपूरक या डाइटरी सप्लीमेंट्स के रूप में बेचीं जाती हैं।  अमेरिका आदि देश अब पादप औषधि में नैदानिक परीक्षणों पर जोर दे रहे हैं और नैदानिक परीक्षण हेतु नैदानिक परीक्षण हेतु धन व संसाधन उपलब्ध भी करा रहे हैं।  आयुर्वेद या पादप औषधि तंत्र में नैदानिक परीक्षण के आधारभूत समस्याएं भी हैं जो मुख्य इस प्रकार हैं -

- पशु परीक्षण में सभी पादप सफल नहीं हो पाती हैं

- परीक्षण हेतु पुख्ता मानक विधि न होना

- डोजेज में कोई मानक न होना

- रोगियों की संख्या पर परीक्षण के कोई मानक न होना

-स्वाद में विभिन्नता (समय व अन्य बातें भी प्रभाव डालते हैं )

- निदान का समय लम्बा होता है

- पादप किस भूमि पर उगा है उसका प्रभाव जैसे पादपों में प्राप्त धातु या अन्य रसायनों का अनुपात जैसे  कृषि समय या वनों में जल कमी से कई धातु पादपों में अधिक जमा हो जाते हैं , मुख्य कारण पादपों के अवयव पर भूमि , भौगोलिक , भूगर्भीय , जल आदि से विभिन्नता आना

- पादपों में कीटनाशक दवाईयों का प्रभाव

-क्रियाशील अणु आदि में मानक न होना या मानक स्थापित होने की  मूल बहुत समस्याएं

- बहुत से पादपों का रसायनिक अवयवों का पूरा ज्ञान न होना (मानक समस्या )

- भण्डारीकरण व तापमान व वास्प में अंतर् होने से औषधि फल में विभिन्नता (इन सबका पादप के गुणों पर प्रभाव )

- औषधि अवयव मिश्रण व अन्य सहयोगी औषधि में मानक न होना

- रोगी द्वारा लिए गए अन्य भोजन का पादप औषधि पर प्रभाव

- समय  (कब तक औषधि लेना , कब कब लेना ) के बारे में कोई मानक न होना

- औषधि पादपों में विष की पूरी जांच न होना

-दूसरी औषधियों का पादप औषधि पर प्रभाव का कोई रिकॉर्डेड ज्ञान न होना

- सूक्ष्म दर्शी जीवों के पादप व औषधि पर पभाव पर मानक न होना

- बहुत से पादप रस जैसे आंवला , बुरांस रास के भण्डारीकरण रीति व समय (expiry समय ) में कोई वैज्ञानिक मानकों का न होना।

- ऐलोपैतिक औषधियों पर पादप औषधि का प्रभाव या ऐलोपैथी औषधियों का पादप औषधियों पर कोई मानक खोजों का न होना। 

- एक उदाहरण भूत (दिमाग सुन्न होना या भूतकाल में पंहुच जाना या डर आदि ) पर कंडाळी झपांग से प्रभाव पड़ा या बाकी के जोर की आवाज से प्रभाव पड़ा पर कोई मानक वैज्ञानिक खोज न होना

- औषधि निर्माताओं के पास रिसर्च लैब का न होना या लापरवाहियां

- आयुर्वेद , सिद्ध , यूनानी या आमची तंत्र के वर्तमान अथवा भूतकाल के वैज्ञानिक अन्वेषणों का समग्र रूप से साहित्य एकत्रीकरण  होना याने समग्र साहित्य का एक साथ न मिलना।

-    वैद्यों  द्वारा किये गए व्यक्तिगत प्रयोगों का साहित्य प्रकाशन न होना  व वैयों द्वारा वर्तमान अन्वेषणों का ज्ञान न होना

  आयुर्वेद औषधि या अन्य पादप औषधी तंत्र के क्लिनिकल ट्राइयल में अन्य कई समस्याएं भी उपरोक्त समस्याओं के जोड़ से पैदा होती हैं उनका निदान आवश्यक है। 

