Author Topic: Tourism and Hospitality Industry Development & Marketing in Kumaon & Garhwal (  (Read 25194 times)

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
               

                                                            ट्रैवल रिसेलर्स और ट्रैवल पोर्टल्स

                                                        Travel Resellers and Travel Portals

                              (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--88      ) 
                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 88   

 

                                                                 लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

ट्रैवल रिसेलर्स या ट्रैवल पोर्टल्स ग्राहकों को कैटलॉग अथवा वेब साइट के जरिये विभिन्न पर्यटन स्थलों व उनसे संबंधित सेवाओं का ब्योरा एकसाथ देते हैं कि जिससे ग्राहक विभिन्न पर्यटक स्थल , सेवाओं व बजट /लागत की तुलना कर सके और फिर अपना निर्णय ले सके।

अधिकतर ट्रैवल रिसेलर्स या पोर्टल इनबाउंड या ऑउटबाउंड टूर ऑपरेटरों से कमीसन प्राप्ति कर कमाई करते हैं। टूर ऑपरेटर ट्रैवल रिसेलर्सों के लिए कमिसन व बोनस पहले ही निश्चित कर लेते हैं।

अधिकतर ट्रैवल रिसेलर्स के मार्किट  होते हैं याने वे विशेष पर्यटकों या विशेष पर्यटन को ही बढ़ावा देते हैं।

ट्रैवल रिसेलर्स या पोर्टल जैसे कम बजट , विशेष यात्रा अथवा विशेष तरह  पर्यटकों को  (जैसे इकोटूरिज्म , शिक्षा टूर, वृद्धाओं या स्त्री पर्यटक , धार्मिक पर्यटन ) लुभाने का व्यापार करते हैं।


Copyright @ Bhishma Kukreti  22 /6/2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Role and Necessity of Travel Resellers and Travel Portals in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                   पर्यटन व्यापार में सुयोग्यतम प्रतियोगी बनना ही मार्केटिंग है

                                         Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy)

                            (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--89      ) 
                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 89   

 

                                                                 लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

पर्यटन या अन्य उद्यम में व्यापार के पहली शर्त है कि कम्पनी /व्यापारी को अपने विशेष क्षेत्र में सुयोग्यतम प्रतियोगी बनना।

आज पर्यटक के पास कई विकल्प खुल गए हैं  अतः पर्यटन उद्यमियों को सुयोग्य प्रतियोगी बनना आज की सामयिक मांग है।

प्रतियोगिता एक धर्म है न कि युद्ध जब कि मार्केटिंग के अधिकाँश नियम युद्ध नियमों पर आधारित हैं।

                 अपनी विलक्षणता सम्प्रेसित करना

मार्केटिंग का सही अर्थ है सूचना देना याने सम्प्रेषण ही मार्केटिंग है।

प्रतियोगिता का अर्थ है आपको अपने को विलक्षण बतलाना।  टूर ऑपरेटर द्वारा होटल बुकिंग , परिहवन बुकिंग , साइट सीइंग व्यवस्था , सासंकृतिक प्रोग्रामों में ग्राहकों का भाग लेना आदि मूर्त (tangible ) सेवायें हैं जिनकी तुलना ज्ञानेन्द्रियों द्वारा बहुत  सरल है और अधिकतर सभी ऑपरेटर एक ही तरह की सेवा व वस्तु /प्रोडक्ट देते हैं जिससे कमजोर ऑपरेटर प्रतियोगिता में खरा नही उतरता और  बिजिनेस खोता रहता है।  ऐसे में प्राइस से ऑपरेटर प्रतियोगी बनते है (कम या अधिक प्राइस )। .

 प्रत्येक टूर ऑपरेटर /एजेंसी को अपने आस पास , अपने क्षेत्र के ग्राहकों  मनोविज्ञान पहचानना आवश्यक है कि वे क्या चाहते हैं और क्या विशेष सेवा की इच्छा रखते हैं।  इसी तरह इनबाउंड /ऑउटबाउंड ऑपरेटरों को ग्राहक अन्वेषण कर अपनी एक अलग पहचान बनाकर अपने को अन्य ऑपरेटरों के मुकाबले प्रतियोगिता में अब्बल बनना आवश्यक है।  अब्बलता पाना ही प्रतियोगिता है।

पर्यटन में अब्बलता  के निम्न मुख्य कारक हैं -

बुकिंग विधि

बुकिंग कैन्सिलेसन की नीति

ग्राहकों को भेंट

गाइड जो पर्यटक को उसकी भाषा में समझा सके

ट्रिप की लम्बाई

स्थानीय समाज का हित

 टूरिज्म में प्रतियोगिता का एक गणितीय सूत्र है -

कीमत /वैल्यू                 सेवा /सुविधाएं                   ग्राहक का अनुभव /अनुभूति /भावनाएं

