Author Topic: Live Chat with 1st Women International Cricketer from Uttarakhand-Ekta Bist  (Read 10088 times)

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0

Live Chat With Ekta Bisht 12 Oct 12 at 3 pm - Directly from Almora
Dosto,

We are pleased to inform you that Ekta Bisht first Women International cricketer from Uttarakhand Soil is coming to have live chat with Merapahad Community Members on 12 Oct 12 directly from Almora. Detail is here

     Date  -   12 Oct 12

     Time    -  3 pm onwards.

     Live from - Almora

 

Ekta took Hat Trick in recently concluded International Women T20 Tournament.
 
More About Ekta Bisht

एकता बिष्ट ने अपनी मेहनत से भारतीय टीम की ओर से क्रिकेट खेलने का सपना साकार किया! अल्मोड़ा जैसे विषम भौगोलिक परिस्थिति वाले सीमांत जिले में किसी लड़की के लिए क्रिकेट खिलाड़ी बनने के बारे में सोचना आसान नहीं है. लेकिन अल्मोड़ा जिले के देवली गांव के खजांची मुहल्ले में रहने वाली 25 साल की एकता बिष्ट ने न केवल यह सपना देखा बल्कि इसे पूरा कर राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का नाम ऊंचा कर दिया. एकता अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेट खेलने वाली उत्तराखंड राज्‍य की पहली महिला खिलाड़ी बन चुकी हैं. 

एकता बिष्ट का संशिप्त परिचय

एकता बिष्ट ने अल्मोड़ा के खजांची मुहल्ले में अपने साथियों के साथ प्लास्टिक और रबर की गेंद से शुरुआत की और फिर अल्मोड़ा के छोटे से स्टेडियम में प्रैक्टिस करके देश की टीम में शामिल होने का सपना देखा। अल्मोड़ा में तमाम असुविधाओं के बीच यह मुकाम हासिल करना सरल नहीं था, लेकिन अपनी मेहनत और लगन के बल पर आखिरकार एकता ने यह संभव कर दिखाया और आखिरकार वह भारतीय महिला क्रिकेट टीम में बतौर लेग स्पिनर चुन ली गई हैं। एकता अल्मोड़ा जिले के ल्वाली गांव के मूल निवासी महेंद्र सिंह धौनी की तरह क्रिकेट में नाम कमाना चाहती है। खजांची मुहल्ला निवासी अल्मोड़ा निवासी पूर्व सैनिक कुंदन सिंह बिष्ट और तारा बिष्ट की पुत्री एकता बचपन में घर के पास हुक्का क्लब के आंगन में अपने साथियों के साथ शौकिया क्रिकेट खेला करती थी और तेज गेंद फेंका करती थी। 2002 में उन्होंने प्रैक्टिस के लिए अल्मोड़ा के छोटे से स्टेडियम जाना शुरू किया। एकता की लगन को देखते हुए कोच लियाकत अली ने उन्हें लेफ्ट आर्म स्पिन गेंद करने की  प्रैक्टिस करानी शुरू की।

 अल्मोड़ा ग्रेजुएट की पढ़ाई के दौरान ही वह विश्वविद्यालय की टीम में चयनित हो गई। 2002 से 2006 तक एकता ने उत्तराखंड की टीम में खेला। उसके बाद उत्तराखंड की महिला टीम नहीं बन पाने के कारण वह उप्र की टीम से खेलने लगी। 2005 में उनका चयन भारतीय जूनियर टीम के कैंप के लिए हुआ पर चोट लगने के कारण उसे वापस लौटना पड़ा। 2009 एकता के लिए काफी अच्छा रहा। नवंबर 2009 में उन्होंने उप्र की ओर से खेलते हुए विदर्भ के खिलाफ आठ ओवर में बगैर कोई रन दिए तीन विकेट लिए। विदर्भ के खिलाफ एक अन्य मैच में उन्होंने 13 रन देकर पांच विकेट लिए यह उनका अब तक का सबसे शानदार प्रदर्शन है। मध्य प्रदेश के खिलाफ भी एकता ने 10 ओवर में नौ रन देकर तीन विकेट लिए। 26 फरवरी 2010 को बंगलूरू में इंग्लैंड के खिलाफ बोर्ड एकादश की तरफ से खेलते हुए एकता ने 10 ओवर में 40 रन देकर एक विकेट लिया। प्रतियोगिताओं के आधार पर उनका चयन 2010 में महिला क्रिकेट टी20 विश्व कप के लिए संभावित 30 खिलाड़ियों में हुआ लेकिन तब वह अंतिम 15 खिलाड़ियों में स्थान नहीं पा सकी। इस बार उन्हें अंतिम 15 खिलाड़ियों में शामिल कर लिया गया है। एकता एक अच्छी फि ल्डर मानी जाती हैं जिससे उनकी संभावनाएं अच्छी मानी जा रही हैं। एकता अब तक भी अपने कोच लियाकत अली के निर्देशन में अल्मोड़ा स्टेडियम में ही प्रैक्टिस किया करती थी। जबकि यह फील्ड भी मानकों के मुताबिक छोटा है।