-





Copyright@ Bhishma Kukreti, 2018, bjkukreti@gmail.com

Clinical Trials in Ayurvedic  medicines , Medical Services  Export  development in Garhwal , Uttarakhand ; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;  Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in   Almora Kumaon , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand; Clinical Trials in Ayurvedic medicines , Medical Services  Export  development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;


पौड़ी गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल  सेवा निर्यात विकास हेतु आयुर्वेद औषधियों का नैदानिक परीक्षण विधि सुधार :


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ



 Challenges for developing Medicinal Plants Industry


चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 51

 Medical Service Export Strategies - 51

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 234

Medical Tourism development Strategies -234

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 355

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -355   

 

आलेख - विपणन आचार्य भीष्म कुकरेती

-

    आयुर्वेद चिकित्सा पर्यटन हेतु औषधि  पादप एक उद्यम विकसित होना आवश्यक है। ख्यातिप्राप्त डा चंद्रप्रकाश काला  व अन्य वैज्ञानिकों के खोजों अनुसार  औषधि पादप उद्यम बनने के सामने निम्न चुनौतियाँ हैं -

१- औषधि पादपों में विभिन्नताएं - कोई मानक न होने से कठिनाईयां

२- स्वदेश व विदेश में मांग वृद्धि व उसके अनुसार  औषधि पादप उत्पादन (कृषिकरण ) व वनों से एकत्रीकरण की कठिनाईयां , कहीं कहीं वन पादपों का कृषि कर्ण से अति उत्पाद, 

३- बड़ी मात्रा में वन पादपों का दोहन जिससे पादप का अस्तित्व ही खतरे में पद गए हैं

४-  बहुत से महत्वपूर्ण पादप दुर्लभ होते हैं जिनका कृषिकरण व वन उत्पादन शीघ्र नहीं हो सकता जैसे काफल , बुरांस या अन्य पेड़

५- कुछ पादप हर जगह नहीं उग सकते या कुछ ही स्थानों में उग सकते हैं (दुर्लभता )

६- औषधि पादप कृषि हेतु समुचित ज्ञान न होना और किसानों तक यह ज्ञान पंहुचाने की समस्या

७- औषधि पादप उत्पादन हेतु कृषि तकनीक की उनुप्लब्धता केवल 1 औषध पादपों हेतु कृषि तकनीक उपलब्ध है

८- सुविधाजनक या जन हितकारी वन नीति न होना

९- कृषकों के मध्य प्रशिक्षण व  संचार व्यवस्था की समस्याएं

१० - जनता मध्य पारम्परिक कृषि का लोभ व औषधि पादप कृषि के लाभ की जानकारी न होना

११ -औषधि पादप कृषि में सिद्धहस्त न होने से कृषकों के मन में  औषधि पादप से लाभ पर संदेह

१२- प्रशासन व राजनैतिक चेष्टा शक्ति न होना

१३- मांग में कमी व अधिकता  का अनुमान न होना

१४- विभिन्न भागीदारों मध्य सामंजस्य न होना

१५-पत्रकार संपादक  दिनेश कंडवाल अनुसार कई NGO द्वारा सरकारी सब्सिडी लाभ कमाना किन्तु कृषि तकनीक विकास हेतु   सही ढंग से कार्य न करना (किमसार उदयपुर के एक NGO का उदाहरण देकर सचित्र सिद्ध किया कि वह  NGo मालप्रैक्टिस या कदाचार में लिप्त था )

१६- कृषकों मध्य विपणन की समस्या



  यह लेख जॉर्नल ऑफ एथनो बायोलॉजी व एथ्नोमेडिसिन (2006  ) में प्रकाशित   डा चन्द्रप्रकाश, पीतांबर ध्यानी व सजवाण के  लेख -डेवलपिंग द मेडिसिनल प्लांट सेक्टर इन नार्थ इंडिया :चैलेंजेज ऐंड ओपोर्चुनिटीज व अनीस खों पर आधारित है )





Copyright @Bhishma  Kukreti , bjkukreti@gmail .com

Challanges Medicinal Plants Industry for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in moli Garhwal , Uttarakhand;  Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand; Challanges Medicinal Plants Industry for  Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;



पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु औषधि पादप उद्यम की चुनौतियाँ :