----------------   = =         --------------------   +        ---------------------------------------------------

प्रयत्न                           कीमत /लागत               प्रयत्नों में विकास या वृद्धि

   प्रतियोगिता का अर्थ है कि ग्राहक को अपने प्रतियोगी से अधिक देना , दूसरे से अब्बल देना, अपने स्थानीय समाज को दूसरे से अधिक देना।

प्रतियोगिता में प्रोडक्ट /सेवा  में मूर्त (जो दिखाई देती है ) और अमूर्त (अनुभूति ) दोनों   का समावेश आवश्यक है।

                   

अब्बलता प्रतियोगियों के अस्त्र शस्त्र को धराशायी  करती है और प्रतियोगिता अब्बलता पाने के लिए की  जाती है। अब्बलता केवल विलक्षणता से प्राप्त होती है।

Copyright @ Bhishma Kukreti  26  /6/2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Being Competitive in Tourism Business (Marketing Strategy) and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                                                   टूर ऑपरेटर द्वारा पर्यटक स्थल का विपणन

                                                              Tips on Destination Marketing by Tour Operator

                           (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--90      ) 
                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 90   

 

                                                                 लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

यद्यपि टूर ऑपरेटर का काम पर्यटकों को सेवा देना होता है किन्तु टूर ऑपरेटर को पर्यटक स्थल का विपणन भी करना पड़ता है।

मान लिया जाय कि सुन्दरियाल टूर ऐंड ट्रैवल कोटद्वार में यूरोप टूर हेतु पर्यटकों को यूरोप भेजते हैं तो सुन्दरियाल  टूर ऐंड ट्रैवल को यूरोप के उन स्थानो का विपणन करना आवश्यक है जहां सुन्द्रियाल टूर ऐंड ट्रैवल अपने ग्राहकों को भेजते हैं।

माना कि बिष्ट टूर सर्विसेज देहरादून दक्षिण भारत में पर्यटकों को भेजने/ भ्रमण  का व्यापार करते हैं तो इस कंपनी को दक्षिण भारत  पर्यटक स्थलों के बारे में संभावित ग्राहकों को सूचना देनी ही पड़ेगी।

यदि टमटा ऐंड टमटा  ट्रैवलर कंपनी लखनऊ से पर्यटकों को उत्तराखंड चार धाम यात्रा  प्रबंध करती है तो टमटा ऐंड टमटा  ट्रैवलर कंपनी को अपनी कम्पनी के अतिरिक्त उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को भी प्रमोट करना लाजमी है।

मान मान लिया जाय कि उत्तराखंड भ्रमण विशेषज्ञ बहुगुणा -लिंगवाल टूर कम्पनी पल्टन बजार देहरादून  , जर्मनी में इंटरनेश्नल टूर -ट्रैवल एक्जिविसन में भाग ले रही है तो बहुगुणा - लिंगवाल टूर कम्पनी को अपनी कम्पनी की विशेषतायें लोगों को बतानी आवश्यक है किन्तु साथ में यह भी बतलाना होता है कि उत्तराखंड यात्रा के विशेषताए क्या क्या हैं। इस अंतरास्ट्रीय प्रदर्शनी में बहुगुणा -लिंगवाल टूर कम्पनी को पहले भारत का विपणन करना होगा , फिर उत्तराखंड का और अंत  अपनी कम्पनी का विपणन करना होगा। बहुगुणा -लिंगवाल टूर कम्पनीको लोगों को बताना होगा कि भारत क्यों लाभकारी -आनंददायी पर्यटक देस है और भारत में क्यों उत्तराखंड की यात्रा  जरूरी है।  बहुगुणा -लिंगवाल टूर कम्पनी को संभावित ग्राहकों को भारत व उत्तराखंड में पर्यटन सुविधाओं व सेवाओं  विशिष्टता बतलानी ही पड़ेंगी।

Copyright @ Bhishma Kukreti  27  /6/2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Tips on Destination Marketing by Tour Operators and Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; M Tips on Destination Marketing by Tour Operators and arketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1

                                                  टूर ऑपरेटर के विपणन अस्त्र -शस्त्र - व्यापारिक मेलों में भाग लेना

                                                          Marketing Tools for Tour Operator -Trade  Fair

                            (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--91      ) 
                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 91   

 
                                                                 लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )


टूर ऑपरेटर के पास भाँती भाँती के विपणन अस्त्र -शस्त्र होते हैं।  शस्त्र  माने अस्त्र भौतिक व नजदीकी हथियार और अस्त्र माने दूरगामी अथवा  मांत्रिक (मनोवैज्ञानिक ) हथियार।
                           व्यापारिक मेला अथवा ट्रेड फेयर में प्रदर्शनी       
टूरिस्ट /यात्रा संबंधी मेले टूर ऑपरेटरों के लिए  आर्थिक दृष्टि से कम कीमती , प्रभावकारी हथियार है।
यात्री मेलों (टूर फेयर ) से निम्न लाभ होते हैं -
१- नए उत्पाद या नए यात्रा स्थान की शुरुवात
२- ग्राहकों से संबंध बनाना
३- नए या पुराने ग्राहकों की लिस्ट बनाना, डाटा बेस तयार करना व् उनसे भविष्य ब्यापार हेतु करार करना
४- ग्राहकों से सीधा सौदा करना
५- एजेंटो की खोज
६- मार्किट रिसर्च करना
७- सामयिक प्रतिस्पर्धा , सामयिक यात्रा सेवा व सेवा हेतु उत्पाद , सामयिक पर्यटन स्थल की सीधी जानकारी मिलना
८-सप्लायरों का मिलना
               ट्रेड फेयर में आवश्यक वस्तुयें व व्यय

              अ -जगह व स्थान अलंकरण हेतु -
जगह का चुनाव व डिजाइन आदि
जगह का किराया
पोस्टरों आदि का इंतजाम
स्थान सजावट / अलंकरण डिजाइन व उसके लिए विभिन्न वस्तुयें व उपकरण
बिजली
पानी
सफाई
भोजन व्यवस्था
ग्रहकों के लिए बैठने आदि का इंतजाम आदि
इन्सुरेंस /सेक्युरिटी
अन्य क्रियाएँ व खर्चे
               ब -परिवहन

विभिन्न वस्तुओं-उपकरणों को मेले की जगह पंहुचाने हेतु -
पैकिंग
परिहवन माध्यम
लदान व उतारने की सुविधा जुटाना
इन्सुरेंस व अन्य कर

             स - प्रचार -प्रसार माध्यम व व्यय

टेलीफोन मार्केटिंग
पैम्फलेट  पोस्टिंग /मेल मार्केटिंग
पोस्टर /बाउचर प्रिंटिंग
प्रेस रिलीज
ऑडियो -वीडियो प्रचार सामग्री
पासेज
पार्टी /भोजन खिलाना
विभिन्न विज्ञापन करना
परिवहन
           द - व्यक्तिगत इंतजाम व व्यय
डिमोंस्ट्रेटरों  या सेल्समैनों  का इंतजाम
डिमोंस्ट्रेटरों  या सेल्समैनों के खर्चे जैसे परिवहन , भोजन व्यवस्था व रहने का इंतजाम
डिमोंस्ट्रेटरों  या सेल्समैनों के मनोरंजन का इंतजाम आदि


Copyright @ Bhishma Kukreti  21 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल


Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Tips  on Participation in Trade Fair for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                            टूर ऑपरेटर द्वारा प्रदर्शनी में भाग लेने हेतु  समयबद्ध तैयारियां

                        Time Bound Planning -Activities of Tour Operators for Participating in Trade Fair


                      (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--92  ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 92   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )
 
किसी भी स्थानीय , अंतर्देशीय , विदेशी स्थल की प्रदर्शनी में भाग लेने हेतु व्यापारी या टूर ऑपरेटर को निम्न समयबद्ध तैयारी करनी होती है -

                                       प्रदर्शनी से 12 महीने पहले तैयारियां

१- किन किन यात्रायें , यात्रा स्थान व सेवाओं का चयन जो प्रदर्शनी में बेचने हैं या नए उत्पाद /सेवा जिन्हे अवतरण करना है
२- जगह /स्टाल के क्षेत्रफल का आकलन
३-पुरानी प्रदर्शनियों का पुनर्आकलन , विश्लेषण
४- शुरुवाती बजट प्रस्तुतीकरण व विश्लेषण
५- प्रदर्शनी संस्थान के साथ संवाद स्थापित करना
६- प्रदर्शनी के नियमावली का अध्ययन
७- प्रदर्शनी में रजिस्ट्रेसन करवाना आदि
८- प्रदर्शनी संस्थान के साथ लेन  देन   करना आदि
 
                                 प्रदर्शनी से 10  महीने पहले तैयारियां     

१- प्रदर्शनी हेतु प्रचार योजनाएं बनाना और उन्हें कार्यावानित करना
२- प्रचार हेतु बजट बनाना
३-सूचना  व विक्री माध्यमों का चयन
४- प्रदर्शनी हेतु अपनी आवश्यकताओं  व बजट बनाना
५- ट्रिप /यात्रा /टिकेट।/ होटल आदि का प्रबंध करना
                             प्रदर्शनी से 8 -10  महीने पहले तैयारियां
१- प्रदर्शनी के लिए प्रचार , सूचना आदि का पक्का करना
२- प्रदर्शनी बाद की क्रियाओं का बजट व समयबद्ध कार्य का पक्का करना
३- कई योजनाओं व कार्यों को मूर्त रूप देना व बजट
४- भूल आदि को दूर करना
                            प्रदर्शनी से 6 -8   महीने पहले तैयारियां