एकता का कहना है कि भारतीय टीम की ओर से खेलकर जीत दिलाना उनका सपना है इसके लिए वह जी तोड़ मेहनत करेंगी। वह महेंद्र सिंह धौनी की तरह नाम कमाना चाहती हैं। अपनी अब तक की सफलता का श्रेय वह कोच लियाकत अली और माता पिता को देती हैं (Amar Ujala)। More details about Ekta .. Go through this link.

http://www.merapahadforum.com/personalities-of-uttarakhand/ekta-bisht-1st-women-cricket-player-from-uttarakhnd-in-indian-team/


निश्चित रूप से एकता कई लडकियों के लिए एक रोल मॉडल बन चुकी है! आप इस लाइव चैट के माध्यम से एकता से अल्मोड़ा जैसे छोटे शहर से भारतीय महिला क्रिकेट टीम के हिस्सा बनाने का अनुभव पूछ सकते है और पहाड़ की इस चेली को भविष्य के लिए शुभकामनाये भी दे सकते है! तो १२ अक्टूबर दोपहर के तीन बजे इस लाइव चैट में भाग लीजिये! एकता अपने गृह जिला अल्मोड़ा से ऑनलाइन होंगी!


M S Mehta
MerapahadFourm.com

Mahi Mehta

  • Guest

First of all, many-2 congratulations to Ekta. I only come to through Merapahad site that you are basically from Almora. Indeed this is very big achievements, a girl coming of remote hills and becoming the part of National Women Cricket. Ekta you made entire Uttarakhand proud… God bless you pahaad ke cheli.. I saw your records, a very good spinner.. Best wishes for future !!


My question. 1- When did u start plying cricket and how has been journey so far ?



पंकज सिंह महर

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 7,401
  • Karma: +83/-0

पंकज सिंह महर

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 7,401
  • Karma: +83/-0


ekta bisht exclusive photo by mera pahad

पंकज सिंह महर

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 7,401
  • Karma: +83/-0

Anubhav / अनुभव उपाध्याय

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 2,865
  • Karma: +27/-0
Great work of Mera Pahad team to bring Uttarakhand celebrities close to fellow Uttarakhandi's.

Rajen

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 1,345
  • Karma: +26/-0
स्वागत है.  एकता को  उज्जवल  भविष्य  के  लिए  ढेरों शुभकामनाएं .


Live Chat With Ekta Bisht 12 Oct 12 at 3 pm - Directly from Almora
Dosto,

We are pleased to inform you that Ekta Bisht first Women International cricketer from Uttarakhand Soil is coming to have live chat with Merapahad Community Members on 12 Oct 12 directly from Almora. Detail is here

     Date  -   12 Oct 12

     Time    -  3 pm onwards.

     Live from - Almora

 

Ekta took Hat Trick in recently concluded International Women T20 Tournament.
 
More About Ekta Bisht

एकता बिष्ट ने अपनी मेहनत से भारतीय टीम की ओर से क्रिकेट खेलने का सपना साकार किया! अल्मोड़ा जैसे विषम भौगोलिक परिस्थिति वाले सीमांत जिले में किसी लड़की के लिए क्रिकेट खिलाड़ी बनने के बारे में सोचना आसान नहीं है. लेकिन अल्मोड़ा जिले के देवली गांव के खजांची मुहल्ले में रहने वाली 25 साल की एकता बिष्ट ने न केवल यह सपना देखा बल्कि इसे पूरा कर राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का नाम ऊंचा कर दिया. एकता अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेट खेलने वाली उत्तराखंड राज्‍य की पहली महिला खिलाड़ी बन चुकी हैं. 

एकता बिष्ट का संशिप्त परिचय

एकता बिष्ट ने अल्मोड़ा के खजांची मुहल्ले में अपने साथियों के साथ प्लास्टिक और रबर की गेंद से शुरुआत की और फिर अल्मोड़ा के छोटे से स्टेडियम में प्रैक्टिस करके देश की टीम में शामिल होने का सपना देखा। अल्मोड़ा में तमाम असुविधाओं के बीच यह मुकाम हासिल करना सरल नहीं था, लेकिन अपनी मेहनत और लगन के बल पर आखिरकार एकता ने यह संभव कर दिखाया और आखिरकार वह भारतीय महिला क्रिकेट टीम में बतौर लेग स्पिनर चुन ली गई हैं। एकता अल्मोड़ा जिले के ल्वाली गांव के मूल निवासी महेंद्र सिंह धौनी की तरह क्रिकेट में नाम कमाना चाहती है। खजांची मुहल्ला निवासी अल्मोड़ा निवासी पूर्व सैनिक कुंदन सिंह बिष्ट और तारा बिष्ट की पुत्री एकता बचपन में घर के पास हुक्का क्लब के आंगन में अपने साथियों के साथ शौकिया क्रिकेट खेला करती थी और तेज गेंद फेंका करती थी। 2002 में उन्होंने प्रैक्टिस के लिए अल्मोड़ा के छोटे से स्टेडियम जाना शुरू किया। एकता की लगन को देखते हुए कोच लियाकत अली ने उन्हें लेफ्ट आर्म स्पिन गेंद करने की  प्रैक्टिस करानी शुरू की।