 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
औषधि पादप जैविक कृषि : केरल से लोहा लेने का स्वर्णिम अवस



 Cultivation of  Organic Medicinal Plants 


चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 52

 Medical Service Export Strategies - 52

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 235

Medical Tourism development Strategies -235

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 356

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -356   

 

आलेख - विपणन आचार्य भीष्म कुकरेती

-

  अमेरिका व कई अन्य विकसित देशों में आयुर्वेद व औषधि पादप निर्यात में नैदानिक परिक्षण के अतिरिक्त एक अन्य समस्या आती है कि रसायनिक खाद , कीटनाशक दवाईयों, फैक्ट्रियों के कचरा वाले जल से सिचाई उपयोग के कारण दवाईयों व पादपों में अबांछित रसायन , भारी धातु जैसे सीसा , पारा व आरसनिक का मिलना। 

  विकसित देश अब जैविक अन्न व जैविक औषध पादप व जैविक औषधि के प्रति अधिक ढल रही है।  भरत में सन 60 के पश्चात हरित क्रान्ति आने रसायनिक खाद व रसायनिक कीटनाशकों , उत्पादन वृद्धि हेतु कई रसायन उपयोग बढ़ा।  औषधि पादप कृषि में भी रसायनों की खपत बढ़ी।  किन्तु अब विकसित देशों के उपभोक्ता जैविक उत्पादों की और अधिक आकर्षित हो रहे हैं।  विकसित देशों द्वारा जैविक औषधि व जैविक औषधि पादपों की ओर आकर्षण वास्तव में निर्यात हेतु नए अवसर प्रदान करने वाली खबर है।

     कई कंपनियां जैसे डच कम्पनी IHC /Vander Stelt  निखालिस जैविक पद्धति से उगाये गए औषधि पादप खरीदती है व विकसित दक्षिण में वितरित करती है। 

   जैविक औषधि पादप उत्पाद में अधिक लाभ मिलता है।

जैविक कृषि वातावरण व मानव हिट में है।

 जैविक औषधि पादप की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ रही है और यह मांग बढ़ती ही रहेगी अतः कह सकते हैं जैविक औषधि पादपों व जैविक पादप से उत्पादित औषधि हेतु बाज़ार बना बनाया है।

  जैविक औषधि पादप अपने आप में विशिष्ठ है (Exclusive ) अतः विपणन में सरल है।

  जैविक कृषि स्वतः ही अन्य व्यवसाय को जन्म देता है जैसे जैविक खाद हेतु पशु पालन , फसल चक्र हेतु दाल उत्पादन व नीम , डैन्कण , टिमुर वनीकरण के अन्य लाभ, केंचुआ उत्पादन से अन्य लाभ। 

   जैविक कृषि हेतु स्वतः ही स्वच्छ जल की व्यवस्था हो जाती है।

  सरकारें भी जैविक कृषि को पटसाहन दे रहीं हैं जो जैविक खेती किसानों हेतु हितकारी हैं।

उत्तराखंड  औषधि पादप कृषि से कल से लोहा ले सकता है और आयुर्वेद टूरिज्म में अग्रणी अस्थान प्राप्त कर सकता है।   



Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in moli Garhwal , Uttarakhand;   Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Organic  Farming   of Medicinal Plants for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि ;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि ; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक औषधि पादप कृषि  :


 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
[b]जैविक कृषि में क्यूबा की क्रांति



Cuban Story for Organic Farmin[/b]
g



चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 52

 Medical Service Export Strategies - 52

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 235

Medical Tourism development Strategies -235

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 356

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -356   

 

आलेख - विपणन आचार्य भीष्म कुकरेती

-

  उत्तराखंड को मेडकल टूरिज्म विकास हेतु आयुर्वेद , योग व प्राकृतिक चिकित्सा (वैकल्पिक चिकित्सा ) विकसित करना आवश्यक है।  आयुर्वेद चिकित्सा पर्यटन में उत्तराखंड को केरल से प्रतियोगिता होनी ही है।  केरल की छवि अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर पर उत्तराखंड की तुलना में अधिक है।  अतः मार्केटिंग वॉर फेयर के मूल सिद्धांत अनुसार उत्तराखंड को निम्न विकल्प आवश्यक हैं -