१- प्रचार -प्रसार - विक्री व अन्य लघुतम बातों को मूर्त रूप देना
२- सूचनाओं को ग्राहकों व सहायकों , संस्थानों के साथ सम्पर्क साधना
३- प्रदर्शनी संस्थान व अन्य संस्थानों के साथ व्यवसायिक सम्पर्क व सूचना आदान प्रदान
४- प्रदर्शनी हेति आवश्यक ऑर्डर देना
५- परिवहवन आदि का प्रबंध व ऑर्डर देना
६- स्टाल डिकोरेसन , डिजाइन आदि का आकलन व ऑर्डर देना

                             प्रदर्शनी से 4 -6   महीने पहले तैयारियां

१- कई कार्यों व संस्थानों के मध्य समन्वय
२- नए ग्राहकों, सहायक संस्थानों व व्यापरियों को जुड़ने के साधन ढूंढना व उनसे सम्पर्क करना
३- प्रदर्शनी से संबंधित उत्पाद व सेवाओं के लिए आदेश (ऑर्डर ) देना
४- कई अन्य इंसेंटिवों की योजना और उन्हें कार्यवानित करने के लिए स्थिर करना

                           प्रदर्शनी से 2 -4   महीने पहले तैयारियां
 १-विपणन कार्यों में तेजी लाना
२- कार्य आबंटन
३- प्रेस रिलीज भेजना , सूचना भेजना
४- पेमेंट आदि करना या इंतजाम करना
५-पास /निमंत्रण भेजना
६- ग्रहक रिजिस्ट्रेसन आदि का प्रबंधन
७ -उन वस्तुओं व सेवाओं को चेक करना जिन्हे प्रदर्शनी में ले जाना है और उनसे संबंधित प्रबंधन
८- प्रेस कोन्फेरेंस आदि का इंतजाम

                                         प्रदर्शनी से    O महीने पहले तैयारियां

१- स्टैंड आदि का पूरा करना उन्हें प्रदर्शनी तक पंहुचाना , प्रदर्शनी का इंतजाम

२- चेकलिस्ट के हिसाब से कार्य पूरा करना

३- प्रदर्शनी लगाना व प्रबंध करना

४- प्रतिदिन प्रदर्शनी का प्रशासन करना , गग्राहकों की सूचि बनाना आदि

५- स्टाफ के साथ , सेलमैनो /गर्ल्स के साथ समन्वय व सूचना आदान प्रदान और आवश्यकता पड़ने पर रणनीति /कार्यनीति बदलना

६- सभी सूचनाएं जैसे पर्यटन बजार में नए स्थान , उत्पाद , सेवाओं , नए एजेंटों का अवतरण , प्रतियोगियों आदि की जानकारी इकट्ठा करना


                     प्रदर्शनी के तुरंत बाद के कार्य

१- स्टाल को तोडना व स्टाल , प्रदर्शनी हेतु प्रयोग किये उत्पाद को वांछित स्थान तक पंहुचाना, परिवहन , स्वयं का परिवहन यात्रा प्रबंध

२- अपने स्टाफ के साथ बैठक

३- किराया आदि का पेमेंट हो तो उसे चुकाना

४- ग्राहक -लीड आवश्यक कार्यवाही

                प्रदर्शनी के बाद के कार्य

१- प्रदर्शनी का पूरा विश्लेषण व नकारत्मक -सकारात्मक बिन्दुओं का अध्ययन

२- प्रदर्शनी से लाभ -हानि लेख जोखा

३- पेमेंट करना

४- ग्राहकों को वांछित सूचनाये व उत्पाद आदि पंहुचाना

५- ग्राहकों से संबंध स्थापितिकरण व संपर्क , ग्राहक लीड के हिसाब से कार्य

६- अन्य बचे कार्य पूर्ति आदि

Copyright @ Bhishma Kukreti  25 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल


Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Time bound Activities for Exhibition for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                            टूर ऑपरेटरों हेतु ब्रोचर्स  या विवरण पुस्तिका
                                    Brochures for  Tour Operators

           (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--93 ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 93   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