 अल्मोड़ा ग्रेजुएट की पढ़ाई के दौरान ही वह विश्वविद्यालय की टीम में चयनित हो गई। 2002 से 2006 तक एकता ने उत्तराखंड की टीम में खेला। उसके बाद उत्तराखंड की महिला टीम नहीं बन पाने के कारण वह उप्र की टीम से खेलने लगी। 2005 में उनका चयन भारतीय जूनियर टीम के कैंप के लिए हुआ पर चोट लगने के कारण उसे वापस लौटना पड़ा। 2009 एकता के लिए काफी अच्छा रहा। नवंबर 2009 में उन्होंने उप्र की ओर से खेलते हुए विदर्भ के खिलाफ आठ ओवर में बगैर कोई रन दिए तीन विकेट लिए। विदर्भ के खिलाफ एक अन्य मैच में उन्होंने 13 रन देकर पांच विकेट लिए यह उनका अब तक का सबसे शानदार प्रदर्शन है। मध्य प्रदेश के खिलाफ भी एकता ने 10 ओवर में नौ रन देकर तीन विकेट लिए। 26 फरवरी 2010 को बंगलूरू में इंग्लैंड के खिलाफ बोर्ड एकादश की तरफ से खेलते हुए एकता ने 10 ओवर में 40 रन देकर एक विकेट लिया। प्रतियोगिताओं के आधार पर उनका चयन 2010 में महिला क्रिकेट टी20 विश्व कप के लिए संभावित 30 खिलाड़ियों में हुआ लेकिन तब वह अंतिम 15 खिलाड़ियों में स्थान नहीं पा सकी। इस बार उन्हें अंतिम 15 खिलाड़ियों में शामिल कर लिया गया है। एकता एक अच्छी फि ल्डर मानी जाती हैं जिससे उनकी संभावनाएं अच्छी मानी जा रही हैं। एकता अब तक भी अपने कोच लियाकत अली के निर्देशन में अल्मोड़ा स्टेडियम में ही प्रैक्टिस किया करती थी। जबकि यह फील्ड भी मानकों के मुताबिक छोटा है।

एकता का कहना है कि भारतीय टीम की ओर से खेलकर जीत दिलाना उनका सपना है इसके लिए वह जी तोड़ मेहनत करेंगी। वह महेंद्र सिंह धौनी की तरह नाम कमाना चाहती हैं। अपनी अब तक की सफलता का श्रेय वह कोच लियाकत अली और माता पिता को देती हैं (Amar Ujala)। More details about Ekta .. Go through this link.

http://www.merapahadforum.com/personalities-of-uttarakhand/ekta-bisht-1st-women-cricket-player-from-uttarakhnd-in-indian-team/


निश्चित रूप से एकता कई लडकियों के लिए एक रोल मॉडल बन चुकी है! आप इस लाइव चैट के माध्यम से एकता से अल्मोड़ा जैसे छोटे शहर से भारतीय महिला क्रिकेट टीम के हिस्सा बनाने का अनुभव पूछ सकते है और पहाड़ की इस चेली को भविष्य के लिए शुभकामनाये भी दे सकते है! तो १२ अक्टूबर दोपहर के तीन बजे इस लाइव चैट में भाग लीजिये! एकता अपने गृह जिला अल्मोड़ा से ऑनलाइन होंगी!


M S Mehta
MerapahadFourm.com


Hisalu

  • Administrator
  • Sr. Member
  • *****
  • Posts: 337
  • Karma: +2/-0
I will definitely b thr on friday for chat


Hello Ekta .. Bahut bahut vadhayee..

Maa Nanda bless u...

Who is your role model in Indian Cricket Team.?

एम.एस. मेहता /M S Mehta 9910532720

  • Core Team
  • Hero Member
  • *******
  • Posts: 40,912
  • Karma: +76/-0
दोस्तों..

अभी तक उत्तराखंड मूल के सम्बन्ध रखने वाले जितने जी अंतराष्टीय खिलाड़ी हुए है जैसे धोनी, उन्मुम्त चाँद, मीर रंजन नेगी, मनीष पाण्डेय, पवन नेगी आदि, उन्होंने अपनी पहचान अन्य राज्यों से रहकर बनाई पर एकता बिष्ट ने अल्मोड़ा में रहकर ही भारतीय महिला टीम का हिस्सा बनने का सफ़र पहाड़ से ही तय किया! यह एकता के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है!

एकता इन दिनों अपने गृह जिला अल्मोड़ा में ही है और अगले महीने होने वाली महिला एशिया कप की तैयारी कर रही है! एकता को मेरापहाड़ टीम और सपूर्ण उत्तराखंड की ओर  से बहुत-२ शुभकामनाये !

 

Sitemap 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22