जैविक पादप आधारित आयुर्वेद निर्माण शालाएं

 जैविक पादप आधारित आयुर्वेद औषधालय 

सम्पूर्ण उत्तराखंड में केवल जैविक औषधि पादप उत्पादन।

      अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्यूबा व राष्ट्रीय स्तर पर सिक्किम के उदाहरण अहम हैं कि जैविक औषधि पादप कृषि उत्तराखंड की कलया पलट करने में सक्षम है।

             1991 के पश्चात क्यूबा में जैविक कृषि क्रांति

क्यूबा ने कृषि में कई परिवर्तन देखे - 1959 से पहले ब्रिटिश सम्रज्य्वादी धनिको का खेतों पर अधिकार जो 59 क्रांति के बाद समाप्त हुए।  1959 -91तक सोवियत रूस का साथ व गणना आदि निर्यात व सोवियत यूनियन से  पेट्रोल आयात।  1991 में सोवियत यूनियन के भंग होने से क्यूबा एक भयंकर आर्थिक सन्निपात का शिकार हो सकता था।  क्यूबा की साड़ी कृषि पेट्रोल आधारित हो चुकी थी (खाद , कीटनाशक , उपज वृद्धिकारक व कृषि मशीन व यंत्र ) . गन्ना निर्यात में अमेरिका की धौंसबाजी ने सर्वथा रुकवत डाल दी पेट्रोल की कललत से क्यूबा की हालात खराब होने लगी।  तब क्यूबा ने पारम्परिक जैविक कृषि की ओर मुख किया और कुछ ही वर्षों में क्यूबा जैविक कृषि का सरताज बन गया।

  क्यूबा ने कुछ आधारभूत कदम उठाये

निर्यात आधारित कृषि (गन्ना  आदि ) के स्थान पर खाद्य कृषि

ट्रैक्टरों की जगह बैलों से जुताई

लोगों को शहर छोड़ने की प्रेरणा व वहां केवल जैविक कृषि करना

पेस्टीसियड्स की जगह नीम , फसल चक्र, कम्पोस्ट खाद की ओर गमन।  नीम ने पेस्टिसाइड्स प्रयोग पर लगाम लगाई।

केंचुआ , मोळ  कीड़ खाद तकनीक (वर्म फार्मिंग ) का विकास व आज क्यूबा वर्म फार्मिंग टेक्नोलॉजी  का निर्यातक है 

शहरों में घर घर में बगीचे में खाद्य पदार्थ उत्पादन विकास

जैविक खाद्यों की मांग होने से क्यूबा उत्पादित कई जैविक खाद्य पदार्थ निर्यात होते हैं जैसे

शहद

चारकोल

गोंद या चीड़ लीशा

कॉफी

 क्यूबा ने सिद्ध किया कि जैविक कृषि खाद्य समस्या दूर कर सकती है और विशेष खाद्यों के निर्यात से आर्थिक स्थति सुधारि जा सकती है।





Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Organic Farming in Cuba and Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण ;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण ; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म  विकास हेतु क्यूबा में जैविक कृषि उदारहण  :


 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
  उत्तराखंड हेतु ऑर्गेनिक सिक्किम प्रेरक उदाहरण

Example of Organic Sikkim for Uttarakhand
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 54

 Medical Service Export Strategies - 54

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 237 

Medical Tourism development Strategies -237

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 358

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -358   

 

आलेख - विपणन आचार्य भीष्म कुकरेती

-

भारत में सिक्किम  पहलाप्रदेश है जो 100 प्रतिशत जैविक कृषि प्रदेश है। सिक्किम सरकार ने सन 2003 में सिक्किम को पूर्णतया जैविक कृषि क्षेत्र का निर्णय लिया और निम्न नीतिगत व कार्यकारी कार्य हाथ में लिए -

             सरकार के पग

कृत्रिम खाद व रसायनों का सर्वथा प्रतिबंध 

सरकार ने 2004 में मिशन 2010 के अंतर्गत रसायनिक खाद , कीटनाशक , ग्रोथ रसायन व क्रॉस बीजों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया। सरकार ने निम्न प्रशाशनिक स्तर पर कार्य किया