विपणन में ब्रोचर  या विवरण पुस्तिका का बड़ा महत्व होता है। ब्रोचर्स अधिकतर A -4 साइज में, रंगीन प्रिंटिंग का ,  ग्लॉसी कागज का, प्रथम व आखरी पन्ने मोटे कागज का होता है जी कम्पनी की छवि वर्धन व ग्राहकों को समुचित सूचना प्रदान करता है। रंग  ही हों तो भले लगते हैं और किफयती भी।
ब्रोचर या विवरण पुस्तिका में निम्न बातों का ध्यान रखा जाना -
१- कम्पनी का न्यायिक, कम्पनी ऐक्ट के हिसाब से जरूरी परिचय व पोस्टल पते
 २-कम्पनी का इतिहास , कम्पनी के  उदेस्य और दूरदृष्टि
३- यात्र स्थलों का विवरण /परिचय /मौसम की जानकारी सहित
४- यात्राएं समय बद्ध  हों तो तिथियों का विवरण
५- यात्रा /परिवहन के साधन विवरण                           
६-रहने के स्थानो /होटलों का विवरण
७- भोजन प्रबंध का विवरण
८- अन्य सुविधाएँ
९- बुकिंग नियम
१०- पासपोर्ट , वीसा नियमों आदि जानकारी
११- मौसम अनुसार कपड़ों की जानकारी
१२- मूल्य / कीमत नीति
१३- इन्सुरेंस नीतियां
१४- स्वास्थ्य संबंधी आवश्यक व  संबंधी  सूचनाएं
१५- कानूनी सलाह /वैधानिक चेतावनियां
१६- यात्रा में आने वाली कठनाईयां व निराकरण  संबंधी सूचनाएं
१७- नक्से
१८- यात्रा स्थानो का नक्सा /  फोटो आदि
१९० गाइडलाइन्स
२०- क्या करें व क्या ना करें और अन्य आकर्षण
ब्रोचर बनाते समय निम्न बातों का ध्यान आवश्यक है -
कवर पृष्ठ आकरचक हो और ध्यान आकर्षित कर सके
रंगों का चुनाव ग्राहकों की रुचिअनुसार हो
धार्मिक विवाद से दूर हो.
भाषा ग्राहकों के अनुसार हो , यदि दुभाषा बहुभाषाओं का प्रयोग आवश्यक हो तो प्रयोग करना चाहिए
फोटो वास्तविक व चित्तर्षक हों।
विवरण समझ में आने लायक हो और गलतफहमी या संसय पैदा ना करे।  अलंकृत भाषा प्रयोग हो किन्तु द्विअर्थी शब्द ना ही  प्रयोग हों तो सही है।

Copyright @ Bhishma Kukreti  26 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Brochures for  Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                  टूर ऑपरेटरों के लिए इंटरनेट मार्केटिंग से लाभ

                                    Benefits of Internet Marketing for Tour Operators

                              (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--94 ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 94   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

टूरिज्म व्यापर में इंटरनेट मार्केटिंग का बहुत अधिक महत्व है।  इंटरनेट मार्केटिंग के निम्न लाभ हैं -
१- इंटरनेट मार्केटिंग याने इंटरनेट विज्ञापन से लाभ याने इंटरनेट के  सभी लाभ
२- ग्राहक इंटरनेट को 24 घंटो प्रयोग करता है
३- इंटरनेट में स्थान , समय व जाति की कोई समस्या नही होती है।
४- इंटरनेट मार्केटिंग तीब्रतम  गति से ग्राहकों के पास सूचना देने में सक्षम है।
५- इंटरनेट दोनों तरफ सूचना आदान प्रदान / बातचीत /संबंध स्थापित (interactive) करने का सुगम माध्यम है
६- इंटरनेट मार्केटिंग अन्य माध्यमों के मुकाबले सस्ता है और डीलर /डिस्ट्रीब्यूटरों की आवश्यकता नही है
७- इंटरनेट माध्यम से तुलना /मेजरमेंट सरल है
८- इंटरनेट माध्यम से कई तरह के विज्ञापन /सूचनाएं कई तरह के फोर्मेट्स /खाका /आकार में दिए जा सकते हैं
९- इंटरनेट माध्यम से व्यापारी  बिलकुल उन्ही ग्राहकों को सूचना प्रेसित कर सकते हैं  व्यापारी पंहुचना चाहता है
१०- विडिओ की सहायता से प्रोडक्ट दिखाया जा सकता है , डिमोंस्ट्रेट किया जा सकता है
११-इंटरनेट मार्केटिंग मार्किट रिसर्च में बहुत कामयाब माध्यम है
१२- इंटरनेट मार्केटिंग जनसम्पर्क हेतु कामयाब माध्यम है
१३-इंटरनेट मार्केटिंग से प्रतियोगिता के बारे में जानकारी सरलता से मिल जाती है
१४- इंटरनेट मार्केटिंग से बजार  उत्पादों व सेवाओं की जानकारी सुलभता से मिल जाती है
१५- इंटरनेट मार्केटिंग से ग्राहकों की बदलती रूचि का आसानी से पता चल जाता है
१६- बुकिंग सरल है , सूचना पाना /भेजना सरल है

Copyright @ Bhishma Kukreti  27 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल


Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry expansion  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Benefits of Internet Marketing for Tour Operators for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality business growth in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                     कामयाब पर्यटन व्यापारिक वेबसाइट  के मुख्य गुण