   उच्च स्तरीय कमेटी

  स्टेयरिंग अथवा कार्यकारी कमेटी

जनसम्पर्किय कमेटी

  इन सब ने एक साथ सहयोग के साथ कार्य शुरू किया।

  बैकवर्ड व फॉरवर्ड इंटीग्रेशन

 इस नीति के तहत किसानों को जैविक कृषि हेतु जैविक बीज , खाद , कीटनाशक दिए गए या उनसे उतपन्न हेतु सहायता दी गयी।  बिक्री हेतु दुकाने खोली गयीं आज 200 दुकाने जैविक कृषि उत्पादन बेचती हैं।

     इन्फ्रास्ट्रक्चर

वर्मीकल्चर व बायोफर्टिलाइजर हेतु कार्य किये गए।

  ग्रामीण पर्यटन विकास

ऑर्गेनिक कृषि विकास के साथ राज्य सरकार ने ग्रामीण पर्यटन को विकसित किया।

  उत्तराखंड को आयुर्वेद पर्यटन विकसित करना है तो केरल से लोहा लेना ही पड़ेगा और केरल से प्रतियोगिता हेतु सबसे उत्तम विकल्प है जैविक आयुर्वेद पर्यटन जिसके लिए निम्न नीति आवश्यक हैं -

 जैविक औषधि पादप आधारित आयुर्वेद औषधि निर्माण

   जैविक औषधि आधारित आयुर्वेद चिकित्सालय

  जैविक पद्धति से औषधि पादप कृषि




Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Example of Organic Sikkim for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास  हेतु सिक्किम ऑर्गेनिक का उदारहण ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु सिक्किम ऑर्गेनिक का उदारहण  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु सिक्किम ऑर्गेनिक का उदारहण   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु सिक्किम ऑर्गेनिक का उदारहण  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु सिक्किम हेतु सिक्किम ऑर्गेनिक का उदारहण  ऑर्गेनिक का उदारहण ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
 जैविक कृषि हेतु प्रमाण पत्र के सैद्धांतिक मानक

Principles for Organic Farming
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 55

 Medical Service Export Strategies - 55

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 238 

Medical Tourism development Strategies -238

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 359

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -359   

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

 चूँकि जैविक खाद्य पदार्थ व जैविक औषधि पादप अलग से बेचे जाते हैं तो उपभोक्ता के अधिकार व हित रक्षा को ध्यान  में रखकर जैविक खाद्य पदार्थों को प्रमाण पत्तर द्वार चिन्हांकित किया जाता है। नेशनल प्रोग्रैम फॉर ऑर्गेनिक प्रोडक्ट संस्थान प्रमाण पत्र देता है।  प्रमाण पत्र पाने से पहले कृषक या गाँव या क्षेत्र को निम्न मानक स्थापित करने होते हैं -

१- प्राकृतिक कृषि आवश्यक है

२- कृत्रिम रसायन युक्त भूमि को जैविक खेतों में परिवर्तन - इसके लिए सीमा है किन्तु जब तक भूमि पूर्णतया प्राकृतिक अवस्था /कृत्रिम रसायन मुक्त  भूमि न हो जाय।

३-सभी कृत्यों का सामग्रीकरण याने भौतिक , जैविक साधन व मेकेनिकल प्रयोगों का हर समय कायम रखना

४-हर समय संधारणीय व्यवहार या कार्यप्रणाली की आवश्यकता

५-भूमि व जल का दोहन संधारणीय रीति से होना आवश्यक है।

६- पर्यावरण को की खतरा न हो

७- निकटवर्ती क्षेत्रों से मिलावट न हो

८-अन्य कोई रीती न अपनाना

९- जैविक वन कृषि में भी उपरोक्त सिद्धांत लागू होते हैं।



 Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Certification for  Organic Farming for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास विकास हेतु जैविक कृषि प्रमाण पत्र आवश्यकता:

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
जैविक कृषि प्रमाण पत्र हेतु उत्पादन योजना

Procedure for Certification  for Organic Medicinal Plants Farming
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 55

 Medical Service Export Strategies - 55

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 238 

Medical Tourism development Strategies -238

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 359

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -359   

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

   जैविक कृषि प्रमाण पत्र पाने हेतु नेशनल प्रोग्रैम फॉर ऑर्गैनिक प्रोडक्शन से प्रमाण पत्र हेतु कुछ औपचारिकता निभानी होती हैं।

   सर्व प्रथम ऑर्गेनिक प्रोडक्शन की योजना उपरोक्त संस्था को देनी होती हैं ज्जिस्मे निम्न बातेों का  खुलासा होता है -

  फसल उत्पादन योजना

मुख्य व दूसरी फसलों का ब्यौरा व फसल चक्र ब्यौरा

१- प्रार्थी द्वारा क्या क्या विधियां अपनायी जाएँगी व उनका नियंत्रण व कायम कैसे रहेंगी

२-क्या इनपुट्स होंगे सबका ब्यौरा खाद , बीज , ऑर्गेनिक कीटनाशक आदि क्या क्या होंगे, कितने चक्र होंगे , और इन इनपुट्स का प्राप्ति स्थल /सोर्स

३-बीज व पढ़ का प्राप्ति केंद्र

४-विधियों को कार्यावनित , कायमपूर्ण नीतियां , नियंत्रण करने का खाका

५-बाहर व निकटवर्ती स्थलों से मिलावट आदि की रोकथाम विधियां व नीति

६-रिकॉर्ड कीपिंग की नीतियां , मॉनिटरिंग के व्यवहारिक पक्ष

७- नियमित योजना बनाना व अधिकृत एजेंसी को देना

८- फीस देना





Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Procedure for Organic Farming , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी   ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी   ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक कृषि विधियों की जानकारी  :


 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
   जैविक उत्पाद विक्री हेतु जैविक उत्पाद लेबल  आवश्यकता

Certificate and Product Labeling for Organic Products   
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 56

 Medical Service Export Strategies - 56

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 239 

Medical Tourism development Strategies -239

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 360

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -360   

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

जैविक खेतु हेतु सरकारी एजेंसी से प्रमाण पत्र आवश्यक है उसी तरह जैविक उत्पाद बेचने हेतु उत्पाद पर प्रमाणित  'जैविक उत्पाद ' का लेबल या चिप्पी आवश्यक है

 प्रमाणित जैविक उत्पाद लेबल से ग्राहकों को शत प्रतिशत भरोषा हो पाता है कि उत्पाद जैविक कृषि मानक विधियों से उत्पादित हुआ है।  हर कोई आर्गेनिक प्रोडक्ट का लेबल नहीं लगा सकता। नेशनल प्रोग्रैम  फॉर ऑर्गेनिक प्रोडक्शन के अंतर्गत ऐग्रिकल्चर ऐंड प्रोसेस्ड फ़ूड प्रोडक्ट्स एक्सपोर्ट डेवलपमेंट ऑथर्टी (APEDA ) जैविक कृषि प्रमाण पत्र व अन्य निरीक्षणों के बाद जैविक उत्पाद लेबल जारी करता है।

जैविक उत्पाद लेबल निम्न प्रकार के होते हैं -

100 % जैविक उत्पाद

95 % अवयव प्रयोग धारी को ऑर्गेनिक या केवल जैविक उत्पाद लेबल मिलता है

70 % अवयव वाले जैविक उत्पादों को पूर्णतः जैविक लेबल नहीं मिलता व  उन उत्पादों में लिखा जा सकता है 70 % अवयव जैविक।  इस वर्ग में आने वाले उत्पाद प्रचार नहीं कर सकते कि यह उत्पाद जैविक है हाँ पैक्ट में अवयवों की सूची दे सकते हैं

  ऑर्गेनिक लेबल के अतिरिक्त एजेंसी का सेल भी चिपका सकते हैं।  90 व 100 % जैविक अवयव वाले उत्पादों का प्रचार प्रसार किया जा सकता है।