                                    Characteristics of Good Tour Business Website

                            (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--95 ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 95   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

पर्यटन हो या अन्य व्यापार , इंटरनेट मार्केटिंग की पहली शर्त है सही , कामयाब , ग्राहक गुणी वेबसाइट।

कामयाब ब्यापारिक वेबसाइट  मुख्य गुण होते हैं -

१- व्यवस्थित वेब डिजाइन

 १ब -सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन समन्वयी डिजाइन

२- व्यापार और ग्राहकों के हिसाब से वेब डिजाइन

३- आकर्षक , विशिष्ठ  नाम और URL

४-आकर्षक वेबसाइट

५- सही, सरल ,  तर्कपूर्ण मार्ग मानचित्र  (Logical Road Map ) कि ग्राहकों को जानकारी प्राप्त करने में परेशानी ना हो, डिजाइन में जटलिता कतई नही होनी चाहिए

६- महत्वपूर्ण व्यापारिक जानकारियां (अपने  परिचय के साथ )

७- संबंध स्थापित करने की सुविधा

८- ग्राहक हेतु वेब के अंदर घूमने हेतु सरल नेविगेसन /आवागमन के मार्ग -परिचय , प्रोडक्ट ,ईमेल आदि , चित्र , मूल्य , बुकिंग के सरल साधन

 ९-ग्राहक के पहचान को गुप्त रखने , बैंक सेक्युरिटी का प्रबंध

१०- सोसल मीडिया जैसे फेसबुक या अन्य असोसिएसनों के साथ जोड़ी बनाने के  साधन में हों

११- मोबाईल व अन्य तकनीकों के साथ जोड़ी बनाने के साधन

 १२-सवाल -जबाब का पृष्ठ

 १३-सही पृष्ठ

१४- अफिलयेटेड मार्केटिंग के लिए जगह

१५- सही मेहमानबाजी

१६- सरल कॉन्टेंट या विषय  अनावश्यक विषयों से दूरी  और ये विषय ग्राहक को आकर्षित करें

१७- डिजाइन का ध्येय हो की ग्राहक कुछ ना कुछ कार्य करे /कर्म की और चले //बुकिंग करे

Copyright @ Bhishma Kukreti  28 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Characteristics of Good Tour Business Website for Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;

Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                      टूर ऑपरेटरों को सर्च इंन्जिन ऑप्टिमाइजेसन का ज्ञान आवश्यक है

                                Knowledge of  Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators

                (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--96 ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 96   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

टूर ऑपरेटर छोटा हो , मध्यम हो या बड़ा हो उन्हें  इंटरनेट मार्केटिंग का आधार लेना होता ही है।  इंटरनेट मार्केटिंग में सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन  आधारिक ज्ञान आवश्यक है।
                            सर्च इंजिन

  सर्च इंजिन एक सॉफ्ट वेयर है जो   रोल्ड वाइड वेब या संसार के सभी इंटरनेट जालों (world wide web ) से सूचना खोजता है। गूगल , याहू आदि सर्च इंजिन है और खोजी  अन्य सर्च इंजिन में कोई शब्द भरता है तो सर्च इंजिन सभी संबंधित सूचनाओं का ढेर लगा देता।  जैसे आप गूगल सर्च में भीष्म कुकरेती टाइप करोगे तो आपको वे सभी पेज सामने आ जायेंगे जिनमे भीष्म कुकरेती आया है।
  आजकल इस्लामिक देशों ने फैथफुल सर्च इंजिन भी ईजाद कर लिया है  अवांछित विषयों की खोज रोक देता है जैसे यूएई में प्रोनो फिल्म  खोजा जा सकता है।
    निम्न सर्च इंजिन दुनिया में मुख्य हैं -
सर्च इंजिन ----------मार्किट शेयर %
गूगल ----------------६८. ६९
बैयडू ----------------१७.१७
याहू ------------------६. ७४
बिंग -------------------६. २२
                          सर्च इंजिन की कार्यशैली