प्रत्येक देस के अपने नियम व एजेंसियां होती हैं जो लेबल डेट हैं।



Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Product  Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Product   Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Product    Labelling in Organic Farming, Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जैविक उत्पाद विक्री  हेतु  जैविक उत्पाद लेबल की आवश्यकता :


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1
   उत्तराखंड में जल चिकित्सा पर्यटन अवसर

Scope of Hydrotherapy Tourism in Uttarakhand
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 58

 Medical Service Export Strategies - 58 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 241   

Medical Tourism development Strategies -241 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 362

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -362     

 

आलेख -    विपणन आचार्य  भीष्म कुकरेती

-

यह निर्वाद सत्य है कि यदि उत्तराखंड समाज को  जग प्रसिद्ध मेडिकल टूरिज्म विकसित करना है तो वैकल्पिक पर्यटन ही उपाय है; याने प्राकृतिक चिकित्सा पर्यटन विकास ।   
उत्तराखंड पुरातन काल से जल चिकित्सा पर्यटन में प्रसिद्ध रहा है।  गंगा जमुना स्नान हेतु पर्यटकों का उत्तराखंड आगमन वास्तव में जल चिकित्सा पर्यटन अंग ही है। गंगा स्नान निम्न चिकित्सा आपूर्ति करता था व अब भी -
                भूमिका
मानसिक शांति - पाप कुछ नहीं अपितु अपने किये कर्म दोषों को चित्त में जमा कर रखना।  जब मनुष्य आत्मिक या चित्त रुप  से समझता है कि गंगा स्नान से पाप समाप्त हो गए तो इसका अर्थ है जो दोष भार मन में था वह उत्तर गया है।  गंगा स्नान मानसिक चिकित्सा अंग है। 

रोग मुक्ति -कई अन्य रोगी जैसे त्वचा रोगी भी गंगा स्नान हेतु आते हैं। 
गर्म जल सोतों से चिकित्सा - उत्तराखंड गर्म जल सोतों हेतु प्राचीन कल से प्रसिद्ध रहा है।  कई भक्त रोगी गर्म जल सोतों में स्नान हेतु उत्तराखंड आगमन करते हैं ।
खनिज लवण युक्त जल सोते - उत्तराखंड में कुछ विशेष खनिज (गंधक) लवण युक्त जल सोते या झरने हैं जिनके जल स्नान से कुछ रोग ठीक होते हैं तो पर्यटक उत्तराखंड आते हैं जैसे शहस्त्रधारा देहरादून।
   खनिज लवण युक्त नौळी /ढंढी - उत्तराखंड का कोई ऐसा गाँव न होगा जहाँ कोई ढंढी /नौळी  न हो जो किसी पेट की बिमारी ठीक होती है जैसे जसपुर , ढांगू पौड़ी में इकर पानी ढंढी पेट पीड़ा , कब्ज आदि के लिए प्रसिद्ध थी व अन्य गाँवों के लोग उस पानी को पीने हतु जसपुर आते रहते थे।
   झरनों से चिकित्सा - पहाड़ी क्षेत्रों में झरनों की बहुतायत हैं।  ये झरने कई प्राकृतिक चिकित्स हेतु लाभदायी थे।
                    आधुनिक समय में जल चिकित्सा
अब जल चिकित्सा में जानकार  चिकित्स्कों का सहयोग लेकर हाइड्रोथैरेपी स्पा द्वारा प्राकृतिक चिकित्सा दी जाती है यथा -
गर्म जल चिकित्सा से मांस पेशियों , जोड़ों , आदि से सकूं मिलता है
गर्म जल का मांश पेशियों की शक्ति वर्धन में प्रयोग
श्वसन  तंत्र की चिकित्सा
शीत  जल चिकित्सा कई रोगों को ठीक करने में उपयुक्त होता है।
  योग विधियों द्वारा जल चिकित्सा
व्रत रखकर जल चिकित्सा
जल चिकित्सा निम्न रोगों में प्रयोग होती है -
  सन्धिवात या गठिया
  पर्किन्सन बीमारी
  गठिया शल्य चिकित्सा उपरान्त
ओटिसिज्म

मानसिक उलझने जैसे प्रमस्तिष्क अंगघात
डिप्रेसन

कमर दर्द
रीढ़ हड्डी दर्द
तनाव

सुन्नपन

स्कोलियोसिस

टंडन उत्तक चिकित्सा (टेन्डोनिटिस )
मस्तिष्क उहापोह स्तिथि
ज्वर आदि
मांश पेशी दर्द आदि
  कई पाचन तंत्र चिकित्सा
उत्तराखंड में जल चिकित्सा के बहुआयामी पर्यटन अवसर हैं इन अवसरों से ाभ उठाना आवश्यक हैं
  अगले अध्यायों में जल चिकित्सा रणनीति पर चर्चा की जाएगी






     







Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Scope of  Hydrotherapy for Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु जल चिकित्सा के लाभदायी अवसर :

 

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,523
  • Karma: +22/-1

 जल चिकित्सा पर्यटन हेतु जल चिकित्साकेन्द्रों की जानकारी आवश्यक
Famous Hydrotherapy Spas in India 
चिकित्सा सेवा निर्यात रणनीति - 58

 Medical Service Export Strategies - 58 

उत्तराखंड में चिकत्सा पर्यटन  रणनीति - 241   

Medical Tourism development Strategies -241 

उत्तराखंड पर्यटन प्रबंधन परिकल्पना - 362

Uttarakhand Tourism and Hospitality Management -362     

 

आलेख -    विपणन आचार्य   भीष्म कुकरेती

-

उत्तराखंड में वैकल्पिक चिकित्स पर्यटन ही सफल होगा।  जल चिकित्सा पर्यटन में भी अपर संभावनाएं हैं।  भारत में जल चिकित्सा केंद्रों की जानकारी उत्तराखंड में जल चिकित्सा पर्यटन हेतु रणनीति निर्माण हेतु अति आवश्यक है।

  ट्रैवल स्पैन पत्रिका अनुसार भारत में निम्न स्पा याने प्राकृतिक चिकित्सा में जल चिकित्सा सह प्रसिद्ध हैं (फरवरी 2017 )-

  सर्वोच्च स्थान - उत्तराखंड - आनंद स्पा ऋषिकेश

१- आनंद ऋषिकेश - प्राकृतिक  चिकित्सा हेतु बेहतर व्यवस्था

२- द रोसेटे ाहेली स्पा , दक्षिण दिल्ली

३-पाक हय्यात रिजॉर्ट ऐंड सपा , गोआ

४- इस्पा लीला पैलेस स उदयपुर

५-विविन्ता  , ताज , केरल

६-   काया कल्प , रॉयल स्पा आगरा

७-विंडफ्लो स्पा शिमला , हिमाचल

८- ओबेराय राज विलास , जयपुर

९-ओबेराय अमर  विलास आगरा

१०-ओबेराय वन्य विलास रणथम्बोर

सभी स्पा जल चिकित्सा के अन्य प्राकृतिक चिकत्सा जैसे आयुर्वेद व् योग की सुविधा भी प्रदान करते हैं





Copyright @Bhishma Kukreti, bjkukreti@gmail .com

 

Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in Garhwal , Uttarakhand ;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in Chamoli Garhwal , Uttarakhand;   Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in  Rudraprayag Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in   Pauri Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in   Tehri Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in  Uttarkashi  Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in   Dehradun Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in    Haridwar Garhwal , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in  Pithoragarh  Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in Champawat    Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in   Almora Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in Nainital   Kumaon , Uttarakhand;  Famous Hydrotherapy Spas in India , Medical Tourism development in  Udham Singh Nagar  Kumaon , Uttarakhand;

 

पौड़ी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; उधम सिंह नगर कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ;  चमोली गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी  ; नैनीताल कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ;  रुद्रप्रयाग गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; अल्मोड़ा कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी  ; टिहरी   गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; चम्पावत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ;  उत्तरकाशी गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; पिथौरागढ़ कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास;  देहरादून गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; रानीखेत कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास; हरिद्वार  गढ़वाल मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ; डीडीहाट  कुमाऊं  मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी ;   नैनीताल  कुमाऊं मेडिकल टूरिज्म विकास हेतु भारत में प्रसिद्ध जल चिकित्सा  केंद्र जानकारी :


 



   

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22