सर्च इंजिन की कार्यशैली में
वेब क्रॉलिंग
इंडेक्सिंग
सर्चिंग की क्रमगत तकनीक काम आती हैं।
वेब कॉलिंग को मकड़ा या स्पाइडर भी कहते हैं। यह world wide web से खोज करता है।
फिर इंडेक्सिंग  इंगितिकरण होता है याने क्रॉलर के बाद कौन सा पेज कैसे लगेगा तकनीक काम आती है।
और फिर सर्चिंग या खोज शुरू होता है।
जब आप कोई शब्द (की वर्ड ) गूगल में टाइप करते हैं तो क्रॉलिंग से इंडेक्सिंग होती है फिर खोज।
कौन सा पेज गूगल सर्च इंजिन में पहले आता है वह की वर्ड्स (Key Word ) सिद्धांत अनुसार आता है।
  सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन का अर्थ होता है की आपके वेब साइट का प्रथम दूसरे पेज में आना। जब यदि कोई ग्राहक टूर के बारे में टाइप करता है तो टूर व्यापारी का उद्येस्य होता है की  वेब साइट गूगल/याहू आदि सर्चइंजिन  के प्रथम पेज में आये.
सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन के कुछ मूलभूत नियम -
१- विषय राजा है - विशिष्ठ व वे विषय जिन्हे आपके पाठक /ग्राहक अधिक चाहते हैं , उन विषयों का होना आवश्यक है
२- 'की वर्ड ऑप्टिमाइजेसन' का ध्यान अति आवश्यक है
३- हर पेज में मैटा डाटा होना चाहिए
४- आपके हर पेज का शीर्षक होना चाहिए और पेज के बारे में जानकारी होनी चाहिए
 ५-आपकी वेब साइट का लिंक सही व काम का होना चाहिए
६- सोसल साइट साइट से जुड़िये
७- बैक लिंक का ध्यान रखिये
८- फोकस याने अपने ग्राहकों की रूचि तक सीमित रहिये जिससे आपके विषयों को सर्च इंजिन क्राउलर  शीघ्र खोज सके
९- फोटो आदि सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन के नियमों के तहत डालिये
१०- पेड़ या पेड क्लिक जोड़िये
११- UCL Domain पर रहिये रहिये
१२- सर्च इंजिन सलाहकार की सहायता लीजिये
१३- हमेशा अपने वेब साइट  विश्लेषण करते रहिये



** आगे पढ़िए - की वर्ड्स की हैसियत



Copyright @ Bhishma Kukreti  30 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल

Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Search Engine Optimization is Essential for Tour Operators in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;


Bhishma Kukreti

  • Hero Member
  • *****
  • Posts: 18,355
  • Karma: +22/-1
                                         ऑनलाइन टूर व्यापार में कीवर्ड ऑप्टिमाइजेसन का महत्व

                            Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing

        (Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--97 ) 

                                                      उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 97   

 
                                               लेखक : भीष्म कुकरेती  (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

किसी भी ऑनलाइन व्यापार में कीवर्ड ऑप्टिमाइजेसन से  सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन की प्राप्ति होती है।
 कीवर्ड ऑप्टिमाइजेसन का अर्थ होता है उन शब्दों की खोज करना जिन्हे ग्राहक मुख्य रूप से गूगल सर्च /सर्च इंजिन में  सर्च /खोज करते हैं ; उन शब्दों का विश्लेषण करना और अपने वेब साइट में प्रयोग करना जिससे की वांछित सर्च इंजिन ऑप्टिमाइजेसन प्राप्त हो सके याने सर्च में अपनी वेब साइट सबसे प्रथम पृष्ठ या दूसरे पृष्ठ में आ सके।
 कीवर्ड ऑप्टिमाइजेसन कोई एक दिन का काम नही होता है अपितु ऑनलाइन व्यापार हेतु कर वक्त का कार्य है। हर समय ऑनलाइन व्यापारी को कीवर्ड के बारे में संवेदनशील होना आवश्यक है।
कीवर्ड की जानकारी व्यपारियों ही नही जो भी ऑनलाइन में पोस्ट करता है जैसे लेखिका या लेखक आदि उसे भी कीवर्ड  जानकारी होनी चाहिए.
कीवर्ड का हिंदी अनुवाद है शब्दों की चाभी याने वे चाभी सम्य शब्द जो  सर्च इंजिन या गूगल सर्च का ताला खोलते हैं. वास्तव में ये शब्द वे होते हैं जिन्हे ग्राहक अपनी सर्च /खोज करते समय गूगल सर्च /सर्च इंजिन में टाइप करते हैं.
जैसे कि यदि किसी यूरोप वासी को भारतवर्ष में यात्रा करनी है तो अवश्य वह गूगल सर्च /याहू सर्च आदि में Tour in India टाइप करेगा . तो ये दो शब्द विदेशी टूरिस्टों के हिसाब से की वर्ड हैं।
माना कि किसी भारतीय को सुहागरात मनाने किसी पहाड़ी स्थान पर जाना है तो वह Honeymoon hill station टाइप कर सकता है।  यदि अधिसंख्य ग्राहक Honeymoon hill stationटाइप करते हैं तो ये शब्द की वर्ड कहलाये जाएंगे।  स्थान , वर्ग व समय के हिसाब से प्रत्येक व्यापार या ब्लॉग के विशेष की वर्ड होंगे।   की वर्ड ग्राहक  सर्च के समय टाइप करते हैं और  तरह गूगल में इन की वर्ड के सहारे कई पेज खुल जाते हैं. प्रत्येक ऑनलाइन व्यापरी चाहता है कि उसका पेज प्रथम पेज पर खुले।  सर्च इंजिन के प्रथम पेज पर वेब साइट का आना ही सर्च इंजिन ऑप्टिमाजेसन है और इस प्रक्रिया में की वर्ड ऑप्टिमाइजेसन (वेब साइट के विषयों में ग्राहक द्वारा 'की वर्'ड का प्रयोग )  का बड़ा महत्व है।

                   SEO की वर्ड ऑप्टिमाइजेसन के लाभ

१- सही व विशिष्ठ की वर्ड ऑप्टिमाइजेसन या ग्राहकों द्वारा प्रयोग किये गए शब्दों को वेब साइट में लाने से आपके ग्राहक आप तक पंहुचते हैं।
उदाहरण- मेरे द्वारा शीर्षक में किये गए शब्द ग्राहक को मेरे लेख से जोड़ते हैं।  यदि कोई ग्राहक उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधनटाइप करेगा तो संभावना है कि मेरा यह लेख गूगल के प्रथम पेज में आ जाय।
 २-की वर्ड की जानकारी से आप अपने वेब साइट के विषय  में बदलाव कर सकते हैं जिससे कि ग्राहक आप तक पंहुच सकें।
३- की वर्ड की जानकारी से आप ग्राहकों के व्यवहार की मीमांसा कर पाते हैं।
                     की वर्ड की खोज
आपको अपने व्यापार में ग्राहकों द्वारा प्रयोग किये गए की वर्ड की खोज करनी आवश्यक है
आपको अपने प्रतिद्व्न्दी द्वारा प्रयुक्त की वर्ड की जानकारी होनी आवश्यक है
गूगल आदि सर्च इंजिन इस प्रकार की खोज करने में समर्थ हैं।

                   की वर्ड का प्रयोग
निम्न जगहों पर की वर्ड का प्रयोग आवश्यक है
शीर्षक
विवरण
हेडिंग , सब हेडिंग व विषय में
मैटा टैग में
फ़ाइल के नामों में
फिल्म , चित्रों में
 इन बॉन्ड -आउट बाउंड लिंकिंग पेजों में
URL में
           की वर्ड के गुण
रचनात्मक
आकर्षक
विशिष्ठ
लम्बे पूँछ वाले (विशेषकर शीर्षक )
पर्यायवाची शब्दों में
                    की वर्ड घनत्व याने एक पेज में कितने की वर्ड आवश्यक हैं ?
यद्यपि व्यापारियों के लिए की वर्ड घनत्व की जानकारी सलाहकारों से सही  तरह से मिल पायेगी फिर भी उन्हें कुछ ज्ञान आवश्यक है
किसी भी लेख या फ़ाइल में की वर्ड की गहनता आवश्यक है याने की वर्ड का बार बार दुहराव होना ।  सभी शब्दों में से 2  से 8  प्रतिशत की वर्ड या पर्यायवाची शब्द आवश्यक होते हैं।
अत्याधिक की वर्ड घातक भी होते हैं क्योंकि सर्च इंजिन इन्हे रोक देता है
की वर्ड शीर्षक व प्रथम पंक्तियों  में अधिक हों तो लाभकारी होते हैं।
पेड़ कलिक ब्यापार से अब की वर्ड  ऑप्टिमाइजेसन किया जाता है।  यही कारण है क़ि मेरे याने भीष्म कुकरेती के लेखों में Marketing of Travel, Tourism, Uttarakhand   का दुहराव है किन्तु मेरा लेख गूगल सर्च में प्रथम पेज पर इस की वर्ड प्रयोग से भी नही आता है क्योंकि travel व्यापारियों ने गूगल आदि से की वर्ड खरीद लिए हैं और कम से  चार पेज तक मेरे पेज नही खुलते हैं।   वैसे मेरा भी दोष है कि मुझे सही की वर्ड की जानकारी नही है।

एक उदाहरण की वर्ड समझने के लिए सरल है -
गढ़वाली पाठक गूगल में गढ़वाली कविता /Poetry टाइप नही करता या उसे कविता का लोभ नही है।  जब कि Folk Song टाइप करता है अतः गढ़वाली कवियों को अपने ब्लॉग में Garhwali Poetry and Folk Song को की वर्ड बनाकर प्रयोग करना चाहिए।

Copyright @ Bhishma Kukreti  31 /10//2014


Contact ID bckukreti@gmail.com

Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वार , गढ़वाल


Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and  Hospitality Industry Development  in Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Haridwar Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pauri Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Dehradun Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Tehri Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Chamoli Garhwal, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Nainital Kumaon, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Almora Kumaon, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Champawat Kumaon, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development  in Bageshwar Kumaon, Uttarakhand; Importance of Keyword Optimization in Tourism Online Marketing in Marketing of Travel, Tourism and Hospitality Industry Development in Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand;


 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22